फैसला / पत्नी की हत्या के मामले में पूर्व फौजी को उम्रकैद की सजा, बंद बक्से में मिली थी लाश

Ranchi News Ex army man sentenced to life imprisonment for murder of wife
X
Ranchi News Ex army man sentenced to life imprisonment for murder of wife

  • जुलाई 2015 का है मामला, बड़े भाई की मौत के बाद भाभी से हुई थी दोषी की शादी

Jun 07, 2019, 04:22 PM IST

रांची. मेसरा थाना अंतर्गत सैनिक कॉलोनी में रहनेवाले पूर्व फौजी महेंद्र महतो को पत्नी की हत्या के मामले में शुक्रवार को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है। जज राजीव आनंद की कोर्ट ने सजा का एलान किया है। मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से 12 लोगों की गवाही कराई गई थी। वहीं बचाव पक्ष की ओर से सात लोगों ने गवाही दी। 3 जुलाई 2015 को दोषी ने पत्नी शीला देवी की हत्या कर शव को घर में रखे ट्रंक में छिपा दिया था। मामले में चार जुलाई 2015 को एफआईआर दर्ज किया गया था।

 

मृतका पूर्व फौजी की थी भाभी
एफआईआर में कहा गया था कि पूर्व फौजी महेंद्र महतो के बड़े भाई की मौत हो गई थी। इसके बाद परिजनों ने उसकी पत्नी बीआइटी मेसरा की लैब असिस्टेंट शीला से महेंद्र की शादी करा दी थी लेकिन महेंद्र इस शादी से संतुष्ट नहीं था। इसलिए उसने सुनियोजित तरीके से पत्नी की हत्या कर दी और फिर इलाहाबाद का टिकट कराकर ट्रेन में सवार हो गया। इसके बाद वह रामगढ़ में ट्रेन से उतारा और मोबाइल के जरिए पत्नी शीला की गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया। मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब शीला का बेटा शिवम कुमार सुबह उठा और मां को खोजने लगा। शीला के नहीं मिलने पर उसने परिजनों को जानकारी दी। उसने परिजनों को ये भी बताया कि घर में जगह-जगह खून के धब्बे मिले हैं। जानकारी के बाद तत्कालीन मेसरा ओपी प्रभारी आनंद कुमार मौके पर पहुंचे थे और ट्रंक से लाश की बरामदगी की गई थी। छह जुलाई को पुलिस ने आरोपी पति महेंद्र महतो को गिरफ्तार कर लिया था।

 

निर्ममता से की थी शीला की हत्या
पुलिस ने जांच पड़ताल के दौरान खून से सना चादर, दो मोबाइल फोन और अन्य सामान बरामद किया था। पुलिस के मुताबिक, लैब असिस्टेंड शीला देवी का गला रेता गया था, दोनों हाथ की नसें काट दी गई थीं, पैर व जांघ पर भी धारदार हथियार से वार किया गया था और नाजुक अंगों पर भी चाकू गोदे गए थे। इस मामले में शीला के मायके वालों की शिकायत पर पति महेंद्र महतो के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। पत्नी को अक्सर प्रताड़ित करने व अन्य कई संदिग्ध तथ्यों को आधार मानकर महेंद्र महतो को आरोपी बनाया गया था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना