• Home
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • मेंटल हेल्थ को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करना अत्यावश्यक सामान्य और असामान्य व्यवहार के बीच बहुत कम अंतर होता है
--Advertisement--

मेंटल हेल्थ को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करना अत्यावश्यक सामान्य और असामान्य व्यवहार के बीच बहुत कम अंतर होता है

स्कूल-काॅलेज के पाठ्यक्रम में मेंटल हेल्थ को शामिल करना बेहद जरूरी है। यह बात ज्यूडिशियल एकेडमी के निदेशक सह...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:15 AM IST
स्कूल-काॅलेज के पाठ्यक्रम में मेंटल हेल्थ को शामिल करना बेहद जरूरी है। यह बात ज्यूडिशियल एकेडमी के निदेशक सह नेशनल लाॅ यूनिवर्सिटी के प्रभारी वीसी गौतम चौधरी ने कही। वे गुरुवार को केंद्रीय मन:चिकित्सा संस्थान (सीआईपी) के 101वें स्थापना दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि 10 फीसदी आबादी का मानसिक रोगों से ग्रस्त होना बेहद चिंताजनक है। सामान्य और असामान्य व्यवहार के बीच बहुत कम अंतर है। प्रत्येक जिले में कम से कम एक मनोचिकित्सक एवं मनोवैज्ञानिक होना बेहद जरूरी है। जल्द शुरू होंगे न्यूरोलाॅजिकल साइंस व न्यूरोसर्जरी विभाग : सीआईपी निदेशक डाॅ. डी राम ने कहा कि जल्द संस्थान में न्यूरोलाॅजिकल साइंस एवं न्यूरोसर्जरी के विभाग भी होंगे। साथ ही ओपन वार्ड का भी प्रस्ताव एडवांस स्टेज में है। सीआईपी देश का पहला मानसिक संस्थान है, जहां थ्री टेसेला एफएमआरआई मशीन लग गई है। उन्होंने कहा कि 2023 तक डिप्रेशन मौत का दूसरा सबसे काॅमन कारण होगा। आज मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल्स की कमी के कारण ट्रीटमेंट गैप 70 फीसदी है। इसलिए दो-दो हजार यूजी स्टूडेंट क्लिनिकल साइकोलॉजी एवं पीएसडब्ल्यू तथा नर्सों को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है।

मुख्य अतिथि गौतम चौधरी ने सीआईपी पर बनी मूवी ए सेंचुरी आॅफ अनटोल्ड स्टोरी का ट्रेलर रिलीज किया। इसमें संस्थान के अनछुए पहलुओं की जानकारी को संग्रहित की गई है।

रिनपास समारोह

सीआईपी का 101 वां स्थापना दिवस मना, ज्यूडिशियल एकेडमी के निदेशक सह लाॅ यूनिवर्सिटी के प्रभारी वीसी बोेले-

डॉक्टरों व कर्मियों को ज्यूडिशियल एकेडमी के निदेशक ने पुरस्कृत किया।

डाॅ. निशांत को मिला बेस्ट एसआर का पुरस्कार

मौके पर संस्थान के डाॅ. निशांत विभाष को बेस्ट सीनियर रेजीडेंट डाॅक्टर, डाॅ. वेद प्रशांत को बेस्ट जूनियर रेजीडेंट, रंजना को बेस्ट ओटी स्टाॅफ व असीमा मिश्रा को बेस्ट स्टूडेंट का पुरस्कार दिया गया। बेस्ट नर्सिंग स्टॉफ मीरावती एक्का, पीयून सत्येंद्र, मजदूर नंजू तिर्की, फिमेल अटेंडेंट सिसिलिया, सफाईवाला राजकुमार को भी पुरस्कृत किया गया। बेस्ट वार्ड का पुरस्कार र्बकले हिल को मिला।