Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» हरमू रोड में हुए 12 लाख लूटकांड में 4 गिरफ्तार, 5.68 लाख रुपए बरामद

हरमू रोड में हुए 12 लाख लूटकांड में 4 गिरफ्तार, 5.68 लाख रुपए बरामद

हरमू रोड स्थित स्टील इंडिया प्रतिष्ठान से चार मई को हुए 12 लाख रुपए लूटकांड का पुलिस ने खुलासा किया है। लूटकांड में...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 03:45 AM IST

हरमू रोड में हुए 12 लाख लूटकांड में 4 गिरफ्तार, 5.68 लाख रुपए बरामद
हरमू रोड स्थित स्टील इंडिया प्रतिष्ठान से चार मई को हुए 12 लाख रुपए लूटकांड का पुलिस ने खुलासा किया है। लूटकांड में शामिल चारों आरोपी गिरफ्तार हो गए हंै। एएसपी कुलदीप द्विवेदी ने बताया कि इनके पास से लूट के 5.68 लाख रुपए, चार मोबाइल, एक देसी पिस्टल, इंसास की एक गोली, एक बाइक और ऑटो पुलिस ने बरामद किए हैं। वहीं लूटकांड में प्रयुक्त देसी कट्टा भी बरामद हो गया है। गिरफ्तार आरोपियों में गुमला के रहनेवाले अनमोल रोशन मिंज, राहुल लकड़ा, रांची रेलवे कॉलोनी का रहने वाला प्रवीण मुंडा और जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के बंधु नगर से आकाश कुमार को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने चारों को गुरुवार को जेल भेज दिया है।

पुलिस ने चारों को गिरफ्तार को दो बड़ी घटना को अंजाम देने से रोक लिया। इन चारों की लूट के बाद भरनो के एक ठेकेदार की हत्या की योजना थी। इसके बाद भरनो के ही एक व्यवसायी के बच्चे का अपहरण करने की प्लानिंग थी। इसके लिए इन लोगों ने तैयारी भी शुरू कर दी थी। चारों ने मिलकर इन दोनों कांड को अंजाम देने के लिए 1.50 लाख रुपए हथियार के लिए एडवांस भी दे दिए थे। चारों ने पुलिस को बताया कि पिस्टल खरीदने के लिए लूट के पैसे में से अनमोल ने 70 हजार और राहुल ने 80 हजार रुपए विकास ठाकुर नामक युवक को दिए था। लेकिन हथियार लेने से पहले पुलिस ने इन सभी को गिरफ्तार कर लिया। इस कांड के उद्भेदन में कोतवाली डीएसपी भोला प्रसाद और कोतवाली थाना प्रभारी श्यामानंद मंडल ने अहम भूमिका निभाई।

लूट के पैसों से हथियार खरीदने के लिए दिए थे आर्डर

स्टील इंडिया प्रतिष्ठान से लूटे गए रुपए व अपराधियों के पास से बरामद हथियार।

रेलवे कॉलोनी के प्रवीण ने बनाई थी लूट की योजना, कंपनी में काम कर चुका था

लूट की योजना रेलवे कॉलोनी के प्रवीण मुंडा ने बनाई थी। वह 15 दिन स्टील इंडिया में काम कर चुका था। उसे पूरी जानकारी मिल गई थी कि स्टील इंडिया में छड़ बिक्री का मोटा पैसा हर दिन आता है। दुकान में सिर्फ संचालक नीरज कमल ही शाम में रहते हंै। इसके बाद प्रवीण ने गुमला में रहने वाले अपने दो साथियों अनमोल और राहुल को दी। फिर रांची में बिरसा चौक पर सभी मिले और रानी बगीचा में लूट की योजना बनाई। अनमोल और राहुल गुमला के रहने वाले थे, इसलिए योजना बनी कि दोनों दुकान में जाएंगे। ताकि उन्हें कोई पहचान नहीं सके। घटना वाले दिन अनमोल और राहुल गुमला से बोलेरो से रांची पहुंचे थे। घटनास्थल पर बाइक से प्रवीण मुंडा और अनमोल बाइक से हरमू नदी के पास पहुंचा, जबकि राहुल और आकाश ऑटो से आया। वहां पहुंच राहुल और अनमोल स्टील इंडिया में घुसे और हथियार के बल पर गल्ले में रखे सारे पैसे लूट लिए।

अनमोल ने मंगेतर पर पैसे उड़ाए, जुआ में भी हारा

पैसे के बंटवारे के बाद अनमोल ने अपनी मंगेतर पर सारे पैसे उड़ा दिए। अनमोल ने अपनी होनेवाली ससुराल में इन्वर्टर लगवाया, कूलर खरीदा, साले की बाइक बनवाई। शादी के लिए घरेलू सामान भी खरीदे और 70 हजार रुपए हथियार खरीदने के लिए एडवांस दिया। वहीं राहुल ने अपने हिस्से में से 80 हजार हथियार के लिए दिए और कुछ पैसे जुआ में हार गया। प्रवीण के पास से पुलिस को सबसे अधिक पैसे रिकवर हुए। क्योंकि उसने अपने हिस्से में से मात्र 11500 रुपए ही खर्च किए थे, उसके पास से 2.38 लाख रुपए मिले।

अनमोल को पिता के बदले मिलने वाली थी नौकरी

आरोपी अनमोल को हाल में उसके पिता के बदले अनुंकपा में नौकरी मिलने वाली थी। पिता की मृत्यु हो गई है। इसकी सारी प्रक्रिया पूरी कर ली गई थी, इसके बाद भी अनमोल ने अपराध किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×