सवाल-जवाब / जनता ने देखा हमारी सरकार ने पाकिस्तान को कैसा जवाब दिया; इसके आगे सारे गठबंधन बेकार हैं: जयंत सिन्हा

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 10:54 AM IST


जयंत सिन्हा। (फाइल फोटो) जयंत सिन्हा। (फाइल फोटो)
X
जयंत सिन्हा। (फाइल फोटो)जयंत सिन्हा। (फाइल फोटो)
  • comment

  • रफाल पर बोले- सुप्रीम कोर्ट और कैग ने क्लीन चिट दे दी है, अब जनता भी मान चुकी है 

रांची. केंद्र सरकार में वित्त राज्यमंत्री और बाद में नागर विमानन मंत्री बने हजारीबाग के सांसद जयंत सिन्हा को पूरा यकीन है कि इस बार झारखंड की सभी 14 लोकसभा सीटें भाजपा जीतने वाली है। विपक्ष का महागठबंधन बिल्कुल
बेअसर होगा। उनका साफ कहना है कि विकास की राजनीति और भ्रष्टाचार के खात्मे के साथ पाकिस्तान को करारा जवाब देने की भाजपा की नीति के आगे किसी और पार्टी की कोई रणनीति काम नहीं आएगी। शुक्रवार को दैनिक भास्कर
कार्यालय में अपने क्षेत्र, पार्टी और परिवार पर सवालों का उन्होंने सीधा जवाब दिया। 

 

सवाल- पहली बार राज्य में सभी विपक्षी पार्टियों ने महागठबंधन बनाया है, इसका क्या असर होगा? 
जवाब-
कोई भी गठबंधन हो, फर्क नहीं पड़ने वाला। सभी 14 सीट जीत रहे हैं। 3 ही बातें हैं जिन पर जनता की निगाह है। पहली, विकास के जो काम पिछले साठ साल में नहीं हुए, हमने 60 माह में किए। दूसरी भ्रष्टाचार को मिटाकर लोगों का
भरोसा जीता है। तीसरी राष्ट्रीय सुरक्षा की। जिस तरह से हमारी सरकार ने पुलवामा का जवाब दिया है, पाकिस्तान पर बम बरसाए हैं। इन तीनों बिंदु पर जनता न दाएं देखती है ना बाएं। सिर्फ भाजपा की जीत की बात ही सोचती है। 

 

सवाल- जाति-धर्म चुनाव में कितना बड़ा फैक्टर है? 
जवाब-
वो पुरानी राजनीति है, जो विनाश की है। नई राजनीति, न्यू इंडिया बनाने की है। लोग परफॉरमेंस देखते हैं। 

 

सवाल- आज विकास बड़ा मुद्दा है या राष्ट्रवाद? 
जवाब-
दोनों ही महत्वपूर्ण हैं। पर आज के समय में पुलवामा हुआ है, हमने पाकिस्तान पर मिसाइलें बरसाई हैं, ऐसे में आज राष्ट्रभक्ति चरम पर है। 

 

सवाल- रफाल के विषय में आपकी क्या राय है? 
जवाब-
रफाल पर सुप्रीम कोर्ट और कैग ने क्लीन चिट दे दी है। सदन में चर्चा हुई। वित्त व रक्षा मंत्री और प्रधानमंत्री ने सफाई दी। जनता भी मान चुकी है। 

 

सवाल- केंद्र में वित्त राज्य मंत्री व नागर विमानन मंत्री रहे, झारखंड को क्या लाभ मिला? 
जवाब-
वित्त राज्य मंत्री रहते हुए हमलोगों ने मुखियाओं को मिलने वाली सालाना राशि दो लाख से बढ़ाकर 30 लाख करने की 14वें वित्त आयोग की सिफारिश को मंजूर करवाया। विमानन क्षेत्र में 4 साल में रांची एयरपोर्ट से फ्लाइट्स 12 से बढ़कर 32 हो गई। हम राज्य में 7 छोटे-बड़े एयरपोर्ट्स की तैयारी कर रहे हैं। इसके अलावा बोकारो, गिरिडीह और धनबाद के लिए एक नया एयरपोर्ट बनाने का प्रस्ताव है जहां बड़े विमान उतर सकें। 

 

सवाल- महिला सशक्तिकरण के लिए लोकसभा में किसी महिला को टिकट देंगे क्या? 
जवाब-
टिकट देने का मामला चल रहा है, पार्टी निर्णय लेगी। 

 

सवाल- जनता आपको क्यों वोट दे, क्या नया किया? 
जवाब-
मैंने निजी स्तर पर मेडिकल कॉलेज, पतरातू में थर्मल प्लांट, कृषि अनुसंधान केंद्र समेत कई काम किए। मैं हर साल अपना रिपोर्ट कार्ड खुद छपवाता हूं। सांसद निधि खर्च करने में भी राज्य में मेरा स्थान सबसे ऊपर है। मैंने एमपीलैड से 1100 योजनाओं को पैसा दिया है। 

 

सवाल- भाजपा अन्य दलों पर परिवारवाद का आरोप लगाती है, आप भी तो राजनीतिक परिवार से हैं? 
जवाब-
मैं एक सफल प्रोफेशनल करियर के बाद 50 साल की उम्र में राजनीति में आया। मुझे विरासत मिली। विरासत और परिवारवाद में अंतर है। मैं देश को कुछ देने के लिए आया हूं, कुछ लेने के लिए नहीं। 

 

सवाल- आपके पिता यशवंत सिन्हा आज भाजपा के विरोध में हैं, क्या वे आपको वोट देंगे? 
जवाब-
यह सवाल आपको उनसे पूछना चाहिए। सभी के अपने विचार हैं। मुझे भरोसा है कि वे मुझे वोट देंगे। 

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन