--Advertisement--

एक स्वप्न कथा नाटक का मंचन कल से

रांची | कवि पाश ने कहा है कि सपने देखना बंद कभी न करो। हर व्यक्ति सपना देखता है। हकीकी जिंदगी में वो जो नहीं कर सका,...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 03:50 AM IST
रांची | कवि पाश ने कहा है कि सपने देखना बंद कभी न करो। हर व्यक्ति सपना देखता है। हकीकी जिंदगी में वो जो नहीं कर सका, सपने उसके लिए स्पेस देते हैं। 19 व 20 मई को रांची के कलाप्रेमियों को ऐसे ही नाटक एक स्वप्न कथा का मंचन देखना नसीब होगा। यह नाटक आम आदमी की जिजीविषा, प्रेम और समय से उसके आंतरिक संघर्ष की कहानी है। पुलिस अधिकारी संजय रंजन सिंह ने लिखा है। निर्देशन अजय मलकानी ने किया है।