झारखंड / अटल क्लिनिक का सीएम ने किया शुभारंभ; फर्स्ट एड, कई तरह की जांच एवं एंटी रैबीज इंजेक्शन की सुविधा



कार्यक्रम का उद्घाटन करते मुख्यमंत्री व अन्य। कार्यक्रम का उद्घाटन करते मुख्यमंत्री व अन्य।
X
कार्यक्रम का उद्घाटन करते मुख्यमंत्री व अन्य।कार्यक्रम का उद्घाटन करते मुख्यमंत्री व अन्य।

  • रघुवर दास ने कहा- सिविल सर्जन हर दिन एक अटल क्लिनिक का निरीक्षण जरूर करें
  • 15 जिलों में 25 मोहल्ला क्लिनिक की शुरुआत, 25 सितंबर तक 100 मोहल्ला क्लिनिक खोलने की योजना

Dainik Bhaskar

Aug 16, 2019, 05:26 PM IST

रांची. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहार वाजपेयी की पुण्यतिथि पर रांची मोरहाबादी के एदलहातू सामुदायिक भवन से रांची समेत पूरे राज्य में 35 अटल क्लिनिक का शुभारंभ शुक्रवार को किया। उन्होंने घोषणा किया है कि अगले 25 सितंबर तक पूरे राज्य में और 100 क्लिनिक खोले जाएंगे। जबकि रांची नगर निगम के सभी वार्डों में इसे खोला जाएगा। उन्होंने कहा कि इस क्लिनिक में फर्स्ट एड के अतिरिक्त विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य जांच, दवा वितरण एवं कुत्ते काटने का एंटी रैबीज इंजेक्सन भी दिया जाएगा। उन्होंने लगे हाथ सिविल सर्जन को निर्देशित किया कि वे हर दिन इसका निरीक्षण करें। 

 

झारखंड के गरीबों के लिए वरदान साबित हो रहा आयुष्मान भारत
मुख्यमंत्री ने कहा कि 25 सितंबर तक राज्य में निवास करनेवाले सवा तीन करोड़ लोगों में से सभी अहर्ता रखने वाले लोगों को आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराने का लक्ष्य निर्धारित है। उन्होंने घोषणा किया कि पहले प्रज्ञा केंद्र में गोल्डन कार्ड बनाने में 30 रूपए लगता था, जिसे अब खत्म किया जा रहा है। आयुष्मान भारत आज राज्य के गरीबों के लिए वरदान साबित हो रहा। सरकार ने लाभुकों को स्वास्थ्य लाभ देने हेतु अबतक 2 करोड 25 लाख रुपए उनकी बीमारी पर खर्च कर 10 माह में 2 लाख 27 हजार जरूरतमंदों का इलाज सुनिश्चित किया। अगर यह योजना नहीं होती तो इलाज पर गरीबों का 2 करोड़ 25 लाख रुपए उनकी बीमारी में खर्च हो जाती। उन्होंने कहा कि यूएनटीडीपी ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि दुनिया में झारखंड दूसरा ऐसा राज्य है जो तेजी से गरीबी रेखा से ऊपर आ रहा है। साथ ही राज्य के लोगों की क्रय शक्ति में भी वृद्धि हुई है। 

 

रेडी टू इट अब सखी मंडल तैयार करेंगी 
राज्य की महिलाओं को आर्थिक स्वावलंबन प्रदान करने के उद्देश्य से आंगनबाड़ी में दिए जाने वाले पोषण खाद्य प्रदार्थ रेडी टू इट का संचालन सखी मंडल की महिलाओं को जिम्मेवारी सौंपी जाएगी। इसके लिए रामगढ़ में पायलट प्रोजेक्ट के तहत रामगढ़ में 2 करोड़ की लागत से यूनिट प्रारम्भ की जा रही है। यह योजना सफल रही तो राज्य के सभी प्रखंड में योजना को धरातल पर उतारा जाएगा। 

 

निजी अस्पताल के बढ़ते मीटर पर लगाम लगाने की जरूरत : सीपी सिंह
नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि सरकार हर क्षेत्र में कार्य कर रही है। अटल क्लिनिक भी गरीब और जरूरतमंद लोगों के इलाज में सहायक होगा। यहां दवा भी मुफ्त मिलेगी। आयुष्मान भारत योजना के तहत कुछ निजी अस्पताल इलाज करने में आनाकानी कर रहें हैं। सरकार इस तरह की शिकायत पर ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि निजी अस्तपालों के बढ़ते मीटर पर लगाम लगाने की जरूरत है। जैसे ही मरीज भर्ती होते हैं, मीटर बढ़ता जाता है। यहां तक की लाश भी रोक दी जाती है बिल के कारण। 

 

सांकेतिक रूप से पांच लोगों को दिया गया गोल्डन कार्ड
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सांकेतिक तौर पर तब्बसुम परवीन, संदीप दास, ज्योत्सना देवी, सुधा देवी, सुशीला देवी, नमिता देवी, रजनी प्रिया को आयुष्मान भारत योजना के तहत गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना