पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Marandi Did Not Get The Seat Of The Opposition In The House, The Speaker He Will Give A Place On The Ground And Will Also Sit There.

सदन में मरांडी को नहीं मिली नेता प्रतिपक्ष की सीट, बाेले- स्पीकर जमीन पर जगह देंगे ताे वहां भी बैठूंगा

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष की मान्यता न देने पर वेल में नारेबाजी करते भाजपा के विधायक।
  • नए विधानसभा भवन में हंगामे के साथ शुरू हुआ बजट सत्र
  • विपक्ष के साथ सत्तापक्ष भी वेल में, दाेनाें के बीच तीखी नाेकझाेंक
Advertisement
Advertisement

रांची. झारखंड के नए विधानसभा भवन में शुक्रवार काे नेता प्रतिपक्ष की खाली कुर्सी अाैर हंगामे के साथ बजट सत्र शुरू हुअा। सुबह 11:10 बजे सदन की कार्यवाही शुरू हाेते ही भाजपा विधायकाें ने बाबूलाल मरांडी काे नेता प्रतिपक्ष की मान्यता देने की मांग उठाई। जब मांग पूरी नहीं हुई ताे भाजपा के नाराज विधायक वेल में पहुंच गए। हंगामा शुरू कर दिया। इस पर सत्ता पक्ष के कुछ नेता भी वेल में पहुंच गए। दाेनाें पक्षाें में नाेंकझाेंक हुई। इस दाैरान भाजपा विधायकाें ने वेल में जय श्रीराम अाैर भारत माता की जय के नारे लगाए। उधर, सदन के बाहर बाबूलाल मरांडी ने कहा कि स्पीकर अगर उन्हें जमीन पर बैठने की जगह देंगे ताे वहां भी बैठेंगे। नेता प्रतिपक्ष की मान्यता न देने के सवाल पर उन्हाेंने कहा कि यह स्पीकर ही बता सकते हैं। पिछले दिनाें प्रभात तारा मैदान में उन्हाेंने विधिवत रूप से भाजपा में अपनी पार्टी का विलय किया था। सत्ता पक्ष द्वारा इस्तीफा मांगे जाने पर उन्हाेंने कहा कि जनता ने उन्हें चुना है। फिर इस्तीफा क्याें दें।

स्पीकर बोले- न्याय होगा, विपक्ष बोला- पहले फैसला हो 
इससे पहले मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन, स्पीकर रविंद्रनाथ महताे अाैर संसदीय कार्यमंत्री अालमगीर अालम ने बजट सत्र का उद्घाटन किया। कार्यवाही शुरू हाेते ही भाजपा विधायकाें ने बाबूलाल मरांडी काे प्रतिपक्ष के नेता की मान्यता देने की मांग की। इस पर स्पीकर ने कहा कि न्याय संगत फैसला हाेगा अाैर अपना संबाेधन शुरू कर दिया। तभी भाजपा विधायकाें ने हंगामा शुरू किया। 18 विधायक वेल में पहुंच गए। स्पीकर ने अपना संबाेधन राेककर कहा-नए भवन में पहली बार सदन की कार्यवाही शुरू हाे रही है। यह समय वेल में अाने का नहीं है। यह अच्छी परिपाटी नहीं है। सभी सीट पर जाएं। न्याय हाेगा। लेकिन विपक्ष इस बार पर अड़ा रहा कि पहले बाबूलाल के मामले में फैसला हाे।  

सीएम बाेले- भाजपा के पास कोई मुद्दा नहीं, इसलिए हंगामा कर रहे
सदन में भाजपा विधायकाें के हंगामे पर मुख्यमंत्री हेमंत साेरेन ने कहा- भाजपा के पास काेई मुद्दा नहीं है, इसलिए प्रतिपक्ष के नेता काे लेकर हंगामा कर रहे हैं। भाजपा ने पांच साल तक कुछ नहीं किया, इसलिए उनके पास बाेलने काे कुछ भी नहीं है। इनके सदन का नेता काैन है, यह कहना भी बहुत मुश्किल है। यह भाजपा के राजनीतिक दिवालियापन का परिणाम है। 

मरांडी काे नेता प्रतिपक्ष नहीं बनाया ताे नहीं चलेगा सदन : विरंची 
भाजपा विधायक विरंची नारायण ने कहा कि साेमवार तक बाबूलाल काे प्रतिपक्ष का नेता घाेषित नहीं किया गया ताे भाजपा सदन नहीं चलने देगी। सरकार बाबूलाल से डर गई है। अादिवासियाें का रट लगाने वाली यह सरकार एक अादिवासी काे ही नेता नहीं बनने देना चाहती। स्पीकर सदस्यता रद्द करना चाहते हैं ताे उन्हें तीनाें विधायकाें की सदस्यता रद्द कर देनी चाहिए।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप कई प्रकार की गतिविधियों में व्यस्त रहेंगे। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आ जाने से मन में राहत रहेगी। धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में महत्वपूर्ण...

और पढ़ें

Advertisement