दशहरा / रावण दहन में उमड़ी सैकड़ों लोगों की भीड़, सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त



मोरबादी मैदान मैदान में किया गया रावण दहन। मोरबादी मैदान मैदान में किया गया रावण दहन।
मंच पर मौजूद मुख्यमंत्री रघुवर दास, नगर विकास मंत्री सीपी सिंह, रांची सांसद संजय सेठ व अन्य। मंच पर मौजूद मुख्यमंत्री रघुवर दास, नगर विकास मंत्री सीपी सिंह, रांची सांसद संजय सेठ व अन्य।
X
मोरबादी मैदान मैदान में किया गया रावण दहन।मोरबादी मैदान मैदान में किया गया रावण दहन।
मंच पर मौजूद मुख्यमंत्री रघुवर दास, नगर विकास मंत्री सीपी सिंह, रांची सांसद संजय सेठ व अन्य।मंच पर मौजूद मुख्यमंत्री रघुवर दास, नगर विकास मंत्री सीपी सिंह, रांची सांसद संजय सेठ व अन्य।

  • मोरहाबादी मैदान में रावण दहन से पूर्व आतिशबाजी आकर्षण का मुख्य केंद्र रहा
  • मुख्यमंत्री रघुवर दास मोरहाबादी और अरगोड़ा में आयोजित रावण दहण कार्यक्रम में सम्मिलित हुए

Dainik Bhaskar

Oct 09, 2019, 11:40 AM IST

रांची. झारखंड समेत पूरे देश में मंगलवार को विजयादशमी मनाई गई। इस दौरान राजधानी रांची में चार जगहों पर रावण दहन किया गया। मोरहाबादी में पंजाबी हिंदू बिरादरी, नामकुम में दशहरा समिति टाटीसिल्वे, एचईसी और अरगोड़ा में श्री दुर्गा पूजा और रावण दहन समिति द्वारा रावण दहन किया गया। इधर, इस मौके पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे।

मोरहाबादी और अरगोड़ा के रावण दहन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रघुवर दास भी शामिल हुए। यहां उन्होंने कहा कि विजय दशमी असत्य पर सत्य की, अन्याय पर न्याय, हिंसा पर अहिंसा की जीत का त्योहार है। इसी दिन भगवान राम ने रावण का और मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था। आज के समय में हमारे देश में कई असुरी शक्तियां पनप रही हैं। उनका खात्मा करने का प्रण लेने का दिन है आज। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने देश में धारा 370 का खात्मा कर इसी प्रकार की एक असुरी शक्ति का विनाश किया और कश्मीर को वास्तविक रूप से भारत का हिस्सा बनाया। इसी प्रकार आतंकवादियों के खिलाफ कड़े कानून बनाकर उनके मनोबल को तोड़ा है। यह सब मजबूत इच्छा शक्ति के कारण संभव हो पाया है।

 

गौरव का दिन
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि आज ही वायु सेना दिवस है। हमारे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सबसे घातक युद्धक विमान राफेल का भारतीय संस्कृति के अनुसार शस्त्र पूजन कर ग्रहण किया। यह हम सब के लिए गौरव का दिन है।

 

राष्ट्रविरोधी शक्तियों को समाप्त करने का संकल्प लेने का दिन
मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि हमारे राज्य में भी कई असुरी राष्ट्रविरोधी शक्तियां व्याप्त हैं। हमें उनको समाप्त करना का संकल्प लेना है। हमारे लिए राष्ट्र सबसे पहले और सर्वोपरी है। हमें सभी को एक सूत्र में बांध कर इन शक्तियों से निपटना है। किसी के बहकावे में न आकर हमें एकजूट रहना होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्लास्टिक रूपी असुर का भी हमें खात्मा करना है। हमें प्रण लेना है कि सिंगल यूज प्लास्टिक को हम अपने जीवन से निकाल बाहर करेंगे। यह हमारी आनेवाली पीढ़ी के लिए बहुत जरूरी है। कार्यक्रम में नगर विकास मंत्री सीपी सिंह, रांची सांसद संजय सेठ, हटिया विधायक नवीन जायसवाल, रांची के डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय, पंजाबी हिंदू बिरादरी और दुर्गा पूजा एवं रावण दहन कमेटी, अरगोड़ा के वरीय पदाधिकारी व बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

 

मोरहाबादी में 65 फीट लंबा था रावण का पुतला

मोरहाबादी में इस बार 65 फीट के रावण का पुतला बनाया गया था। जबकि कुंभकरण का 60 फीट और मेघनाथ का 55 फीट लंबा पुतला था। सोने की लंका 30-30 फीट की थी। पहले सोने की लंका जलाई गई फिर मेधन, कुंभकर्ण और रावण के पुतले को जलाया गया। इससे पूर्व अकार्षक आतिशबाजी भी की गई। वहीं, अरगोड़ा में श्रीदुर्गा पूजा और रावण दहन समिति ने 55 फीट का रावण बनवाया था। मेघनाथ और कुंभकर्ण के पुतले 45-45 फीट के थे। यहां बक्सर से आतिशबाज बुलाए गए थे।

ट्रैफिक व्यवस्था रही दुरूस्त
रावण दहन को लेकर शहर के विभिन्न मार्गों पर परिचालन में बदलाव किया गया। मोरहाबादी, धुर्वा शालीमार बाजार, अरगोड़ा और टाटीसिल्वे में बड़े वाहनों का प्रवेश वर्जित रहा। बड़े मालवाहक वाहनों के लिए शहरी क्षेत्र में नो एंट्री का समय सुबह 6 बजे से ही लागू रहा। वहीं, भीड़ को देखते हुए निजी और यात्री वाहनों के लिए मार्ग निधार्रित किया गया था। विभिन्न जगहों पर ड्रॉप गेट लगाए गए थे ताकि वाहनों के प्रवेश को रोका जा सके।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना