--Advertisement--

सुनवाई / नेशनल शूटर तारा शाहदेव के पूर्व पति रंजीत कोहली को हाईकोर्ट से राहत, मिली बेल



रकीबुल हसन उर्फ रंजीत कोहली। (फाइल फोटो) रकीबुल हसन उर्फ रंजीत कोहली। (फाइल फोटो)
X
रकीबुल हसन उर्फ रंजीत कोहली। (फाइल फोटो)रकीबुल हसन उर्फ रंजीत कोहली। (फाइल फोटो)

  • दहेज प्रताड़ना और धर्म परिवर्तन का केस जारी, इसलिए बाहर नहीं आ पाएगा रंजीत

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 04:56 PM IST

रांची. नेशनल राइफल शूटर तारा शाहदेव के पूर्व पति रकीबुल हसन उर्फ रंजती कोहली को सिम कार्ड और मोबाइल मामले में झारखंड हाईकोर्ट से राहत मिली है। शुक्रवार को कोर्ट ने उसे 50-50 हजार के दो निजी मुचलके पर जमानत दी है। हालांकि रंजीत जेल से बाहर नहीं आ पाएगा। अब भी दहेज प्रताड़ना और धर्म परिवर्तन कराने के मामले में मामला कोर्ट में है। उसे सरकारी गाड़ी से भागने के मामले में भी हाईकोर्ट से पहले ही बेल मिल चुकी है।रंजीत फिलहाल बिरसा मुंडा केंद्रीय जेल, होटवार में बंद है। 

रंजीत के घर से 36 सिम कार्ड, 15 मोबाइल हुए थे जब्त

  1. तारा शाहदेव के साथ झूठ बोलकर शादी रचाने और उसे धर्मपरिवर्तन के लिए मजबूर करने वाले आरोपी रंजीत के घर से पुलिस ने 36 सिम कार्ड और 15 मोबाइल फोन जब्त किए थे। इसके अलावा दो सीपीयू, चार प्रिंटर, दो एयर गन और न्यायालय से जुड़े दस्तावेज भी पुलिस को मिले थे। इस मामले में अब तक सप्‍लीमेंट्री चार्जशीट ही फाइल की गई है। केंद्रीय जांच एजेंसी ने कहा कि इस मामले में उसकी जांच अब भी जारी है।  

  2. इसी साल जून में तारा शाहदेव को फैमिली कोर्ट से मिला था तलाक

    लव-जिहाद मामले में इसी साल जून में रंजीत से पीड़िता और नेशनल राइफल शूटर तारा शाहदेव को फैमिली कोर्ट से तलाक मिला था। तारा ने पूर्व पति रंजीत कोहली उर्फ़ रकीबुल हसन पर जबरन धर्म परिवर्तन, शारीरिक प्रताड़ना सहित कई आरोप लगाए थे। शाहदेव की शादी 7 जुलाई 2014 को रंजीत से रांची में हुई थी। तारा ने बताया था कि शादी के बाद से ही उस पर जानवरों की तरह अत्याचार होने लगे। यहां तक उसे कुत्तों से कटवाने की कोशिश भी की गई थी। तारा ने बताया था रंजीत 20-25 हाजियों को साथ घर लेकर आया था और फिर उसपर जबरन धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बनाया था। मामला तूल पकड़ने के बाद सीबीआई ने साल 2015 में इस केस की जांच शुरू की थी।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..