अफसरों के दायित्व तय हों, बिजली चोरी न रुके तो कार्रवाई करें : कोर्ट

Ranchi News - हाईकाेर्ट ने बिजली चाेरी के मामले काे गंभीरता से लेकर राेक लगाने के लिए सरकार काे निर्देश जारी किया है। एक मामले...

Bhaskar News Network

Jun 15, 2019, 06:05 AM IST
Ranchi News - obligate the liabilities of officers take action if electricity does not stop stealing court
हाईकाेर्ट ने बिजली चाेरी के मामले काे गंभीरता से लेकर राेक लगाने के लिए सरकार काे निर्देश जारी किया है। एक मामले की सुनवाई करते हुए जस्टिस ने सरकार से कहा है कि बिजली चाेरी राेकने का दायित्व किसी न किसी अधिकारी पर तय करना हाेगा। इसके बाद भी चाेरी नहीं रुके ताे अधिकारियाें के खिलाफ कार्रवाई करें। काेर्ट ने सरकार काे 3 जुलाई तक बिजली चाेरी राेकने के लिए कार्य याेजना की रिपाेर्ट काेर्ट में पेश करने का अादेश दिया। शुक्रवार काे काेर्ट बाेकाराे के पवन कुमार उर्फ पप्पू सिंह की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई की। उस पर चाेरी का बिजली यूज करने का अाराेप था। उस पर 1.64 लाख बिजली बिल और 25 हजार का जुर्माना लगाया गया था। बिजली विभाग की ओर से कहा गया था कि पवन बिजली चोरी करते कई बार पकड़ाया है। विभाग की ओर से काेर्ट काे बताया गया कि इलाके के जूनियर इंजीनियर पर बिजली की देखरेख करने और चोरी रोकने की जिम्मेवारी रहती है।

ऊर्जा सचिव और अधिकारियों को किया तलब

बिजली विभाग के जवाब पर कोर्ट ने ऊर्जा सचिव, जेवीएनएल के निदेशक और अन्य अधिकारियों को शाम 4.30 बजे प्रस्तुत हाेने का अादेश जारी किया। सभी अधिकारियों के आने के बाद कोर्ट काे पूरी स्थिति से अवगत कराया और पूछा कि इस मामले में बिजली चोरी रोकने में विफल रहे कनीय अभियंता पर कार्रवाई क्यों नहीं की गई। इस पर बिजली बोर्ड के वरीय अधिवक्ता अजीत कुमार ने कहा कि इस मामले में फिर से जवाब दाखिल किया जाएगा। जवाब त्रुटिपूर्ण है। सिर्फ कनीय अभियंता को ही बिजली चोरी के लिए जिम्मेवार नहीं माना जा सकता। इस मामले में दोबारा शपथ पत्र दाखिल करने की अनुमति कोर्ट से मांगी गई। इस पर कोर्ट ने पांच जुलाई तक रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया।

संजय सेठ ने बिजली व्यवस्था पर बिजली अफसरों के साथ की बैठक

सांसद ने अफसरों से पूछा- जहां जाते हैं बिजली संकट है, जनता को हम क्या जवाब दें बताएं

रांची | सांसद संजय सेठ ने रांची के बिजली अभियंताओं को राजधानी की बिजली में जल्द सुधार का निर्देश दिया। सेठ शुक्रवार को अपने आवास पर बिजली की लचर व्यवस्था को लेकर अभियंताओं के साथ की। अभियंताओं से कहा कि वह जहां जाते हैं, उनसे लोग बिजली की खराब स्थिति पर सवाल उठाते हैं। वह जनता को क्या जवाब दें, कब सुधरेगी बिजली। बिजली के लिए लोग त्राहिमाम कर रहे हैं। मुख्यमंत्री इतनी मेहनत कर रहे हैं, हर क्षेत्र में विकास हो रहा है, पर बिजली निगम के अफसर इस पर पानी फेर रहे हैं। बिजली नहीं रहने पर जब जनता कनीय और सहायक अभियंता को फोन करते हैं, तो वे फोन नहीं उठाते हैं। कनीय और सहायक अभियंता बिजली उपभोक्ताओं का फोन जरूर रिसिव करें। सेठ ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि रांची के सभी छह प्रमंडलों में शिकायत केंद्र की स्थापना की जाए। 22 जून को सभी शिकायत केंद्र का निरीक्षण करेंगे। प्रत्येक शनिवार को वह सभी शिकायत केंद्र जाकर वस्तुस्थिति का जायजा लेंगे।

इंजीनियर फोन नहीं उठाते हैं, सभी छह डिविजन में शिकायत केंद्र की स्थापना करें, वे खुद करेंगे निरीक्षण

ध्वनि प्रदूषण पर हाईकोर्ट बोला-

लगता है बाेर्ड काे काेर्ट के अादेश की भी परवाह नहीं

रांची | ध्वनि प्रदूषण की राेकथाम के लिए कारगर कदम नहीं उठाए जाने पर झारखंड हाईकाेर्ट ने प्रदूषण नियंत्रण बाेर्ड की कार्य प्रणाली पर नाराजगी जताई है। शुक्रवार काे जस्टिस एसएन पाठक की काेर्ट ने टिप्पणी की है कि पर्षद केवल कागजाें में सिमटा है। हाईकाेर्ट का उदाहरण देते हुए उन्हाेंने कहा कि यह इलाका नाे हाॅर्न जाेन में हैं। पर, यहां पर एक सरकारी सूचना पट्ट तक नहीं लगाई गई है। देर रात तक बैंड-बाजा बजते रहते हैं। एेसा लगता है कि बाेर्ड काे काेर्ट के अादेश की भी परवाह नहीं है। ध्वनि प्रदूषण पर काेर्ट ने पिछले दिनाें स्वत: संज्ञान लिया था। डीसी अाैर एसएसपी काे बुलाकर ध्वनि प्रदूषण काे राेकने के लिए कारगर कदम उठाने का निर्देश दिया था, लेकिन इस मामले में काेई कदम नहीं उठाया गया है। इसी मामले की सुनवाई शुक्रवार काे हुई।

बिजली इंजीनियरों के साथ बैठक करते सांसद।

15 जून बिजली मेंटेनेंस का अपडेट

आज 2 से 3 घंटे तक कई क्षेत्रों में नहीं रहेगी बिजली

रांची | शनिवार को मेंटेनेंस और अन्य कार्य को लेकर सुबह में कई फीडर घंटों बंद रहेंगे। शनिवार को 11 केवी डेलाटोली फीडर और रानीबागन फीडर आंशिक रूप से 5 से 7 बजे तक बंद रहेगा। 11 केवी नामकुम फीडर से सुबह 5.30 से 7.30 बजे तक बिजली बंद रहेगा। 11 केवी एसडी पावर हाउस फीडर से सुबह 5.30 से प्रातः 7.30 बजे तक बंद रहेगा। 11 केवी पिस्का मोड़ फीडर से सुबह 5 से 8 बजे तक बंद रहेगा। 11 केवी रूलर फीडर से सुबह 5 से 8 बजे तक, 11 केवी मेन रोड फीडर सुबह 5 से 7.30 बजे तक, 11 केवी सुधा डेयरी फीडर से अरगोड़ा पीएसएस से सुबह 6 से 9 बजे तक, 11 केवी किशोरगंज फीडर से सुबह 5 से 6.30 बजे तक बंद रहेगा। जबकि न्यू हरमू में बिजली बंद रहेगी।

X
Ranchi News - obligate the liabilities of officers take action if electricity does not stop stealing court
COMMENT