अपराध / कब्रिस्तान से नाबालिग लड़की का शव बरामद, प्रेम प्रसंग के मामले में हत्या की आशंका



सिल्की गुरुंग का शव। सिल्की गुरुंग का शव।
X
सिल्की गुरुंग का शव।सिल्की गुरुंग का शव।

  • रविवार को हत्या के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को किया था गिरफ्तार
  • दोनों आरोपियों से पूछताछ के बाद पुलिस ने उनकी निशानदेही पर बरामद किया लड़की का शव

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 10:55 AM IST

रांची. सुखदेव नगर थाना क्षेत्र स्थित कब्रिस्तान से सोमवार की सुबह आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने 17 वर्षीय सिल्की गुरुंग की लाश बरामद की। सिल्की की हत्या सुखदेव नगर के धोबी मुहल्ला में रहने वाले अनुराग वर्मा उर्फ कांटी ने 28 दिसंबर 2018 को की थी। मृतका कांटी की गर्लफ्रेंड की सहेली थी। इस घटना के 14 दिन बाद कांटी ने पार्टी के बहाने कुछ साथियों के साथ मिलकर अपने एक अन्य दोस्त अनमोल की भी हत्या कर दी थी। अनमोल हत्याकांड में गिरफ्तारी के बाद आरोपियों ने पुलिस को सिल्की की हत्या की जानकारी दी। घटना को अंजाम देने के बाद कांटी ने दोनों लाश को कब्रिस्तान में दफना दिया था। 12 जनवरी को पुलिस ने अनमोल का शव बरामद किया था। सिल्की की पहचान महिला कांस्टेबल की बेटी के रूप में की गई है।

आरोपी ने कहा- मेरे और गर्लफ्रेंड के बीच दरार डाल रही थी सिल्की

  1. पूछताछ में मुख्य आरोपी कांटी ने पुलिस  को बताया कि सिल्की उसके और उसकी गर्लफ्रेंड के बीच दरार डालने का काम कर रही थी। इस वजह से वो परेशान रहने लगा था। 28 दिसंबर की रात रातू रोड के पास स्थित दुर्गा मंदिर में अनमोल और सिल्की की मुलाकात हुई थी। इसके बाद अनमोल पार्टी का बहाना कर सिल्की को कब्रिस्तान ले गया और अपने दो साथियों के साथ मिलकर उसकी गला रेत कर हत्या कर दी। पूछताछ में अनमोल ने पुलिस को बताया कि अनुराग उसका जिगरी दोस्त था। तीन साल पहले सुखदेवनगर थाना क्षेत्र में ही रहने वाली एक लड़की से अनमोल की दोस्ती हुई थी। देखते ही देखते दोस्ती प्यार में बदल गई। शादी तक करने की ठान ली थी। लेकिन इसी बीच सिल्की की वजह से उसका दोस्त अनुराग भी बीच में आ गया। सिल्की उसकी गर्लफ्रेंड पर अनुराग से बातचीत के लिए दवाब डालती थी। इस दौरान कांटी की गर्लफ्रेंड ने उससे बात कराना भी छोड़ दिया था। इसी बात से नाराज अनुराग ने 11 जनवरी को अनमोल ने पार्टी करने के बहाने अनुराग को भी कब्रिस्तान बुलाया और दोस्तों के साथ मिलकर उसकी भी हत्या कर दी। 

  2. रविवार को पुलिस ने कांटी और एक नाबालिग को किया था गिरफ्तार

    अनमोल की लाश मिलने के बाद पुलिस ने रविवार को अनुराग और उसके एक अन्य नाबालिग साथी को गिरफ्तार कर लिया था। हत्याकांड में शामिल तीसरा आरोपी अमर अभी फरार है। पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल किया गया चाकू, खून से सना कपड़ा समेत अन्य सामान बरामद किया है। सभी आरोपी धोबी मुहल्ला के रहने वाले हैं। अनमोल ने पुलिस को बताया था कि वारदात को अंजाम देने के बाद उसका नाबालिग दोस्त घबरा गया था। वह काफी देर तक कब्रिस्तान में ही बैठा रहा। इस दौरान वह काफी परेशान था। अमर के साथ मिलकर वह किसी तरह उसे संभाला और वहां से उसे लेकर नाली के रास्ते होते हुए बाहर निकला। उसने बताया कि अनुराग की हत्या करने के बाद रातभर तीनों घर से बाहर ही थे। तीनों ने रातभर खूब शराब पी। सुबह में तीनों अपने-अपने घर पहुंचे। सुबह में जब उन लोगों को पता चला कि पुलिस ने शव बरामद कर लिया है तो सबसे पहले अमर घर से फरार हो गया। इसके बाद कांटी और नाबालिग भी भागने का प्रयास कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना