रांची / चुनाव में फंसा रातू रोड फ्लाईओवर का निर्माण, जून के बाद होगा काम



Ranchi news loksabha chunav 2019 Construction of Ratu road flyover after June
X
Ranchi news loksabha chunav 2019 Construction of Ratu road flyover after June

  • डिजाइन और टेंडर की लेट-लतीफी से फंसा प्रोजेक्ट, 3 बार टेंडर का समय बढ़ा 
  • इस वर्ष काम शुरू होता है तो 2021 में फ्लाईओवर का काम पूरा होगा 

Dainik Bhaskar

Mar 11, 2019, 12:04 PM IST

रांची. रातू रोड में थ्री लेन फ्लाईओवर का मामला एक बार फिर फंस गया है। भारत निर्वाचन आयोग ने लोकसभा चुनाव की घोषणा कर दी है। रविवार को चुनाव की घोषणा के साथ ही देशभर में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई। यानी अब न तो कोई नया काम शुरू हो सकता और ना कोई नई घोषणा हो सकती। ऐसे में अब रातू रोड फ्लाईओवर का काम 23 मई तक किसी भी हाल में शुरू नहीं हो सकता। 
 

अगस्त से बारिश का मौसम भी शुरू हो जाएगा

  1. नई सरकार बनने के बाद जून में काम शुरू हो सकता है, लेकिन इसकी भी संभावना काफी कम है, क्योंकि अगस्त तक बारिश का मौसम होता है। इसमें रातू रोड जैसे महत्वपूर्ण मार्ग में गड्ढा करना मुश्किल होगा। इसलिए रातू रोड फ्लाईओवर का काम अगले तीन-चार माह में शुरू होना मुश्किल है। इस वर्ष काम शुरू भी होता है तो वर्ष 2021 में फ्लाईओवर का काम पूरा होगा। 2 वर्ष में फ्लाईओवर का काम पूरा करना है। एनएचएआई के अधिकारी भी मान रहे हैं कि इस माह टेंडर फाइनल हो जाएगा, लेकिन काम शुरू नहीं हो सकता। ज्ञात हो िक शहर को जाम से मुक्ति दिलाने के लिए रातू रोड से पिस्का मोड़ और राजभवन से कार्तिक उरांव चौक तक फ्लाईओवर बनना है। 

  2. एनएचएआई की ओर से टेंडर खोलने में ही देरी हो गई

    रातू रोड फ्लाईओवर का निर्माण एनएचएआई के द्वारा कराया जाएगा। एनएचएआई ने टेंडर खोलने में ही लेटलतीफी कर दी। कांट्रैक्टर चयन के लिए 1 जनवरी को टेंडर खोलना था, लेकिन इसे बढ़ाकर 6 फरवरी कर दिया गया। निर्धारित तिथि से पहले ही फिर टेंडर खोलने की तिथि बढ़ाकर 22 फरवरी कर दी गई। उक्त तिथि को भी टेंडर नहीं खुला, लेकिन एनएचएआई ने टेंडर खोलने का समय फिर बढ़ाकर 15 मार्च कर दिया। अब टेंडर खुलेगा और कंपनी का चयन हो भी जाता है तो भी काम शुरू नहीं होगा। 

  3. हरमू फ्लाईओवर की डिजायन

    हरमू फ्लाईओवर की डिजायन की वजह से भी रातू रोड फ्लाईओवर का मामला फंसा। क्योंकि, न्यू मार्केट चौक पर हरमू और रातू रोड फ्लाईओवर एक-दूसरे से टकरा रहे थे। यहां दोनों फ्लाईओवर के उपर से ट्रैफिक मूवमेंट कराने का मामला फंस गया। बाद में एनएचएआई ने साफ कर दिया कि मेकॉन द्वारा न्यू मार्केट चौक पर प्रस्तावित रोटरी की डिजायन फिजिबल नहीं है। इस विवाद में तीन माह गुजर गया। 

  4. रातू रोड में प्रस्तावित फ्लाईओवर के लिए जमीन की काफी कमी

    रातू रोड में प्रस्तावित फ्लाईओवर के लिए करीब 20 रैयतों की जमीन का अधिग्रहण किया जाना है। क्योंकि, 1.40 एकड़ रैयती जमीन फ्लाईओवर की जद में आ रही है। पिस्का मोड़ के पास पंडरा और आईटीआई रोड में फ्लाईओवर का स्लोप बनेगा, इसलिए दोनों रूट में रैयती जमीन का अधिग्रहण करने के लिए एनएचएआई ने जिला प्रशासन को छह माह पहले ही प्रस्ताव भेजा था, लेकिन जमीन का अधिग्रहण नहीं हो पाया। इससे भी देरी हुई। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना