--Advertisement--

खुलासा / प्रेम प्रसंग में हुई थी बीटेक छात्र की हत्या, एक गिरफ्तार, हथियार बरामद



प्रेसवार्ता में जानकारी देते एसएसपी व अन्य। प्रेसवार्ता में जानकारी देते एसएसपी व अन्य।
  • 3.5 लाख रुपए की सुपारी संजय पांडेय ने शूटरों को दी थी
  • जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज और अन्य साक्ष्यों के आधार पर गढ़वा से एक अभियुक्त की गिरफ्तारी की गई
Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 05:02 PM IST

रांची.  सुखदेवनगर थाना क्षेत्र के आर्यापुरी में 24 अगस्त को अज्ञात अपराधकर्मियों ने 24 साल के बीटेक के छात्र राकेश यादव हत्याकांड का खुलासा कर दिया गया है। वरीय पुलिस अधीक्षक, नगर पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया था। जांच के दौरान सीसीटीवी फुटेज और अन्य साक्ष्यों के आधार पर गढ़वा से एक अभियुक्त की गिरफ्तारी की गई। उसकी निशानदेही पर पुलिस टीम ने हत्याकांड में प्रयुक्त हथियारों को बरामद कर लिया। इस संबंध में रविवार को एसएसपी अमीष गुप्ता ने प्रेसवार्ता कर जानकारी दी।

प्रेम प्रसंग में की गई थी हत्या

  1. 3.5 लाख की दी थी सुपारी

    पूछताछ में अभियुक्तों ने बताया कि 3.5 लाख रुपए की सुपारी संजय पांडेय ने शूटरों को दी थी। हत्या वाले दिन सुबह 7:30 बजे पांचों शूटर दलादली चौक पहुंचे। यहां लालगुटवा स्कूल के पास अभियुक्तों ने हथियार छिपाने के लिए एक महीने पहले से किराए पर कमरा लिया था। शूटरों के यहां पहुंचने से पहले दो बाइक तैयार रखी गई थी। यहां से सभी शूटर सुबह 9:00 बजे के करीब आर्यापुरी पहुंचे और राकेश के घर से निकलने का इंतजार करने लगे। 

  2. शूटरों को देख राकेश अपने भाई के साथ भागने लगा

    करीब 9:30 बजे राकेश स्कूटी से अपने भाई के नीलेश के साथ रातू रोड की ओर ऑफिस जाने के लिए निकला। थोड़ी दूर पर अभियुक्तों ने दोनों को रोक लिया। इसके बाद राकेश और नीलेश भागने लगे। फिर तीन शूटरों ने राकेश को दौड़ाकर कई गोलियां मारीं। फिर पांचों शूटर पॉपुलर नर्सिंग होम वाली गली से होते हुए आईटीआई बस स्टैंड होते हुए लालगुटवा पहुंचा जहां सभी ने हथियार को किराए पर लिए मकान में छिपा दिया। यहां से पांचों निकले और रांची से बाहर
    भाग गए।

  3. अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी

    एसएसपी ने बताया कि गिरफ्तार किया गया हिमांशु दुबे मुख्य अभियुक्त है। उसकी निशानदेही पर लालगुटवा वाले मकान से हथियार बरामद कर लिया गया है। उसने हत्याकांड में शामिल अन्य अभियुक्तों के नाम बताए हैं जिनकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि वारदात में शामिल अन्य अभियुक्तों के नाम गिरफ्तारी के लिए गुप्त रखे गए हैं। गिरफ्तार हिमांशु द्वारा बताए गए घटना में शामिल एक अन्य अभियुक्त संजय पांडेय वर्तमान में होटवार जेल में बंद है। उसे घटना के एक सप्ताह पहले ही किसी अन्य मामले में गिरफ्तार किया गया था।

  4. वारदात में उपयोग किए गए बरामद हथियार

    हिमांशु की निशानदेही पर बरामद हथियार में दो पिस्टल (मैग्जीन में 11 राउंड गोली), दो देसी कट्टा, दो अतिरिक्त मैग्जीन (10 गोली), 0.315 की पांच गोली, 0.315 का एक खोखा, एक ब्लू रंग का बैग आदि बरामद किया गया है।