राजनीति / भाजपा विधायक परिजनों को बनाएंगे पार्टी सदस्य, 50 हजार नए लोगों को जोड़ेंगे



Raghubar Das assigned Task to MLAs for join new members in BJP
X
Raghubar Das assigned Task to MLAs for join new members in BJP

  • भाजपा विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सभी एमएलए को दिया टास्क

Dainik Bhaskar

Jul 03, 2019, 07:11 PM IST

रांची. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भाजपा विधायकों को कहा है कि वे सबसे पहले अपने माता-पिता, भाई-बहन, पत्नी और बच्चों को पार्टी का सदस्य बनाएं। इसके बाद अपने क्षेत्र के हर जाति-धर्म, आयु-वर्ग के लोगों को पार्टी से जोड़ें। सीएम ने सभी विधायकों को 50-50 हजार नए सदस्य बनाने का टास्क सौंपा है। 6 जुलाई से लेकर 30 जुलाई तक कुल 25 दिनों में 30 लाख नए सदस्य बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। बुधवार को मुख्यमंत्री आवास में हुए भाजपा विधायक दल की बैठक हुई, जिसमें कुल 32 एमएलए मौजूद रहे। 

 

30 लाख नए सदस्य बनाए जाएंगे
बैठक की जानकारी देते हुए पार्टी के मुख्य सचेतक राधाकृष्ण किशोर ने कहा कि पूर्व में बने 24 लाख सदस्यों के अलावा 30 लाख नए सदस्य बनाए जाएंगे। इस प्रकार झारखंड में भाजपा के सदस्यों की संख्या 54 लाख तक पहुंचाई जाएगी। किशोर ने कहा कि पार्टी के सभी 43 विधायकों को इस लक्ष्य को पूरा करना है। इस बार ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन सदस्य भी बनाए जाएंगे। जिन विधानसभा क्षेत्रों में विधायक नहीं हैं, वहां पर भी पार्टी नेता सामूहिक रूप से सदस्यता अभियान चलाएंगे। किशोर ने कहा कि पार्टी का लक्ष्य समाज के सभी वर्गों और जाति-धर्मों के लोगों से खुद को जोड़ना है। सदस्यता अभियान में प्रदेश स्तर से लेकर बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं की सहभागिता होगी। 

 

जल संचय के लिए सभी विधायक करेंगे श्रमदान 
किशोर ने कहा कि जल संचय और इसके प्रबंधन के लिए पार्टी के सभी विधायक अपने-अपने क्षेत्रों में श्रमदान करेंगे। यह कार्यक्रम 7 जुलाई से लेकर 15 सितंबर तक आयोजित होगा। सभी विधायक इस दौरान प्रत्येक रविवार को अपने-अपने क्षेत्रों में रहेंगे। झारखंड में हर वर्ष अच्छी बारिश होती है, लेकिन पठारी क्षेत्र होने के कारण पानी का संरक्षण नहीं हो पाता है। ऐसे में हर क्षेत्र के विधायक और मंत्री अपने-अपने क्षेत्र में श्रमदान के माध्यम से वर्षा जल को संग्रहित करने के लिए लोगों को प्रेरित करेंगे। 

 

नादान विपक्ष के पास सदन में उठाने को कोई विषय नहीं
एक सवाल के जवाब में राधाकृष्ण किशोर ने विपक्ष को नादान बताते हुए कहा कि अगर विधानसभा सत्र का वे उपयोग करें तो मानसून सत्र की अवधि कम नहीं। पर, उनके पास कोई विषय ही नहीं है। विधानसभा सत्र सुचारू रूप से चले, यह पक्ष और विपक्ष दोनों की जिम्मेदारी है। हालांकि विपक्ष के पास किसी भी प्रकार का मुद्दा नहीं है राज्य मैं हर क्षेत्र में कार्य किए गए हैं बिजली, सड़क आधारभूत संरचना, कृषि आदि हर क्षेत्र में सरकार ने उत्कृष्ट कार्य किया है। किशोर ने कहा कि विपक्ष पहले जो भी विषय उठाता रहा है, जनता ने उसे खारिज कर दिया है। इसी का नतीजा है कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी को राज्य के 14 में से 12 सीटें मिली हैं। राज्य के लोगों ने भूमि अधिग्रहण, धर्मांतरण विधेयक आदि पर मुहर लगा दिया है। बावजूद इसके अगर कोई अन्य मुद्दा विपक्ष के पास हो तो वह सदन में इन मुद्दों को उठाए। 

 

समय पर आजसू के साथ हो जाएगा सीटों का बंटवारा
एक सवाल के जवाब में राधाकृष्ण किशोर ने कहा कि समय आने पर आजसू के साथ विधानसभा सीटों का बंटवारा हो जाएगा। एनडीए फोल्डर में शामिल सभी पार्टियों के साथ इस बाबत उपयुक्त समय पर बैठक होगी और सारी बातें तय कर ली जाएंगे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना