चारा घोटाला / डोरंडा ट्रेजरी से 139 करोड़ की अवैध निकासी मामले में सीबीआई कोर्ट में पेश हुए लालू, वकील बोले- फैसला आने में 2-2.5 महीने लगेंगे

लालू प्रसाद यादव को कड़ी सुरक्षा के बीच रिम्स से सीबीआई कोर्ट ले जाया गया। लालू प्रसाद यादव को कड़ी सुरक्षा के बीच रिम्स से सीबीआई कोर्ट ले जाया गया।
लालू यादव इस समय रांची के रिम्स हॉस्पिटल में इलाज करा रहे हैं। लालू यादव इस समय रांची के रिम्स हॉस्पिटल में इलाज करा रहे हैं।
X
लालू प्रसाद यादव को कड़ी सुरक्षा के बीच रिम्स से सीबीआई कोर्ट ले जाया गया।लालू प्रसाद यादव को कड़ी सुरक्षा के बीच रिम्स से सीबीआई कोर्ट ले जाया गया।
लालू यादव इस समय रांची के रिम्स हॉस्पिटल में इलाज करा रहे हैं।लालू यादव इस समय रांची के रिम्स हॉस्पिटल में इलाज करा रहे हैं।

  • चारा घाेटाले से जुड़े 6 मामले हैं, जिसमें 4 में लालू को सजा हो चुकी है जबकि दो केस में सुनवाई चल रही है
  • डोरंडा ट्रेजरी से 139 करोड़ रुपए की अवैध निकासी मामले में सीबीआई ने 111 को आरोपी बनाया है

Dainik Bhaskar

Jan 16, 2020, 02:44 PM IST

रांची. चारा घोटाला से जुड़े एक मामले में गुरुवार को लालू प्रसाद यादव को रांची में सीबीआई कोर्ट में पेश किया गया। यह डोरंडा ट्रेजरी से 139 करोड़ रुपए की अवैध निकासी का मामला है। इस केस में सीबीआई ने 111 लोगों को आरोपी बनाया है। जिसमें 107 के बयान दर्ज हो चुके हैं। लालू चारा घोटाले से जुड़े 4 मामलों में सजायाफ्ता हैं और रांची जेल में बंद हैं। फिलहाल, रांची के रिम्स हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा है। वहीं, लालू यादव के वकील प्रभात कुमार के अनुसार, अंतिम फैसला सुनाए जाने में 2-2.5 महीने लग सकते हैं।

सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एसके शशि की कोर्ट ने आज (16 जनवरी) को डोरंडा कोषागार के केस 47ए/96 लालू को पेश करने का आदेश दिया था। कोर्ट में आज लालू के बयान दर्ज किया गया। इस दौरान कोर्ट ने उनसे 34 सवाल पूछे। चारा घोटाले से जुड़े 6 मामलों में से 4 में लालू को सजा हो चुकी है। जबकि डोरंडा और भागलपुर कोषागार मामले में कोर्ट में सुनवाई चल रही है। डोरंडा मामले में सीबीआई कोर्ट रांची और भागलपुर मामले में पटना स्थित सीबीआई कोर्ट में मामला विचाराधीन है।

लालू यादव के वकील प्रभात कुमार ने कहा: "आज की सुनवाई दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 313 के मामले के बारे में है, जो लालू यादव के खिलाफ दर्ज है। ऐसे मामले में, न्यायाधीश और अभियुक्त सीधे, और अदालत में अभियुक्त की उपस्थिति अनिवार्य है। रांची में डोरंडा कोषागार से 139 करोड़ रुपये की कथित धोखाधड़ी के एक मामले के संबंध में सुनवाई हुई। "अन्य मामलों का कार्यकाल छोटा था, 6 महीने या एक वर्ष तक। हालांकि, यह मामला 1990 से 1995 तक रहा, जो एक लंबा कार्यकाल है।" कुमार ने यह भी कहा कि 2002 में दायर एक चार्जशीट के अनुसार, कुल 180 अभियुक्तों के नाम थे। वर्षों के बाद, अभियुक्तों की संख्या घटकर 111 हो गई है। लगभग सभी को सीआरपीसी की धारा 313 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

चारा घोटाले के 6 मामलों में से 4 में हो चुकी है लालू को सजा

  • चाईबासा ट्रेजरी का पहला केस : 30 सितंबर 2013 को कोर्ट ने लालू यादव को दोषी माना। 5 साल जेल की सजा हुई। 25 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया गया। इस मामले में लालू को जमानत मिल चुकी है।
  • देवघर ट्रेजरी केस : 23 दिसम्बर 2017 को दोषी करार। 6 जनवरी 2018 को लालू समेत 16 आरोपियों को साढ़े 3 साल जेल की सजा सुनाई गई। लालू पर 10 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया गया।
  • चाईबासा ट्रेजरी का दूसरा केस : 24 जनवरी 2018 को लालू दोषी करार। इसी दिन उन्हें 5 साल की सजा सुनाई गई। 10 लाख रुपए जुर्माना।
  • दुमका ट्रेजरी केस: मार्च 2018 में लालू यादव को दोषी माना गया। पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र बरी हुए। 24 मार्च को लालू को 7-7 साल की सजा सुनाई गई। दोनों सजाएं अलग-अलग चलेंगी। यानी कुल 14 साल। लालू पर 60 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया गया। इन तीनों मामलों में लालू सजा काट रहे हैं।

इन 2 केस में चल रही सुनवाई

  • डोरंडा ट्रेजरी केस: इस केस की सुनवाई भी रांची में चल रही है।
  • भागलपुर ट्रेजरी केस: इसकी सुनवाई पटना की सीबीआई कोर्ट में चल रही है।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना