झारखंड / बसपा विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता ने सदन में दिया विधायिकी से इस्तीफा

कुशवाहा शिवपूजन मेहता। (फाइल फोटो) कुशवाहा शिवपूजन मेहता। (फाइल फोटो)
X
कुशवाहा शिवपूजन मेहता। (फाइल फोटो)कुशवाहा शिवपूजन मेहता। (फाइल फोटो)

  • इस्तीफा देने के बाद काफी देर तक मायूस रहे कुशवाहा, कहा- याचना नहीं अब रण होगा

दैनिक भास्कर

Jul 26, 2019, 07:28 PM IST

रांची. जपला सीमेंट फैक्ट्री की जमीन पर उद्योग लगाने के सरकार द्वारा समयवद्ध ठोस अाश्वासन नहीं दिये जाने के विरोध में बसपा के विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता ने सदन में ही स्पीकर को अपना इस्तीफा सौंप दिया। बाद में उनसे इस्तीफे के बारे में पूछने पर उन्होंने दैनिक भास्कर से कहा कि अब याचना नहीं रण होगा। हालांकि इस्तीफा देने के बाद कुशवाहा काफी देर तक मायूस रहे। इस्तीफा देने के बाद भी अाकर अपनी सीट पर बैठे। फिर वहां से उठ कर विपक्षी लॉबी में गये। फिर सदन में भी अाये और चले गये। 

 

सीपी सिंह और मेहता के बीच नुक्ता-चीनी
दरअसल, कुशवाहा ने शुक्रवार को सदन में अपना गैर सरकारी संकल्प लाया था। उसमें उनका कहना था कि पलामू जिले के हुसैनाबाद प्रखंड स्थित जपला सीमेंट फैक्ट्री का स्क्रैप निलाम हो गया तथा फैक्ट्री का जमीन बचा हुअा है। इस जमीन पर उद्योग लगनी चाहिए। इसके जवाब में सरकार की ओर से मंत्री सीपी सिंह ने बताया कि हाईकोर्ट के अादेश पर लिक्विडेटर नियुक्त करने की प्रक्रिया की जा रही है। निवेशक के अाते ही वहां पर सरकार किसी उद्योग को लगाने की दिशा में तत्परता से काम करेगी। इस क्रम में मंत्री व मेहता के बीच काफी नुक्ता-चीनी भी हुई। मंत्री ने कहा कि सरकार जो अाश्वासन देती है, उसे पूरा करती है। सरकार बिजनेस नहीं करती। मेहता भी बोलते चले गये कि सरकार शराब बेचती है और कहती है कि बिजनेस नहीं करते। ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट हुअा, कोई भी निवेशक क्यों नहीं अाया। बात बढ़ती गयी और स्पीकर ने कहा कि अाप अपना संकल्प वापस लेंगे या अासन मतविभाजन कराये। मेहता तैयार नहीं हुए और कहा कि वह विधायिकी से इस्तीफा देना पसंद करेंगे। यह कहते हुए वह स्पीकर के पास अपना इस्तीफा सौंप दिया। हालांकि स्पीकर ने उस समय सुझाव भी दिया कि भावावेश में निर्णय लेना उचित नहीं होगा। बाद में हेमंत सोरेन, सुखदेव भगत, इरफान अंसारी ने भी बहुत समझाने की कोशिश की पर मेहता कुछ भी बोलने के बदले उदास होकर बैठ गये।

 

इस्तीफे के बाद की अावश्यक प्रक्रिया की जा रही है : स्पीकर
कुशवाहा शिवपूज मेहता के इस्तीफे को स्वीकार कर लिया गया है, इसके जवाब में स्पीकर दिनेश उरांव ने कहा-इस्तीफा देने के बाद उसे स्वीकार करने की अावश्यक प्रक्रिया है। उसे शुरू कर दी गयी है। स्वीकार करने पर उसे अापलोगों को भी बता दिया जायेगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना