360 डिग्री इमेज / देश का एकमात्र स्टेडियम जहां पिच पर नहीं पड़ती छाया, एक नजर में आईसीसी ने दी थी मान्यता

Ranchi 360 degree image of JSCA International Cricket Stadium
X
Ranchi 360 degree image of JSCA International Cricket Stadium

  • ग्राउंड पर प्रैक्टिस के लिए आठ पिच, एक साथ आठ बैट्समैन और बॉलर्स कर सकते हैं प्रैक्टिस

दैनिक भास्कर

Nov 19, 2019, 06:40 PM IST

रांची. भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच शुक्रवार को जेएससीए इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में तीसरा अंतरराष्ट्रीय वनडे मैच खेला जाएगा। इस स्टेडियम की सबसे बड़ी खासियत इसकी डिजाइन है। ये देश का पहला ऐसा स्टेडियम है, जहां किसी भी स्थिति में शाम 4.45 से पहले मैदान के पिचों पर छाया नहीं पड़ती है। इससे बैट्समैन की परेशानी काफी कम हो जाती है। 

फरवरी 2012 में बनकर हुआ था तैयार

यह स्टेडियम फरवरी, 2012 में बनकर तैयार हुआ और उसी साल 19 अक्टूबर को आईसीसी ने इसे इंटरनेशनल मैच के लिए मान्यता दे दी। आर्किटेक्ट एसोशिएशन झारखंड के सेक्रेटरी सुजीत भगत कहते हैं कि पिच पर छाया नहीं आने का खास कारण इसका डिजाइन है। उत्तर दिशा एनर्जी की दिशा नहीं होती। इसलिए जब भी कंस्ट्रक्शन होता है, उसमें ध्यान दिया जाता है कि पूरब दिशा में ही निर्माण हो लेकिन स्टेडियम के मामले में ऊंचाई, चौड़ाई और दिशा तीनों का ध्यान रखा गया है। ऊंचाई पर जो शेड बनाया गया है, उससे पिच पर छाया नहीं पड़ती।

जून 2013 को स्टेडियम में पहली बार इंडिया और इंग्लैंड के बीच वनडे मैच खेला जाना था। इसके लिए स्टेडियम को आईसीसी से मान्यता मिलनी जरूरी थी। इसीलिए बीसीसीआई की रिक्वेस्ट पर आईसीसी ने डेविड बून की अध्यक्षता में स्टेडियम के इंस्पेक्शन के लिए एक टीम भेजी। बून को स्टेडियम में मौजूद फैसिलिटीज, सिक्योरिटीज, लोकेशन और सबसे खास बात कन्स्ट्रक्शन इतना पसंद आया कि उन्होंने एक बार में ही स्टेडियम के फेवर में रिपोर्ट सौंप दी और आईसीसी ने इंटरनेशनल मैच के लिए मान्यता दे दी। स्टेडिम में एक साथ 40 हजार दर्शक मैच देख सकते हैं।

इस ग्राउंड में इंटरनेशनल मैच के लिए 9 पिच बनाए गए हैं। यानी किसी भी परिस्थिति में पिच से संबंधित कोई भी बाधा नहीं आ सकती। इतना ही नहीं, ग्राउंड पर प्रैक्टिस के लिए 8 पिच तैयार किए गए हैं। इसी से अनुमान लगाया जा सकता है कि एक साथ 8 बैट्समैन और बॉलर्स प्रैक्टिस कर सकते हैं। कई बार इन प्रैक्टिस पिचों पर लोकल मैच भी खेले जाते हैं। 

पिच के एक क्यूरेटर ने बताया कि रांची के जेएससीए स्टेडियम में पिच नार्थ टू साउथ है। ईस्ट और वेस्ट में हिल एरिया है। ये हिल एरिया ओपन है। ऐसा ओपन हिल देश में सिर्फ रांची के पास है। इसके अलावा आस्ट्रेलिया में ही ऐसे ओपन हिल हैं। ओपन एरिया होने के कारण यहां कंस्टक्शन नहीं है। इस कारण भी पिच पर यहां छाया नहीं पड़ती है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना