लोकसभा चुनाव / झारखंड पर नमो का फोकस, चारों चरण में 4 सभाएं और एक रोड शो

Dainik Bhaskar

May 16, 2019, 11:04 AM IST



प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल)
X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल)प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (फाइल)

  • नरेंद्र मोदी ने राज्य में प्रचार के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी, वहीं पहुंचे जहां उम्मीदवार कमजोर दिखा

रांची. लोकसभा चुनाव में भाजपा व इसके गठबंधन की जीत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रचार में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। प्रधानमंत्री के रूप में उन्होंने राज्य की 14 लोकसभा सीटों पर कब्जे के लिए चार चुनावी सभाएं और एक रोड शो भी किया। पहले चरण और अंतिम चरण के लिए जहां उन्होंने तीन-तीन सीटों के लिए चुनावी सभाएं की, वहीं तीसरे चरण के लिए तो वह दो सीटों के लिए भी आये। अंतिम चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देवघर में अपनी चुनावी सभा के माध्यम से संतालपरगना की तीन सीटों- गोड्डा, दुमका और राजमहल के पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में माहौल बनाने का काम किया। झारखंड के हर उस क्षेत्र में चुनावी सभाएं की जहां पार्टी प्रत्याशी कमजोर दिख रहे थे।

 

कोडरमा संसदीय क्षेत्र के जमुआ में चुनावी सभा की
प्रधानमंत्री पहले चरण से ही झारखंड पर विशेष फोकस किये रहे। पहले चरण में राज्य की तीन सीटों पर चुनाव था। लोहरदगा, पलामू और चतरा। 29 अप्रैल को होनेवाले मतदान से पूर्व उन्होंने 24 अप्रैल को लोहरदगा में चुनावी सभा को संबोधित किया। इसके बाद उन्होंने फिर दूसरे चरण के लिए होनेवाली चार सीटों के चुनाव के केंद्र में रख कर 29 अप्रैल को कोडरमा संसदीय क्षेत्र के जमुआ में चुनावी सभा की। यहां से उन्होंने कोडरमा और गिरिडीह, दोनों संसदीय क्षेत्र को कवर करने की कोशिश की। फिर तीसरे चरण में भी वह पीछे नहीं रहे।

 

तीनों सीटों पर पार्टी प्रत्याशियों को जीताने का आह्वान किया

12 मई को तीसरे चरण का चुनाव था। छह मई को चाईबासा आकर फिर उन्होंने चुनावी सभा की। छह मई को ही बगल की सीट खूंटी में मतदान था। अंतिम चरण में मोदी फिर संतालपरगना आये। बाबा नगरी देवघर में चुनावी सभाएं कीं और संताल की तीनों सीटों पर पार्टी प्रत्याशियों को जीताने का आह्वान किया। इतना ही नहीं जब रांची आकर यहां भी माहौल अनुकूल बनाने का उनसे आग्रह किया गया तो सभा के लिए उन्हें समय नहीं मिला तो रोड शो के माध्यम से ही 23 अप्रैल को मतदाताओं का उत्साहवर्द्धन करने में पीछे नहीं रहे।

COMMENT