नाराजगी / विनय महतो हत्याकांड में पुलिस जांच से संतुष्ट नहीं हाईकाेर्ट, कहा- सीबीआई काे दे सकते हैं केस



विनय महतो। (फाइल फोटो) विनय महतो। (फाइल फोटो)
X
विनय महतो। (फाइल फोटो)विनय महतो। (फाइल फोटो)

  • सफायर इंटरनेशनल स्कूल का छात्र था विनय महतो
  • चार फरवरी 2016 को हुई थी हत्या

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 11:33 AM IST

रांची. सफायर इंटरनेशनल स्कूल के छात्र विनय महताे हत्याकांड की पुलिस जांच से हाईकाेर्ट संतुष्ट नहीं है। हाईकाेर्ट ने तीन साल से इस मामले की जांच कर रही रांची पुलिस की कार्यप्रणाली पर नाराजगी जताते हुए चार हफ्ते के भीतर एफएसएल की जांच रिपाेर्ट मांगी है। जस्टिस एके गुप्ता की काेर्ट ने कहा कि अगर पुलिस 24 जुलाई तक एफएसएल की रिपाेर्ट नहीं देती है ताे काेर्ट फैसला सुना देगा। इस मामले की जांच सीबीआई काे भी साैंपी जा सकती है। विनय के पिता मनबहावन महताे की याचिका पर काेर्ट ने पुलिस काे यह निर्देश दिया। 

 

24 जुलाई तक एफएसएल रिपाेर्ट दें, वरना काेर्ट सुनाएगा फैसला 
सुनवाई के दाैरान याचिकाकर्ता के वकील जितेंद्र शंकर सिंह अाैर रणधीर कुमार ने कहा-घटना काे तीन साल बीत चुके हैं। लेकिन अब तक जांच अधिकारी ने ट्रायल काेर्ट में एफएसएल रिपाेर्ट नहीं साैंपी है। एेसे में पुलिस की जांच पर सवाल उठता है। यही नहीं, पुलिस ने एेसे लाेगाें काे अाराेपी बनाकर जेल भेज दिया है, जाे दूसरे स्कूल के शिक्षक हैं। जबकि घटना सफायर इंटरनेशनल स्कूल परिसर में 4 फरवरी 2016 काे रात 1:30 बजे घटी थी। घटना के समय स्कूल के सभी शिक्षक और अधिकारी वार्षिकाेत्सव मनाने की तैयारी में जुटे हुए थे। 

 

एफएसएल रिपाेर्ट न मिलने से निचली अदालत में गवाही रुकी 
इस मामले में निचली अदालत में गवाही चल रही थी। जब्त सामानाें काे जांच के लिए विधि विज्ञान प्रयाेगशाला काेलकाता भेजा गया है। पुलिस ने आरिफ अली, उसकी पत्नी नाजिया हुसैन और नाबालिग बेटा-बेटी काे आराेपी बनाया था। बाल काेर्ट में दाेनाें के खिलाफ मामले की सुनवाई हुई और काेर्ट ने दाेनाें काे बरी कर दिया। पुलिस ने आरिफ अली और नाजिया हुसैन के खिलाफ 6 मई 2016 काे चार्जशीट दाखिल कर दी है। एफएसएल रिपाेर्ट न आने से गवाही रुक गई है। 

 

काेर्ट ने प्रिंसिपल व वाइस प्रिंसिपल सहित 8 नए आराेपी बनाए थे 
पिछले साल 1 जून काे न्यायायुक्त शिवपाल सिंह की अदालत ने 8 नए लाेगाें काे आराेपी बनाया था। इनमें प्रिंसिपल दूर्वा दास, वाइस प्रिंसिपल मालविका शर्मा, वॉर्डन अतानु नाग, बाेर्डिंग हेड आरएन प्रधान, विंग पैरेंट कनिका बाेस, नर्स पुतुल देवी और दाे गार्ड संजय लाेहरा व चामा मुंडा शामिल हैं। काेर्ट ने कहा था कि घटना वाले दिन स्कूल के वार्षिक समाराेह का रिहर्सल चल रहा था। उस दाैरान छात्र ने कुछ गलत काम देख लिया था। जिसके चलते षड्यंत्र रचकर उसकी हत्या की गई। साक्ष्य छिपाने की नीयत से जख्मी हालत में उसे आवासीय फ्लैट के पास रख दिया गया। 

 

परिवार ने बुधवार को मनाया विनय महतो का 16वां बर्थडे 
मनबहावन महताे ने पुलिस की जांच पर सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर विनय का हत्यारा काैन है? उसे किसने मारा और क्याें मारा? पुलिस अब तक हत्याराें तक क्याें नहीं पहुंच पाई है। आज मेरे बेटे का जन्मदिन है। वह जिंदा हाेता ताे आज 16 साल का हाेता। बुधवार का अरगाेड़ा पुंदाग साेसाइटी के जयश्री अपार्टमेंट में उसका जन्मदिन मनाया गया। विनय की हत्या के बाद से परिवारवाले हर साल उसका जन्मदिन मना रहे हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना