Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» अपहरण की कंप्लेन, झामुमो नेता हिरासत में, कार जब्त

अपहरण की कंप्लेन, झामुमो नेता हिरासत में, कार जब्त

विद्या नगर में रहने वाली एक बच्चे की मां ने लोहरदगा के जेएमएम युवा जिला मोर्चा के उपाध्यक्ष सद्दाम हुसैन पर अपहरण...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 03:45 AM IST

विद्या नगर में रहने वाली एक बच्चे की मां ने लोहरदगा के जेएमएम युवा जिला मोर्चा के उपाध्यक्ष सद्दाम हुसैन पर अपहरण का आरोप लगाया है। गुरुवार को विद्या नगर में जब सद्दाम महिला से मिलने आया तो दोनों में झड़प हो गई। इसके बाद स्थानीय लोगों के सामने महिला ने उस पर अपहरण का आरोप लगाते हुए शोर मचाया। महिला की शोर सुन आसपास के लोग वहां जमा हो गए और आरोपी को पकड़ कर सुखदेव नगर पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस वहां पहुंची और सद्दाम को पकड़ कर थाने ले आई। पुलिस ने उसकी कार भी जब्त कर ली है और मामले की छानबीन कर रही है।

महिला ने आरोप लगाया है कि सद्दाम उसे जबरन उठाकर ले जाने की कोशिश कर रहा था। इसलिए उसने शोर मचाया। इधर सद्दाम ने बताया कि उसकी महिला से पांच साल पहले एक रांग नंबर के बाद दोस्ती हुई थी। दोस्ती इतनी बढ़ गई कि वह अक्सर उससे मिलने के लिए लोहरदगा से रांची आने लगा। जब भी वह रांची आता, उसके घर रुकता। वहीं उसका खाना भी बनता था। महिला के पति रांची में नहीं रहते हैं। इसलिए सद्दाम का आना-जाना अक्सर होता था। महिला का एक छोटा बच्चा भी है। महिला मूल रूप से चान्हो की रहने वाली है। महिला ने सद्दाम के खिलाफ सुखदेव नगर थाने में एक लिखित शिकायत दी है।

पूछताछ में सद्दाम ने पुलिस को बताया कि गुरुवार को उसकी महिला दोस्त विद्या नगर में घर बदलने वाली थी। इसलिए उसने रांची बुलाया था। रांची आने के बाद उसने महिला को कुछ पैसे भी दिए थे। फिर खाने के लिए चिकन लाने चला गया था। लेकिन अचानक क्या हुआ कि महिला ने उस पर अपहरण का आरोप लगा दिया। इधर, महिला के घर युवक के बार-बार आने जाने पर पड़ोस के लोगों ने सवाल उठाया है।

फर्जी पेपर देकर मोबाइल खरीदने वाले दो गिरफ्तार

इधर, फर्जी कागजात पर दूसरे के नाम पर ईएमआई पर महंगा मोबाइल खरीदने वाले चुटिया के रवि मंडल और अभिजीत झा को लालपुर पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। लालपुर थाने में 29 दिसंबर 2017 को अज्ञात पर प्राथमिकी दर्ज हुई थी। इसमें किसी दूसरे के पैन कार्ड पर दूसरे की तस्वीर लगा और पता देकर रिलायंस डिजिटल से 70 हजार का एक मोबाइल फोन खरीदने का मामला दर्ज हुआ था। पुलिस ने जब इस मामले की जांच की तो पता चला कि रवि मंडल जो पहले एक फाइनांस कंपनी में ही काम करता था। उसके पास उन लोगोंं का डाटा था, जो लोग ईएमआई पर मोबाइल खरीदते थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×