--Advertisement--

समस्याओं को लेकर आंदोलन करने का निर्णय

खलारी | झारखंड विस्थापित प्रभावित संघर्ष मोर्चा की बैठक रंथु उरांव की अध्यक्षता में हुई। मई में विस्थापित...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:15 AM IST
खलारी | झारखंड विस्थापित प्रभावित संघर्ष मोर्चा की बैठक रंथु उरांव की अध्यक्षता में हुई। मई में विस्थापित प्रभावित की समस्याओं को लेकर चरणबद्ध आंदोलन करने का निर्णय लिया गया। प्रथम चरण में एनके एरिया महाप्रबंधक कार्यालय के समक्ष धरना-प्रदर्शन से शुरू किया जाएगा। बैठक के दौरान विस्थापितों ने कहा कि मोर्चा द्वारा पूर्व में एनके प्रबंधन को जो 28 सूत्री मांग पत्र दिया गया था उन मांगों में से एक भी मांग पर प्रबंधन ने कोई भी सकारात्मक कार्रवाई नहीं किया। पूर्व में प्रबंधन ने मांगों पर सकारात्मक कार्रवाई करने का आश्वासन भी मोर्चा को दिया। विस्थापितों ने कहा कि कोयला उत्पादन की लक्ष्य प्राप्ति में सीसीएल प्रबंधन पर विस्थापितों का अहम योगदान रहता है, लेकिन जब विस्थापितों की समस्याओं के समाधान की बारी आती है, तो प्रबंधन द्वारा विस्थापितों की उपेक्षा की जाती है। मौके पर जिप सदस्य रतिया गंझू, बिगन सिंह भोगता, बहुरा मुंडा, नरेश गंझू, महेंद्र उरांव, सुरेश उरांव, प्रदीप उरांव, मुनेश्वर गंझू, अमृत भोगता, रमेश्वर भोगता, किसुन मुंडा, पंकज मुंडा, बालेश्वर उरांव, दशरथ तुरी, शत्रुधन मुंडा, राजेंद्र गंझू, रमेश मुंडा सहित अन्य उपस्थित थे।