प. बंगाल में 300 डाॅक्टराें का इस्तीफा, 17 काे झारखंड सहित देशभर में हड़ताल

Ranchi News - एजेंसी | कोलकाता/नई दिल्ली/रांची पश्चिम बंगाल के काेलकाता में एक जूनियर डॉक्टर से मारपीट के बाद शुरू हुए विवाद...

Bhaskar News Network

Jun 15, 2019, 06:00 AM IST
Ranchi News - par 300 doctor39s quits in bengal 17 th strike across the country including jharkhand
एजेंसी | कोलकाता/नई दिल्ली/रांची

पश्चिम बंगाल के काेलकाता में एक जूनियर डॉक्टर से मारपीट के बाद शुरू हुए विवाद के बाद राज्य में शुरू हुई डॉक्टरों की हड़ताल की गूंज शुक्रवार काे देशभर में पहुंच गई। हड़ताली डाॅक्टराें के समर्थन में इंडियन मेडिकन एसाेसिएशन (अाईएमए) ने तीन दिन के विराेध प्रदर्शन की शुरुअात की। अाईएमए ने 17 जून काे हड़ताल की घाेषणा की है। अाईएमए के झारखंड सचिव डाॅक्टर प्रदीप कुमार सिंह ने कहा कि इस दिन सुबह छह बजे से अगले दिन सुबह छह बजे तक हड़ताल रहेगी। अाेपीडी सेवाएं नहीं चलेंगी पर इमरजेंसी सेवा बहाल रहेंगी।

एसएसकेएम अस्पताल के 175 डाॅक्टराें ने इस्तीफा दे दिया। इसके साथ ही पूरे बंगाल में इस्तीफा देने वाले डाॅक्टराें की संख्या 300 से ज्यादा हाे गई है। डाॅक्टराें ने चेतावनी दी है कि मुख्यमंत्री बिना शर्त माफी मांगें अन्यथा वे एक साथ नौकरी छोड़ देंगे। इधर, रांची के रिम्स में भी जूनियर डाॅक्टर हड़ताल पर रहे। मरहम पट्टी लगाकर विराेध प्रदर्शन किया। इमरजेंसी के सामने नुक्कड़ नाटक कर डाॅक्टराें के खिलाफ हाे रहे मारपीट की बात रखी। इस बीच केंद्र ने दखल देते हुए कहा है कि राज्य सरकार इसे नाक का मुद्दा न बनाए। वहीं बंगाल जूनियर डाॅक्टर्स एसाेसिएशन के प्रवक्ता डाॅक्टर अरिंदम दत्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री के बयान से डाॅक्टर अाहत हैं। उन्हें माफी मांगनी चाहिए।

रिम्स में बंद रही अाेपीडी, 1500 मरीज लाैटे

बंगाल के डाॅक्टराें की हड़ताल के समर्थन में शुक्रवार काे रिम्स के जूनियर डाॅक्टर हड़ताल पर रहे। अाेपीडी सेवाएं नहीं चलीं। सीनियर डाॅक्टर भी अाेपीडी में नहीं बैठे। इससे रिम्स में इलाज कराने अाए करीब 1500 मरीजाें काे बिना इलाज लाैटना पड़ा। 20 से ज्यादा गंभीर मरीजाें के अाॅपरेशन भी टल गए। हालांकि इमरजेंसी सेवा बहाल रही। जूनियर डाॅक्टराें ने शाम पांच बजे विराेध मार्च निकाला, जिसमें अाईएमए, झासा अाैर निजी नर्सिंग हाेम के प्रतिनिधि शामिल हुए।

X
Ranchi News - par 300 doctor39s quits in bengal 17 th strike across the country including jharkhand
COMMENT