लातेहार / 7 बच्चों की मौत होने के मामले को मुख्यमंत्री ने संज्ञान में लिया, जांच के दिए निर्देश

रविवार को स्वास्थ विभाग की टीम गांव पहुंची और मामले की जांच की। रविवार को स्वास्थ विभाग की टीम गांव पहुंची और मामले की जांच की।
X
रविवार को स्वास्थ विभाग की टीम गांव पहुंची और मामले की जांच की।रविवार को स्वास्थ विभाग की टीम गांव पहुंची और मामले की जांच की।

  • नवंबर 2019 से अब तक गांव में 5 वर्ष से कम उम्र के 7 बच्चों की मौत अज्ञात बीमारी से हो गई है
  • इस मामले में सिविल सर्जन ने गांव की सहिया और एएनएम से 24 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण मांगा

दैनिक भास्कर

Feb 16, 2020, 05:09 PM IST

लातेहार. हेरहंज प्रखंड के सेरनदाग पंचायत में तीन माह के भीतर सात मासूम बच्चों की अज्ञात बीमारी से मौत हो चुकी है। इसकी खबर मीडिया में आने के बाद रविवार को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मामले पर संज्ञान लिया। ट्वीट के माघ्यम से डीसी लातेहार को मामले की जांच कर उचित कार्रवाई का निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्वीट के माध्यम से लातेहार डीसी को कहा है कि 'स्पेशल टीम बना, ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए त्वरित कार्रवाई कर सूचित करें। अगर कुछ और मदद की जरूरत हो तो भी सूचित करें।'

बताते चलें कि सिविल सर्जन डॉ. एसपी शर्मा मेडिकल टीम के साथ शनिवार को प्रभावित गांव पहुंचे थे और पीड़ित परिवारों से मुलाकात कर पूरे मामले की जानकारी ली। इस दौरान डॉ. अशोक ओड़िया ने गांव के 21 बच्चों के स्वास्थ्य की जांच की। तीन बच्चों का ब्लड सैंपल लिया गया। विभाग की ओर से बताया गया कि मौत के कारणों को जानने के लिए तीन बच्चों के ब्लड सैंपल जांच के लिए रिम्स रांची भेजा जाएगा।

मामलू हो कि नवंबर 2019 से अबतक गांव में पांच वर्ष से कम उम्र के सात बच्चों की मौत अज्ञात बीमारी से हो गई है। सिविल सर्जन डॉ. एसपी शर्मा ने बताया कि स्थानीय स्तर पर किए गए जांच से बीमारी के कारणों का पता नहीं चल पा रहा है। इस बारे में स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिखकर स्थिति से अवगत कराया जाएगा।

एएनएम और सहिया से मांगा स्पष्टीकरण
गांव में तीन माह में सात मासूम बच्चों के मौत मामले को गंभीरता से लेते हुए सिविल सर्जन ने गांव की सहिया अनिता देवी और एएनएम अरुना टोप्पो से 24 घंटे के अंदर स्पष्टीकरण की मांग की है। ग्रामीणों का आरोप है कि सहिया को जानकारी देने के बाद भी स्वास्थ विभाग के वरीय अधिकारियों तक इसकी सूचना नहीं दी गई। महिलाओं ने सहिया पर किसी भी स्थिति में सहयोग नहीं करने का भी आरोप लगाया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना