सम्मान / अंग्रेजों का खजाना लूटनेवाले स्वतंत्रता सेनानी अकल सिंह के नाम से जाना जाएगा काेडरमा का सरकारी स्कूल

कोटरमा का स्कूल व इंसेट में स्वतंत्रता सेनानी अकल सिंह का फाइल फोटो। कोटरमा का स्कूल व इंसेट में स्वतंत्रता सेनानी अकल सिंह का फाइल फोटो।
X
कोटरमा का स्कूल व इंसेट में स्वतंत्रता सेनानी अकल सिंह का फाइल फोटो।कोटरमा का स्कूल व इंसेट में स्वतंत्रता सेनानी अकल सिंह का फाइल फोटो।

  • सरकार ने राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय गुमो का नामकरण स्वतंत्रता सेनानी पर किया
  • 1942 में तिलैया स्टेशन पर की थी ताेड़फाेड़, आजादी की लड़ाई के लिए लूटा था अंग्रेजी हुकूमत का खजाना

दैनिक भास्कर

Aug 30, 2019, 05:01 AM IST

कोडरमा. काेडरमा में नगर पर्षद क्षेत्र वार्ड 20 स्थित राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय गुमो अब स्वतंत्रता सेनानी अकल सिंह के नाम से जाना जाएगा। गुरुवार को आयोजित समारोह के शिक्षा मंत्री डाॅ. नीरा यादव ने स्कूल का नामकरण किया। दैनिक भास्कर की पहल पर स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मान देने के मुद्दे पर 21 अगस्त काे मुख्यमंत्री रघुवर दास ने स्कूलाें का नाम स्वाधीनता सेनानियाें के नाम करने की घाेषणा की थी। इसके बाद यह कदम उठाया गया।

 

मुख्यमंत्री की घाेषणा के बाद राज्य में यह पहला स्कूल है, जिसका नामाकरण स्वतंत्रता सेनानी के नाम पर किया गया। माैके पर अकल सिंह के दोनों पुत्र दामोदर सिंह व केदार सिंह मौजूद थे। समाराेह काे संबाेधित करते हुए शिक्षा मंत्री डाॅ. नीरा यादव ने कहा कि स्वतंत्रता सेनानी अकल सिंह के सम्मान में स्कूल का नाम बदला गया है। इसी तरह से अन्य जिलों में भी स्वतंत्रता सेनानियों को सम्मान दिया जाएगा।

 

दैनिक भास्कर की पहल को पहला मुकाम

शिक्षा मंत्री ने कहा कि स्वतंत्रता सेनानी अकल सिंह ने अपना सब कुछ गंवा कर देश को आजादी दिलाने में जो भूमिका अदा की, वह सदैव याद रखा जाएगा। उनसे आनेवाली पीढ़ी को देशभक्ति की प्रेरणा मिलती रहेगी। हमारी सरकार आजादी के दीवानों को हर सम्मान देने में लगी है।

 

1942 में तिलैया स्टेशन पर की थी ताेड़फाेड़

काेडरमा गुमाे के स्वतंत्रता सेनानी अकल सिंह ने आजादी के आंदोलन में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया था। भारत छोड़ो आंदोलन के दौरान उन्हाेंने 15 अगस्त 1942 काे 20 हजार समर्थकों के साथ अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ प्रदर्शन किया था। वे जुलूस लेकर झुमरी तिलैया रेलवे फाटक पहुंचे थे और स्टेशन का तार कटवा डाला था। उन्हाेंने झुमरी तिलैया स्थित डाकघर का खजाना लूटकर वहां तोड़-फोड़ करवाया था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना