• Hindi News
  • Jharkhand News
  • Ranchi
  • News
  • फर्जी दस्तावेज से बनवाए जा रहे रेसिडेंशियल व कास्ट सर्टिफिकेट, छह पर एफआईआर का आदेश
--Advertisement--

फर्जी दस्तावेज से बनवाए जा रहे रेसिडेंशियल व कास्ट सर्टिफिकेट, छह पर एफआईआर का आदेश

लोगों की सुविधा के लिए शुरू हुई ऑनलाइन प्रक्रिया में भी फर्जी दस्तावेज के सहारे आवासीय और जाति प्रमाण पत्र बनाए जा...

Dainik Bhaskar

May 17, 2018, 04:10 AM IST
लोगों की सुविधा के लिए शुरू हुई ऑनलाइन प्रक्रिया में भी फर्जी दस्तावेज के सहारे आवासीय और जाति प्रमाण पत्र बनाए जा रहे हैं। दस्तावेजों की जांच में सीओ लापरवाही बरत रहे हैं। एसडीओ अंजलि यादव ने इस मामले की जांच की तो ऐसे छह फर्जी मामले सामने आए हैं। अरगोड़ा अंचल में चार और बड़गाईं अंचल के दो मामलों की पुष्टि हुई है। एसडीओ ने कहा है कि सीओ बिना जांच किए रेसिडेंशियल और कास्ट सर्टिफिकेट बनाने की अनुशंसा कर रहे हैं। एसडीओ ने सीओ को ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का आदेश दिया है।

अरगोड़ा अंचल में चार और बड़गाईं अंचल के दो मामलों की पुष्टि

इन लोगों पर होगा फर्जीवाड़ा का केस


1976 में नहीं था कंप्यूटर, फिर भी टाइप हैं नाम : जांच में पाया कि कई आवेदकों ने वर्ष 1976 के दस्तावेज आवेदन के साथ प्रस्तुत किए हैं। इनमें नाम कंप्यूटर से ही लिखे हैं। जबकि वर्ष 1976 में कंप्यूटर था ही नहीं।

फर्जीवाड़े में पहले सील हो चुका है प्रज्ञा केंद्र

प्रमाण पत्र बनाने में फर्जीवाड़े का मामला पहले भी पकड़ा जा चुका है। अगस्त-2017 में प्रशासन ने मारवाड़ी कॉलेज के समीप संचालित प्रज्ञा केंद्र को सील किया था। उस वक्त भी एसडीओ की जांच के दौरान दूसरे के नाम जारी प्रमाण पत्र में छेड़छाड़ कर हिंदपीढ़ी के मोहसिन आलम के नाम से आय प्रमाण पत्र बनाया गया था।

तीन केस स्टडी

1. नामकुम रोड, डोरंडा निवासी नदीम आलम ने वर्ष 1976 के जमीन का दस्तावेज संलग्न किया। ये कंप्यूटर प्रिंटेड हैं। उसने मोमिन जाति का प्रमाण पत्र के लिए आवेदन दिया था।

3. बरियातू के सत्तार कॉलोनी निवासी शाहनवाज ने भी दस्तावेजों के साथ छेड़छाड़ कर फर्जी वंशावली बनाई थी। शाहनवाज ने फर्जी वंशावली का सहारा लेकर मोमिन जाति का प्रमाण पत्र बनाने के लिए आवेदन किया था।

2. बिरसा चौक निवासी विनिता चौधरी ने फर्जी बिक्री पट्टा और लगान रसीद के जरिए प्रमाण पत्र के लिए आवेदन किया। उन्होंने दस्तावेज में छेड़छाड़ कर फर्जी वंशावली बनवाई।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..