गुमला / पुलिस रिमांड पर आरोपी ने कहा- शौचालय निर्माण में हुआ घोटाला, दो से तीन करोड़ रुपए का गबन

सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।
X
सिम्बॉलिक इमेज।सिम्बॉलिक इमेज।

  • पूर्व जिला समन्वयक पर गबन करने का आरोप, एसपी ने कहा- घोटाला से जुड़े अधिकारी व अन्य से होगी पूछताछ

दैनिक भास्कर

Feb 03, 2020, 05:39 PM IST

गुमला. जिले में स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण में हुए घोटालों में शामिल आरोपी धीरज कुमार राय ने पुलिस रिमांड के दौरान स्वीकार किया है कि जिले में शौचालय निर्माण में बड़े पैमाने पर घोटाला हुआ है। उसने इसमें शामिल स्वच्छ भारत मिशन के पूर्व जिला समन्वयक, विभागीय अधिकारी एवं अन्य लोगों के नामों का भी खुलासा किया है।

जिला परामर्शी धीरज कुमार राय ने कबूल किया है कि पूर्व जिला समन्वयक ने दो से तीन करोड़ रूपए गबन किया है। घोटाले में शामिल आरोपियों में पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के अधिकारियों का भी नाम शामिल है। उधर, एसपी अंजनी कुमार झा ने बताया कि पुलिस अनुसंधान में उन सभी लोगों के बयान दर्ज किए जाएंगे जिनके नाम जिला परामर्शी ने लिए हैं। धीरज कुमार ने यह भी स्वीकार किया है कि जिले के 12 प्रखंडों में जितना शौचालय का पैसा गया है, उतना शौचालय का निर्माण नहीं हुआ है। 

एसपी ने कहा- अनुसंधानकर्ता को दिए गए हैं आवश्यक निर्देश
एसपी ने बताया कि इस मामले में अनुसंधानकर्ता को आवश्यक निर्देश दिया गया। यदि पुलिस समझेगी कि मामले में पेंच है तो वे इसकी जांच एसीबी से कराने की अनुशंसा करेंगे। उन्होंने बताया कि फिलहाल, आरोपियों के खिलााफ साक्ष्य जुटाते हुए एक निर्धारित वर्ष में की गई हेराफेरी की जांच की जा रही है। बता दें कि पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता चंदन कुमार के द्वारा एक करोड़ 16 लाख रुपए की फर्जी निकासी की प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। उसके बाद पुलिसिया जांच में पता चला था कि शौचालय निर्माण फंड से खर्च की गई 104 करोड़ रुपए का हिसाब नहीं है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना