लॉ छात्रा से गैंगरेप / डीजीपी से बाेले महाधिवक्ता- जल्द चार्जशीट फाइल कराएं, 60 दिनों में दिलाएंगे सजा, यह एक रिकॉर्ड होगा

एमजी रोड में सड़क जाम कर रहीं महिलाओं को समझाते पुलिस अफसर। एमजी रोड में सड़क जाम कर रहीं महिलाओं को समझाते पुलिस अफसर।
X
एमजी रोड में सड़क जाम कर रहीं महिलाओं को समझाते पुलिस अफसर।एमजी रोड में सड़क जाम कर रहीं महिलाओं को समझाते पुलिस अफसर।

  • लाॅ विवि के पास टीओपी खुला, एनर्जी सेक्रेटरी से स्ट्रीट लाइट लगाने को कहा गया 
  • फाॅरेंसिक जांच के लिए सैंपल भेजा, सप्ताह भर में आएगी जांच रिपाेर्ट
  • महिलाओं ने मेन रोड जाम कर कहा- दुष्कर्म रोको, नहीं तो शहर रोक दूंगी

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 11:01 AM IST

रांची. झारखंड हाईकाेर्ट के महाधिवक्ता अजीत कुमार ने डीजीपी केएन चाैबे काे पत्र लिखकर कहा कि लाॅ यूनिवर्सिटी की छात्रा के साथ गैंगरेप के 12 आरोपियों के खिलाफ जांच जल्द पूरा करें। रांची पुलिस जितनी जल्द हाे, आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट फाइल करे। महाधिवक्ता ने साेमवार को मीडिया को बताया कि फाॅरेंसिक जांच के लिए सैंपल भेज दिया गया है। एक सप्ताह के अंदर फाॅरेंसिक जांच रिपाेर्ट अा जाएगी।

उन्हाेंने डीजीपी से कहा है कि जितनी जल्दी पुलिस सहयाेग करेगी, उतनी ही जल्दी आगे की कार्रवार्इ होगी। कहा कि चार्जशीट फाइल हाेते ही स्पीडी ट्राॅयल चलाकर 60 दिन के अंदर गैंगरेप के अाराेपियाें काे सजा दिलाएंगे। यह एक रिकाॅर्ड टाइम में की गर्इ कार्रवाई हाेगी। इससे समाज में एक अच्छा संदेश जाएगा। डीजीपी काे लिखे पत्र में रांची पुलिस की प्रशंसा की गई है, जिसमें उन्हाेंने कहा कि पुलिस ने तत्परता के साथ सभी आरोपियों का गिरफ्तार किया है। इससे राज्य में एक अच्छा संदेश गया है। इस कांड में पुलिस के द्वारा की गई कार्रवाई से लाेगाें काे पुलिस पर भराेसा बढ़ेगा।
 
दूसरी ओर, महाधिवक्ता अजीत कुमार ने एनर्जी सेक्रेटरी काे भी पत्र लिखा है और कहा कि यूनिवर्सिटी के उत्तर साइड रिंग राेड और बिरसा कृषि काॅलेज के तरफ राेड पर स्ट्रीट लाइट लगाई जाए, जिससे कि आपराधिक किस्म के लाेगाें का जमावड़ा ना हाे। महाधिवक्ता ने लाॅ यूनिवर्सिटी में अपनी पत्नी के साथ वीसी अाैर रजिस्टार से मिले। साथ ही काॅलेज के बच्चाें ने शिकायत की है कि काॅलेज का चहारदीवारी छाेटा है, उसे बड़ा किया जाए। इस पर महाधिवक्ता ने वीसी अाैर रजिस्टार से भी बात की। 
 
यूनिवर्सिटी कैंपस के समीप संदेहास्पद लोगों को देखते ही पकड़ने का आदेश : एसएसपी 
सुरक्षा की दृष्टि से साेमवार काे लाॅ काॅलेज कैंपस के समीप टीओपी खाेल दिया गया है। टीओपी में एक पदाधिकारी और पुलिस के जवानाें की प्रतिनियुक्ति की गई है। एसएसपी ने टीओपी में पदस्थापित पदाधिकारी काे निर्देश दिया है कि वे लगातार काॅलेज कैंपस और उसके आसपास के क्षेत्र में सक्रिय रहे। आपराधिक किस्म के लाेगाें पर नजर रखें। कही भी संदेहास्पद स्थिति में कोई दिखता है, ताे तुरंत पकड़ कर पूछताछ करें। जरूरत हाे ताे उसे टीओपी ले जाकर पूरी तरह से उसका सत्यापन करें।

सख्त सजा मिले, कहा- अकेली लड़की हमारी जिम्मेवारी हो 
मारवाड़ी कॉलेज के गर्ल्स और ब्वाॅयज सेक्शन के स्टूडेंट्स ने गैंगरेप के आरोपियों को सख्त सजा दिलाने की मांग को लेकर एकत्रित हुए। एबीवीपी के बैनर तले एकत्रित स्टूडेंट्स को संबोधित करते हुए मारवाड़ी कॉलेज के प्रोफेसर इंचार्ज प्रो.बीबी लाल ने कहा कि पुरुषों की गंदी मानसिकता पर रोक लगना जरूरी है। इस तरह के अपराध के दोषियों को मृत्युदंड दिया जाना चाहिए। कहा कि अकेली लड़की मौका नहीं, बल्कि हमारी जिम्मेवारी होनी चाहिए। 

24 घंटे पहरेदारी : रिंग रोड पर पुलिस तैनात, हाइवे पर पेट्रोलिंग भी 
एसएसपी के निर्देश के बाद संग्रामपुर में रिंग रोड पर चौकसी बढ़ गई है। नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के पास रिंग रोड पर 24 घंटे फोर्स की तैनाती कर दी गई है। हाइवे पेट्रोलिंग 13 की तैनाती रिंग रोड पर की गई है, जिसे नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी से संग्रामपुर तक फिलहाल लगातार 24 घंटे नजर रखने का निर्देश दिया गया है। लॉ यूनिवर्सिटी के पास हॉस्टल के ठीक सामने फोर्स की तैनाती की गई है। हथियारधारी फोर्स दो शिफ्ट में 24 घंटे तैनात रह रहे हैं। पहला शिफ्ट सुबह 9 से रात 9 और दूसरा शिफ्ट रात 9 से सुबह 9 के बीच चल रहा है। 


कांके पुलिस के पास अपराधियों को पकड़ने के लिए 1 जर्जर जीप 
कांके थाना का क्षेत्र काफी बड़ा है, लेकिन पेट्रोलिंग के लिए थाना के पास मात्र 1 जर्जर जीप है। जीप इतनी जर्जर है कि जब गश्ती के लिए निकलता है तो जवान भी घबराते हैं कि कब खराब हो जाए और धक्का लगाना पड़े। जीप चलाने के लिए भी मात्र एक चालक है। जबकि, एक जीप को लगातार 24 घंटे चलाने के लिए तीन चालक की आवश्यकता है। क्योंकि, शिफ्ट सिर्फ 8 घंटे की ही होती है। 

ग्रामीणों पर भी है पुलिस की नजर, ताकि किसी प्रकार की घटना ना हो 
दुष्कर्म की घटना के बाद पुलिस ने 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा था। ये सभी आरोपी संग्रामपुर के हैं। पुलिस ग्रामीणों पर भी लगातार नजर रख रही है कि कहीं ग्रामीणों में इस घटना को लेकर कोई रिएक्शन न हो। पुलिस द्वारा ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया जा है कि जिन युवकों ने गलती की है, उन्हें जेल भेजना जरूरी थी। पुलिस लगातार उनकी निगरानी कर रही है।

घटना के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी

घटना के खिलाफ राजधानी में प्रदर्शन जारी है। कांके में सीअाईपी कर्मी और नर्सिंग अफसरों ने सोमवार को कैंडल मार्च निकाला। वहीं रातू में सामाजिक संगठन युवा चेतना शक्ति द्वारा लाॅ छात्रा और डाॅ. प्रियंका रेड्डी को न्याय दिलाने के लिए सोमवार को रातू में कैंडल मार्च निकाला गया। कैंडल मार्च प्रखंड मुख्यालय से काठीटांड चौक पहुंचा। युवाओं ने कहा कि आरोपियों को सिर्फ और सिर्फ फांसी ही मिलनी चाहिए।

26 नवंबर को हुई थी घटना

26 नवंबर को कांके थाना क्षेत्र में लॉ यूनिवर्सिटी की छात्रा के साथ गैंगरेप की घटना हुई थी। घटना के अगले दिन छात्रा थाना पहुंची थी और शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद पुलिस ने सभी 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था।

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना