--Advertisement--

होरा हत्याकांड का खुलासा / अपर बाजार के व्यवसायी की हत्या में नौ अपराधी गिरफ्तार



नरेंद्र सिंह होरा की पांच अक्टूबर की रात मेन रोड में हत्या कर दी गई थी। नरेंद्र सिंह होरा की पांच अक्टूबर की रात मेन रोड में हत्या कर दी गई थी।
X
नरेंद्र सिंह होरा की पांच अक्टूबर की रात मेन रोड में हत्या कर दी गई थी।नरेंद्र सिंह होरा की पांच अक्टूबर की रात मेन रोड में हत्या कर दी गई थी।

  • 12 अपराधियों ने दिया था घटना को अंजाम, छोटू और फैसल ने पकड़ा, शब्बीर ने मारी गोली
  • गिरफ्तारी के समय अपर बाजार के ही एक और व्यवसायी को लूटने की योजना बना रहे थे


 

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 06:32 AM IST

रांची. चावल व्यवसायी नरेंद्र सिंह होरा हत्याकांड का खुलासा हो गया है। पुलिस के मुताबिक हत्याकांड में 12 लोग शामिल थे, जिनमें से नौ को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इन सभी को डोरंडा के नीम चौक के पास मनीर मैदान से पकड़ा। वे लोग अपर बाजार के ही एक और व्यवसायी से 65 लाख रुपए लूटने की योजना बना रहे थे। इस कांड का मास्टरमाइंड मूल रूप से पांकी (पलामू) निवासी छोटू हुसैन है, जो अभी मनिटोला में रहता है। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया हैै।


एसएसपी अनीश गुप्ता और सिटी एसपी अमन कुमार ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि पांच अक्टूबर की रात होरा की हत्या के वक्त छोटू हुसैन के साथ छोटू शब्बीर और फैसल भी था। शब्बीर और फैसल फरार है। पुलिस के मुताबिक हत्या से पहले छोटू हुसैन ने दो युवकों को अपर बाजार में तैनात कर दिया था। इनमें से एक शिव रजक फल वाला बनकर दुकान की रेकी कर रहा था। इसी दौरान जानकारी मिली कि होरा अक्सर बड़ी रकम लेकर घर जाते हैं।

 

इसके बाद सभी ने तीन अक्टूबर को अपर बाजार से पीपी कंपाउंड तक रिहर्सल किया। पांच अक्टूबर को पता चला कि होरा अपनी स्कूटी में 20 लाख रुपए लेकर जाने वाले हैं। इसके बाद इन्होंने घटना को अंजाम दिया। गिरफ्तार सभी नौ अपराधी लूट और छिनतई मामले में जेल जा चुके हैं। इनमें से कई वसीम दोजा के लिए भी काम करते थे।

 

स्कूटी छीनने का विरोध करने पर की हत्या : हत्या वाले दिन छोटू हुसैन ने बबन खान और मो. आसिफ आलम को होरा के दुकान के पास तैनात किया था। इन दोनों ने जब होरा के दुकान से निकलने की सूचना दी तो छोटू हुसैन, छोटू शब्बी और फैसल ने बाइक से पीछा किया। राज अस्पताल के पास बाइक से धक्का मारकर रोकने की कोशिश की। जब होरा नहीं रुके तो आगे स्कूटी पर चल रहे एक अपराधी ने उन्हें रोक लिया। स्कूटी छीनने लगे। विरोध किया तो गोली चला दी। छीनाझपटी में पिस्टल नीचे गिर गई तो छोटू हुसैन और फैसल ने होरा को पकड़ा और छोटू शब्बीर ने उनके सिर में गोली मार दी।

 

पैसे बंटवारे के विवाद में पकड़े गए : व्यवसायी से लूटे गए पैसों के बंटवारे को लेकर इनमें विवाद हो गया। छोटू हुसैन ने एक लाख रुपए से अधिक रख लिए। बबन खान ने रेकी करने वालों को देने के लिए 50 हजार रुपए ले लिए। वहीं राशिद अंसारी ने 90 हजार रुपए लिए। अन्य को जब पैसे नहीं मिले तो वे आपस में उलझ गए। इसकी जानकारी जब वहां के छोटे-मोटे अपराधियों को मिली तो उन्हें भी पैसे बांटे गए। इसी बीच पुलिस को जानकारी मिल गई। पुलिस ने जाल बिछाया और इन्हें गिरफ्तार कर लिया।

 

ये हुआ बरामद : 9 एमएम का दो पिस्टल, 7.65 एमएम का दो पिस्टल, 9 एमएम का पांच कारतूस , 3.15 एमएम का दो कारतूस, एसएलआर का एक जिंदा कारतूस, एक पल्सर बाइक 220, एक डियो स्कूटी, नगद 19000 रुपए और 8 मोबाइल।

 

रिमांड पर लेकर पुलिस पूछताछ करेगी, जल्दी ही दायर होगी चार्जशीट : एसएसपी ने बताया कि डोरंडा में इनकी गिरफ्तारी हुई है, इसलिए वहां भी मामला दर्ज किया जाएगा। सभी को पूछताछ के लिए रिमांड पर लिया जाएगा। जल्दी ही चार्जशीट दायर की जाएगी। उन्होंने बताया कि राशिद अपना हिस्सा लेने के बाद फ्लाइट से कोलकाता भाग गया था। वहां से गुरुवार को लौटा और पुलिस ने उसे पकड़ लिया। वहीं बबन खान आसनसोल भाग गया था।

 

इनकी हुई गिरफ्तारी : 

बबन खान, बेलदार मुहल्ला, डोरंडा, छोटू हुसैन,मनिटोला नीम चौक, डोरंडा, मेहंदी हसन, हाथीखाना, डोरंडा, राशिद अंसारी, दर्जी मुहल्ला, डोरंडा, मो. आसिफ आलम, नीम चौक, डोरंडा, सज्जाद आलम, रिसालदार नगर डोरंडा, राजा आदिल, पोखर टोली, डाेरंडा, बिरसा कच्छप, बड़ा घाघरा, डोरंडा, शिव रजक, बड़ा घाघरा, डोरंडा।

ये फरार : छोटू शब्बीर, डोरंडा, फैसल, डोरंडा मिनी, डोरंडा

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..