झारखंड / लोहरदगा में कर्फ्यू के आठवें दिन दो बार में सात घंटे की ढील, एक फरवरी से खुल सकते हैं स्कूल-कॉलेज

शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए फ्लैग मार्च करते रैपिड एक्शन फोर्स के जवान। शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए फ्लैग मार्च करते रैपिड एक्शन फोर्स के जवान।
X
शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए फ्लैग मार्च करते रैपिड एक्शन फोर्स के जवान।शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए फ्लैग मार्च करते रैपिड एक्शन फोर्स के जवान।

  • कर्फ्यू में ढील के दौरान खुले रहे सरकारी संस्थान, अबतक 26 लोगों की गिरफ्तारी

दैनिक भास्कर

Jan 31, 2020, 05:46 PM IST

लोहरदगा. जिले में शांति और विधि व्यवस्था बनाए रखने के लिए वर्तमान स्थिति की समीक्षा के बाद शुक्रवार को कर्फ्यू के आठवें दिन दो पालियों के तहत सात घंटे की ढील दी गई। इसके बाद फिर से कर्फ्यू जारी कर दिया गया। कर्फ्यू में ढील के दौरान दवाई, राशन दुकान, सभी सरकारी कार्यालय, धान क्रय केंद्र खुले रहे। वहीं आईजी नवीन कुमार सिंह ने बताया कि अब हालात सामान्य हो रहे हैं। एक फरवरी से स्कूल कॉलेज खोले जा सकते हैं। 

बता दें कि 23 जनवरी को सीएए के समर्थन में निकले शांति मार्च में पथराव के बाद हालात बिगड़ गए थे। इसके बाद जिले में कर्फ्यू लगा दिया गया था। हालात को सामान्य करने के लिए रोजाना कुछ घंटे की ढील दी जा रही है।

शनिवार को दो घंटे के बीच किया जा सकेगा मूर्ति विसर्जन
आईजी नवीन कुमार सिंह ने कहा कि सरस्वती पूजा मूर्ति विसर्जन के लिए कुछ जगहों से अनुरोध आया जिसके बाद शनिवार को सुबह नौ बजे से 11 बजे के बीच का समय तय किया गया है। आईजी ने बताया कि उपद्रव और उसके बाद जो भी घटनाएं हुई उसके अंतर्गत 15 कांड दर्ज किए जा चुके हैं। अबतक 36 लोगों को गिरफ्तार कर न्यायालय भेजा गया है। 97 लोगों को बंध पत्र भरवाकर छोड़ा गया है। कहा कि जिनकी भी संपत्ति की क्षति हुई है वे एसआइटी के पास आएं और अपनी शिकायत दर्ज कराएं।

आईजी ने कहा कि जिनके पास भी घटना से संबंधित वीडियो या ऑडियो क्लिप है वे एसटीएफ के साथ इसे शेयर करें। एसटीएफ का नंबर 9939133896 है। कहा कि यदि लोग चाहते हैं कि उस वीडियो का सोर्स नहीं पूछा जाये तो इसे गोपनीय रखा जायेगा। इसके अलावा रेस्क्यू के लिए जारी नंबर 9471163670 का इस्तेमाल भी लोग कहीं आने-जाने या मेडिकल हेल्प के लिए कर सकते हैं। 

ड्रोन से रखी जा रही इलाकों पर नजर
शहर के कई प्रमुख स्थानों के अलावा मुहल्ले और गलियों में ड्रोन से भी नजर रखी जा रही है। अलग-अलग क्षेत्रों में मजिस्ट्रेट की निगरानी में ड्रोन का संचालन कर वस्तुस्थिति का जायजा लिया जा रहा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना