--Advertisement--

तपिश बढ़ी, आैरंगा सहित कई नदियां सूखी

News - लातेहार में सूरज की बढ़ती तपिश से धरती जलने लगी है। जिले का पारा 40 पार चला गया है। हालांकि, कभी-कभार मौसम के बदलते...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 03:20 AM IST
तपिश बढ़ी, आैरंगा सहित कई नदियां सूखी
लातेहार में सूरज की बढ़ती तपिश से धरती जलने लगी है। जिले का पारा 40 पार चला गया है। हालांकि, कभी-कभार मौसम के बदलते मिजाज से लोगों को गर्मी से राहत भी मिल रही है। सोमवार को जिले का तापमान 41 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। लू के थपेड़े से लोग परेशान होने लगे हैं। जिले की लाइफलाइन मानी जानेवाली औरंगा समेत कई नदियां व कई ताल-तलैया भी सूख चुके हैं। जगह-जगह पर लगे चापाकल भी हांफने लगे हैं। ऐसे में मनुष्य व जीव-जंतुओं के समक्ष घोर पेयजल समस्या उत्पन्न हो गई है।

कुआं व चापाकल का जलस्तर लगातार नीचे गिरता जा रहा है, जिससे पानी की तलाश में पशुधन भी बेहाल हैं। पशुपालक इस बात को लेकर चिंतित हैं। इधर, जिला मुख्यालय में पूर्वाह्न 10 बजे के बाद से सूरज आग उगलने लग रहा है। दोपहर 12 बजते ही सड़कों पर लोगों की आवाजाही कम हो जा रही है। ग्राहकों के नहीं आने से दुकानदारों की दुकानदारी भी प्रभावित हो रही है। गर्मी का आलम यह है कि जिले में कई स्थानों पर चापाकल मरम्मति के अभाव में खराब पड़े हैं। जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के लोग दूर-दराज से पानी ढोकर ला रहे हैं। बदहाल ग्रामीण चुआंड़ी खोदकर नदी से पानी ला रहे हैं। गौरतलब हो कि इस भीषण से लोगों को पेयजल समस्या से दो-चार न होना पड़े, इसके लिए जिले के उपायुक्त राजीव कुमार ने पिछले दिनों बैठक कर संबंधित अधिकारियों को शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल सेवा दुरुस्त कराने का निर्देश दिया है। बहरहाल, जिले में आनेवाले समय में पेयजल संकट और विकराल रूप न धारण करे, इसके लिए शासन व प्रशासन को पुख्ता प्रबंध करने होंगे।

सूखी नदी में चुआंड़ी खोदकर पानी से बर्तन धोती ग्रामीण महिलाएं।

घड़ों व सुराही की बिक्री बढ़ी

लातेहार : भीषण गर्मी को देखते हुए बाजारों में घड़ा (देसी फ्रिज) व सुराही की मांग बढ़ गई है। साधन संपन्न लोगों के घर में तो फ्रिज उपलब्ध हैं, लेकिन गरीब ठंडे पानी से अपना गला तर कैसे करें, इसके लिए ग्रामीणों का हुजूम देसी फ्रिज (घड़ा) लेने के लिए कुम्हारों की दुकान व घरों तक पहुंच रहा है। स्थानीय बाजारटांड़ में लगने वाले साप्ताहिक हाट में घड़ों व सुराही की खरीददारी के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही है। ऐसे में कुम्हार व्यवसायी मनमाना दाम वसूल रहे हैं।

लू से स्कूली बच्चों के अभिभावक चिंतित

लू के थपेड़ों से स्कूली बच्चे खासे परेशान हैं। हालांकि, सभी विद्यालय प्रात:कालीन हैं, लेकिन स्कूली बच्चों की छुट्टी का समय 1२:30 बजे निर्धारित की गई है, लेकिन उस समय सूरज की तपिश तेज हो जाती है। धूप में बच्चे छटपटाते नजर आते हैं। बच्चे धूप से बचने के लिए छाता व तौलिये का सहारा लेते दिख रहे हैं। कॉलेज जानेवाले छात्र-छात्राएं भी परेशान हैं। ऐसे में अभिभावक भी बच्चों के प्रति चिंतित नजर आ रहे हैं।

लातेहार में घड़ा बेचता कुम्हार ।

सड़क किनारे सज गए सत्तू की दुकान

लातेहार : गर्मी को देखते हुए शहर के थाना चौक, जुबली चौक, बस-स्टैंड, धर्मपुर समेत विभिन्न स्थानों पर ठेलों पर तरबूज, ककड़ी, आम का शर्बत व सत्तू की दुकानें सज गई हैं, जहां भूख-प्यास से व्याकुल व्यक्ति पहुंच रहे हैं और गर्मी से बचने के लिए सत्तू, तरबूज आदि का सेवन कर रहे हैं। सूरज की तपिश बढऩे के बाद सड़क किनारे ठेलों पर सत्तू व आम के शर्बत (अमझोरा) की बिक्री बढ़ गई है। शीतल पेयजल दुकानों में भी भीड़ उमड़ रही है।

तपिश बढ़ी, आैरंगा सहित कई नदियां सूखी
X
तपिश बढ़ी, आैरंगा सहित कई नदियां सूखी
तपिश बढ़ी, आैरंगा सहित कई नदियां सूखी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..