रामगढ़ / दामोदर भैरवी के संगम में लोगों ने लगाई डुबकी, छिन्नमस्तिका मंदिर में की पूजा अर्चना

मकर संक्रांति के मौके पर छिन्नमस्तिका का मंदिर में नारियल बली स्थल पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़। मकर संक्रांति के मौके पर छिन्नमस्तिका का मंदिर में नारियल बली स्थल पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़।
X
मकर संक्रांति के मौके पर छिन्नमस्तिका का मंदिर में नारियल बली स्थल पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़।मकर संक्रांति के मौके पर छिन्नमस्तिका का मंदिर में नारियल बली स्थल पर उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़।

  • विभिन्न प्रदेशों से आए श्रद्धालुओं ने नदियों के किनारे ही दही-चूड़ा और तिलकुट खाया

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 04:54 PM IST

रामगढ़.  सिद्धपीठ रजरप्पा स्थित छिन्नमस्तिका मंदिर प्रक्षेत्र के दामोदर भैरवी नदी के पवित्र संगम में मकर संक्रांति के मौके पर बुधवार को सैकड़ों लोगों ने डुबकी लगाई। इसके कारण सुबह से छिन्नमस्तिका मंदिर प्रक्षेत्र में भक्तों का तांता लगा रहा। पवित्र स्नान के बाद भक्तों ने छिन्नमस्तिका मंदिर में पूजा अर्चना भी की। स्थानीय पुजारी शुभाशीष पंडा के अनुसार, मकर संक्रांति के मौके पर नदियों या जलाशयों में स्नान कर देवस्थल में पूजा अर्चना से पुण्य की प्राप्ति होती है। इसलिए हर वर्ष राज्य के कोने-कोन से भक्त यहां पहुंचते हैं।

भक्तों ने संगम स्थल पर ही दही चूड़ा का लिया आनंद
इधर, स्नान और पूजा अर्चना के बाद विभिन्न प्रदेशों से आए श्रद्धालुओं ने नदियों के किनारे ही दही-चूड़ा और तिलकुट खाया। मकर संक्रांति के मौके पर दही-चूड़ा व तिलकुट खाने का रस्म है। बिहार के नवादा से आए जयशंकर शर्मा ने बताया कि संगम में स्नान और पूजा के बाद हमारे यहां दही चूड़ा खाने का रस्म है। धर्मस्थलों पर पूजा अर्चना के बाद दही-चूड़ा व खाने से ग्रह गोचर की स्थिति दुरुस्त होती है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना