अपराध / पांच लाख की सुपारी देकर कराई गई थी युवक की हत्या, दूसरे दिन ही हत्याकांड का खुलासा



प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते एसडीपीओ व बरामद हथियार के साथ पीछे खड़ा आरोपी। प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते एसडीपीओ व बरामद हथियार के साथ पीछे खड़ा आरोपी।
X
प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते एसडीपीओ व बरामद हथियार के साथ पीछे खड़ा आरोपी।प्रेसवार्ता के दौरान जानकारी देते एसडीपीओ व बरामद हथियार के साथ पीछे खड़ा आरोपी।

  • नामजद अभियुक्त को किया गिरफ्तार, हत्या के प्रयोग की गई हथियार के अलावा मोटरसाइिकल बरामद

Dainik Bhaskar

Jun 07, 2019, 07:22 PM IST

कोडरमा. कोडरमा पुलिस ने पुरनागर निवासी रवि प्रकाश उर्फ छोटू सोनी की हत्या मामले का 24 घंटे में उद्भेदन करते हुए कांड के नामजद आरोपी जमाल अंसारी को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं हत्याकांड में प्रयोग किये गये पिस्टल व अन्य हथियार सहित प्लसर मोटरसाईिकल भी बरामद कर लिया है। इस बावत शुक्रवार को आयोजित प्रेसवार्ता में एसडीपीओ राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि छोटू सोनी की हत्या जमीन विवाद को लेकर जमाल अंसारी द्वारा भाड़े के अपराधियों को सुपारी देकर कराई गई थी। हत्याकांड में शामिल अपराधियों की भी शिनाख्त कर ली गई। जिसमें रौशन पांडेय, शेखर विश्वकर्मा (झुमरी तिलैया के विद्यापुरी )व शाहीद खान उर्फ प्रिंस(असनाबाद ) के नाम शामिल है। जो की अभी फरार है। उन्हें पकड़े के लिये छापेमारी की जारी है। 

 

अपराधियों ने स्वीकारा जुर्म
जमीन विवाद के एसडीपीओ प्रसाद ने बताया कि छोटू सोनी के भाई सुनिल सोनी द्वारा जमीन विवाद के कारण पांडेयडीह निवासी जमाल अंसारी व दो अन्य अज्ञात अपराधियों द्वारा गोली मारकर उनके भाई की हत्या कर देने का मामला दर्ज कराया गया था। एसपी एम तमिल वाणन के निर्देश पर पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी रामनारायण ठाकुर के नेतृत्व में टीम गठित की गई। उस टीम में तकनीकी शाखा में प्रतिनियुक्त पुलिस अवर निरीक्षक, सहायक अवर निरीक्षक, हवलदार व सशस्त्र बल के जवान शामिल किए गए थे। टीम द्वारा त्वरित कार्रवाई करते हुए 7 जून को होली फैमिली के पास से नामजद आरोपी जमाल अंसारी को गिरफ्तार कर लिया। जमाल ने कांड में अपनी संलिप्ता स्वीकार करते हुए पुलिस को हत्या में शामिल अन्य अपराधियों के नाम भी बताये। उन्होंने पुलिस को बताया कि जमीनी विवाद को लेकर मृत जयप्रकाश सोनी उर्फ छोटू सोनी के द्वारा अक्सर उसे जान मारने की धमकी दिया जा रहा था। थाना प्रभारी रामनारायण ठाकुर भी उपस्थित थे। 

 

कांड में प्रयोग किये गये पिस्टल सहित दो देशी कट्टा व गोली बरामद 
कांड में गिरफ्तार नामजद आरोपी जमाल अंसारी के स्वीकारोक्ति बयान के आधार पर हत्या में प्रयुक्त 07.65 का देशी पिस्टल और 7.65 का दो पीस जिंदा गोली, एक जिंदा मैग्जीन के अंदर और 6 खोका के अलावा 3.15 का एक देशी कट्टा व 3.15 का पांच जिंदा गोली को राैशन पांडेय विद्यापुरी के घर के बगल के झाड़ियों से बरामद किया। एसडीपीओ ने बताया कि कांड में शामिल शेखर विश्वकर्मा, रौशन पांडेय व शाहीद खान के अलावा अन्य की गिरफ्तारी के लिए तकनीकी शाखा के सहयेाग से प्रयास किया जा रहा है।

 

शाहीद खान ने मारी थी गोली 
हत्या के नामजद अभियुक्त जमाल के अनुसार छोटू सोनी को अपराधाी शाहीद खान ने गोली मारी थी। उसने बताया कि हत्या के दिन सबसे पहले उसके द्वारा रात में तीनो अपराधियों को कार से पुरनाडीह स्थित अपने घर ले जाकर पूरे लोकेशन की जानकारी दी। तत्पश्चात तीनों को तिलैया के पास लाकर छोड़ दिया गया। इसके बाद तीनों अपराधी रौशन पांडेय के मोटरसाइिकल से हत्या कांड को अंजाम देने दोबारा उसके घर गये। इस दौरान जमाल तिलैया में ही रूका रहा। हत्या के बाद तीनों अपराधी तिलैया आकर जमाल से भेंट कर रौशन पांडेय के घर के पास हथियार छुपाकर फरार हो गये। 

 

पांच लाख की दी गई थी सुपारी 
एसडीपीओ प्रसाद के अनुसार छोटू सोनी की हत्या के लिये जमाल अंसारी द्वारा अपराधियों को पांच लाख की सुपारी दी गई थी। वहीं 20 हजार रूपये एडवांस के तौर पर दिये गये थे। यह राशि मृतक के चाचा द्वारा जमाल को उपलब्ध कराये गये थे। एसडीपीओ ने बताया कि तीनों अपराधी पेशेवर है। इसके पूर्व भी सभी अपराधी विभिन्न कांडो में जेल जा चुके है। गिरफ्तार किये गये जमाल अंसारी के अनुसार छोटू सोनी द्वारा दी जा रही घमकी के अलावा जमीनी विवाद को लेकर चार जून को हुई बैठक में दो लाख रूपये मृतक को दिये जाने के निर्णय में असमर्थता को लेकर उसके द्वारा इन अपराधियों से संपर्क कर हत्या की साजिश को अंजाम दिया गया। 

 

मृतक के चाचा ने जमाल को जमीन का दे रखा पावर ऑफ अॉटर्नी 
एसडीपीओ ने बताया कि मृतक के चाचा शिव प्रसाद सोनी ने बरसोतियाबर स्थित पुस्तैनी जमीन का गलत तरिके से अपने नाम से कागजात तैयार करवा लिये थे। वहीं जमीन को बेचने के लिये उसके द्वारा जमाल अंसारी को पावर ऑफ ऑटरनी दी गई। थी इसे लेकर ही मृतक के साथ जमाल का विवाद चला आ रहा था। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना