पलामू / चार बच्चों की मां फंदे पर लटकी मिली, मायके वालाें ने कहा-पति ने की है हत्या

आरोपी पति से पूछताछ करते पुलिस अधिकारी। आरोपी पति से पूछताछ करते पुलिस अधिकारी।
X
आरोपी पति से पूछताछ करते पुलिस अधिकारी।आरोपी पति से पूछताछ करते पुलिस अधिकारी।

  • आरोप... पति के शराब पीने की लत से परेशान थी महिला, जांच में जुटी पुलिस

दैनिक भास्कर

Feb 17, 2020, 06:40 PM IST

पलामू. रेहला थाना अंतर्गत सिगसिगी पंचायत के ओरिया गांव निवासी प्रमोद चौधरी की पत्नी 30 वर्षीय गीता देवी की संदेहास्पद परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतका के ससुराल पक्ष का कहना है कि उसने फांसी का फंदा लगाकर जान दी है जबकि मृतका के मायका पक्ष का कहना है कि शराब के नशे में उसके पति ने वारदात को अंजाम दिया है। मृतका की तीन बेटी और एक बेटा है। उधर, मायका पक्ष के आरोप के बाद पुलिस जांच पड़ताल में जुट गई है।

2006 में हुई थी महिला की शादी
मृतका के छोटे भाई परमेश्वर चौधरी ने बताया कि उंटारीरोड थाना के लहरबंजारी निवासी प्रमोद चौधरी से वर्ष 2006 में उसकी बहन गीता देवी से शादी हुई थी। इसके बाद अपने गांव सुलूमदाग के बगल के ओरिया गांव में जमीन लेकर घर बनाकर बसाया था लेकिन उसके पति की शराब पीने की आदत के चलते पति-पत्नी में हमेशा विवाद होता रहता था। रविवार की देर रात दोनों में झगड़ा हुआ। परमेश्वर ने बताया कि एक बजे रात के प्रमोद चौधरी ने गीता द्वारा फांसी लगाकर अपनी जान दे देने की जानकारी उसे मोबाइल पर दी। परमेश्वर ने पुलिस से कहा है कि उसकी बहन की हत्या प्रमोद चौधरी ने गला दबाकर की है।

 

इधर, सिगसिगी पंचायत के मुखिया मुलायम सिंह उर्फ मुंद्रिका यादव ने घटना के समय मौजूद मृतका के पांच वर्षीय पुत्र के बयान का हवाला देते हुए कहा कि गीता देवी की हत्या उसके पति ने की है। साक्ष्य छिपाने के लिए व आत्महत्या दिखाने के लिए पत्नी को गले में फंदा लगाकर छत से लटका दिया है। मुखिया ने बताया कि आए दिन गीता देवी के साथ प्रमोद चौधरी मारपीट व उसे प्रताड़ित करता था। मामले को लेकर कई बार पंचायत भी हुई। उधर, थाना प्रभारी ने बताया कि पूछताछ के लिए मृतका के पति प्रमोद चौधरी को पुलिस कस्टडी में रखा गया है। छानबीन में जुटी पुलिस ने बताया कि महिला ने आत्महत्या किया है या फिर उसकी हत्या हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही खुलासा हो पाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना