Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» कल्याण कार्यशाला में किसानों की उपस्थिति बहुत कम

कल्याण कार्यशाला में किसानों की उपस्थिति बहुत कम

केरेडारी सभागार में कृषि विभाग द्वारा आयोजित किसान कल्याण कार्यशाला में जहां एक ओर किसानों की उपस्थिति नगण्य थी...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 03, 2018, 02:00 AM IST

कल्याण कार्यशाला में किसानों की उपस्थिति बहुत कम
केरेडारी सभागार में कृषि विभाग द्वारा आयोजित किसान कल्याण कार्यशाला में जहां एक ओर किसानों की उपस्थिति नगण्य थी वहीं गव्य विकास और सहकारिता विभाग से एक भी पदाधिकारी उपस्थित नहीं रहने पर प्रमुख नीतू कुमारी और सांसद प्रतिनिधि बड़कागांव विस बालेश्वर कुमार ने आत्मा के पदाधिकारियों पर खाना पूर्ति करने का आरोप लगाया।

वहीं साधारण तरीके से कार्यशाला भी हुआ। कार्यशाला की अध्यक्षता सीओ सह बीडीओ मां देव प्रिया ने किया जबकि संचालन बीटीएम शंभू प्रसाद ने किया। कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य किसानों की आय दुगुनी कैसे हो था। कार्यशाला में बेहतर उपलब्धि हासिल करने वाले दो किसान लोचर के सुखदेव महतो और गर्रीकला के मोहन महतो को सम्मानित किया गया। इस पर प्रमुख नीतू कुमारी ने कहा कि यहां के किसान जानकारी के अभाव में कृषि के क्षेत्र में अपनी आय दोगुनी नहीं कर पाते। जिप सदस्य अनिता सिंह ने कहा कि सरकार की कोई भी कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी पताल, बुंडू और निरी जैसे सुदूर क्षेत्र के किसानों को नहीं हो पाता है, जबकि यहां की महिलाओं को पशु पालन व बकरी पालन का लाभ देकर स्वावलंबी बनाया जा सकता है। ऐसे क्षेत्रों में इस तरह का कार्यशाला होना चाहिए। सीओ सह बीडीओ मां देव प्रिया ने कहा कि इस तरह के कार्यशाला से किसानों को लाभ लेना चाहिए। इन्होंने भी कम भीड़ देख आत्मा की तैयारी में कमी होने का आरोप लगाया। सांसद प्रतिनिधि बालेश्वर कुमार ने कार्यशाला का मतलब बताया लेकिन कहा इस कार्यशाला में ना कोई कृषि वैज्ञानिक है और ना ही सुनने के लिए किसान, फिर इस कार्यशाला का मतलब ही समझ मे नहीं आ रहा है। केरेडारी मुखिया तापेश्वर साहू ने गव्य विकास पर किसानों के पैसे सरकार को वापस करने का आरोप लगाया।

कहा वे कभी गांव नहीं आते, जिला मुख्यालय में बैठ कर अपनी मर्जी चलाते है। कार्यशाला में अकेले बादम बड़कागांव से आए भ्रमणशील पशु चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. विनय कुमार ने तकनीकी सत्र में कहा किसान अगर जागरूक होंगे तो उनका पशुधन सुरक्षित रहेगा और वे अपना आय दोगुनी कर सकते है।

जनप्रतिनिधियों ने लगाया खानापूर्ति का आरोप, फिर भी हुई कार्यशाला

किसान कल्याण कार्यशाला में शामिल प्रमुख, सीओ व अन्य।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×