काेर्ट ने 7 मिनट में 6 अाराेपियाें काे सुनाई अाजीवन कारावास की सजा

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:16 AM IST

Ranchi News - खूंटी काेर्ट ने 11 महीने बाद शुक्रवार को काेचांग गैंगरेप का फैसला सुनाया। दाेषी पाए गए सभी अाराेपियाें काे अदालत...

Khuti News - karen heard 6 arapies in 7 minutes sentenced to life imprisonment
खूंटी काेर्ट ने 11 महीने बाद शुक्रवार को काेचांग गैंगरेप का फैसला सुनाया। दाेषी पाए गए सभी अाराेपियाें काे अदालत ने महज सात मिनट में अाजवीन कारावास की सजा सुनाई गई। सजा सुनाने के बाद न्यायधीश राजेश कुमार ने पीड़िताओं को मुआवजा अाैर पुनरुत्थान के लिए मामले को डालसा हस्तांतरित किया। उन्होंने कहा कि सभी पीड़िताअाें को डालसा के माध्यम से मुआवजा व पुनरुत्थान की व्यवस्था की जाएगी। जुर्माने की राशि भी पीड़िताओं को देने की बात कही।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश राजेश कुमार की अदालत ने सभी अभियुक्तों को 7 मई को दोषी करार दिया था। कोर्ट ने 17 मई को सजा सुनाने की तिथि का ऐलान भी किया था। इसे देखते हुए शुक्रवार की सुबह से ही कोर्ट परिसर में गहमागहमी की स्थिति थी। पूरे कोर्ट परिसर को पुलिस छावनी में बदल दिया गया था। व्यवहार न्यायालय के सभी गेटो पर पुलिस का जबरदस्त पहरा था। एसडीपीओ आशीष कुमार महली समय-समय पर सुरक्षा की स्थिति का जायजा ले रहे थे। सभी अभियुक्तों को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच रस्सियों से घेरकर अदालत में पेश किया गया। फादर अल्फांसो आईंद, जॉन जुनास तिड़ू, बलराम समद, जुनास मुंडा, अयुब सांडी पूर्ति, बाजी समद उर्फ टकला के खिलाफ पीड़िताओ ने 21 जून 2018 को मामला दर्ज कराया था।

मामला दर्ज होने के 24 घंटे के भीतर ही अयूब सांडी पूर्ति अाैर आशीष लोंगा की गिरफ्तारी कर ली गई थी। मामले में सभी अभियुक्तों की गिरफ्तारी 15 दिन के भीतर कर ली गई थी। जिला एवं अपर सत्र न्यायालय में सुनवाई करते हुए 11 महीनों में सभी दोषियों को सजा शुक्रवार को सुनाई गई। सरकार की ओर से प्रभारी लोक अभियोजक सुशील जायसवाल ने दलीलें दी।

मामले का अनुसंधानकर्ता परमेश्वर प्रसाद थे। इस मामले में कुल 19 लोगों की गवाही हुई थी। अदालत के फैसले के बाद प्रभारी लोक अभियोजक सुशील कुमार जायसवाल ने पत्रकारों से कहा कि त्वरित न्याय अाैर सजा के निर्धारण के आधार पर यह कहा जा सकता है कि समाज में इस तरह के कुकर्मी लोगों का वर्चस्व रहता है। एेसी सजा से वे एक बार सोचने के लिए मजबूर हो जाता है कि इस तरह का अपराध ना तो किया जा सकता है और ना करना चाहिए। यही सजा अन्य अपराधियों काे सबक सिखाएगा की अपराध करने से पहले एक बार सजा के बारे में विचार करना चाहिए। प्रभारी लोक अभियोजक ने कहा कि वे फैसले से पूरी तरह संतुष्ट है। अपराधियों को जो सजा दी गई है, वह समाज के लिए एक उदाहरण है।

रस्सियों से घेरकर कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच आरोपियों को न्यायालय में प्रस्तुत करने ले जाती पुलिस।

जानें घटना के बारे में...

18 जून 2018 को आशा किरण सेल्टर होम की ओर से नुक्कड़ नाटक मंडली कोचांग स्कूल गई थी। उन्हें पलायन के मुद्दे पर जागरूकता कार्यक्रम चलाना था। कार्यक्रम शुरू होते ही दो बाइक पर सवार पांच अपराधी आए अाैर नाटक मंडली में शामिल पांच महिला सदस्यों समेत आठ लोगों का अपहरण जंगल ले गए। इसी दौरान महिला सदस्यों के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया। उसकी वीडियो भी बनाई गई। दो दिन बाद सूचना पुलिस तक पहुंची। पुलिस वहां जाकर पूछताछ की, तब खुलासा हुआ कि जिस वक्त अपराधी उसके स्कूल पहुंचे थे, तब फादर अल्फोंस आईंद ने सिर्फ अपनी सिस्टर को बचाने का प्रयास किया था। अन्य लोगों की उन्हे चिंता नहीं थी। इतनी बड़ी घटना के बाद फादर अल्फांसो ने पुलिस को सूचना देना जरूरी नहीं समझा। नाटक मंडली में शामिल लड़कियों को भी घटना की जानकारी किसी को नही देने की हिदायत दी थी। मामले काे लेकर उसके खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई। उन्हें पीआर बॉड पर छोड़ दिया गया था, लेकिन अगले ही दिन पुलिस ने गिरफ्तार जेल भेज दिया। तब से वे जेल में थे। इधर, 14 मार्च 2019 को हाईकोर्ट ने उन्हें सशर्त जमानत दी थी। सात मई को सुनवाई के क्रम में उन्हें खूंटी न्यायालय ने दोषी करार देते हुए जेल भेज दिया। पांच अभियुक्त पहले से ही जेल में थे। काेर्ट ने सभी छह अभियुक्तों के खिलाफ सजा सुनाई।

अाज मिला पीड़िताअाें काे इंसाफ : लक्ष्मी बाखला

कोचांग सामूहिक गैंगरेप मामले में न्यायालय द्वारा सभी आरोपियों को आजीवन कारावास सुनाए जाने पर सामाजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी बाखला ने कहा कि आज पीड़िताओं को न्याय मिला है। पहले सभी पीड़िताओं को लगता था कि केस करने से कोई फायदा नही मिलेगा, पर न्याय मिलने से सभी पीड़िताओं का मनोबल बढ़है। उन्होंने कहा कि न्याय से कोर्ट एवं पुलिस के प्रति लोगों मे आस्था बड़ा है। उन्होने न्यायालय में लंबित मामलों की भी जल्द सुनवाई की मांग की है।

X
Khuti News - karen heard 6 arapies in 7 minutes sentenced to life imprisonment
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543