रांची / कागजों पर तीसरी बार हरमू व रातू रोड फ्लाईओवर योजना, रोटरी पर फिर 'हां'



बैठक के दौरान नगर विकास सचिव व अन्य। बैठक के दौरान नगर विकास सचिव व अन्य।
X
बैठक के दौरान नगर विकास सचिव व अन्य।बैठक के दौरान नगर विकास सचिव व अन्य।

  • नगर विकास विभाग ने एनएचएआई को भेजी डीपीआर, 468 करोड़ खर्च होंगे

Dainik Bhaskar

Oct 11, 2019, 10:48 AM IST

रांची. चार वर्षों से हरमू और रातू रोड फ्लाईओवर कागजों पर ही बन रहा, सुधर रहा। कभी रोटरी तो कभी जमीन अधिग्रहण के कारण फ्लाईओवर का प्लान रिजेक्ट किया जाता रहा। अब तीसरी बार दिल्ली की कंपनी रोडिक इंफ्रास्ट्रक्चर ने डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार कर दी है। लेकिन इसमें भी जमीन का मामला आ गया है। रिपोर्ट में न्यू मार्केट चौक पर रोटरी बनाने के लिए 1.31 एकड़ रैयती जमीन के अधिग्रहण का प्रस्ताव दिया गया है। नगर विकास विभाग की कंपनी जुडको ने 468 करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट तैयार कर एनएचएआई को डीपीआर भेज दी है। इसे लेकर नगर विकास सचिव अजय कुमार सिंह ने गुरुवार को बैठक की। 

 

झारखंड अर्बन इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कंपनी (जुडको) के पदाधिकारियों ने बताया कि रातू रोड और हरमू फ्लाईओवर में सबसे बड़ी बाधा न्यू मार्केट चौक पर दोनों फ्लाईओवर पर ट्रैफिक मूवमेंट कराना है। इसलिए चौक पर रोटरी बनाई जाएगी। इसके लिए कुल 4.21 एकड़ जमीन ली जाएगी। इसमें 2.93 एकड़ जमीन नगर निगम और सरकार की है। जबकि 1.31 एकड़ रैयती जमीन का अधिग्रहण करना होगा। सचिव ने जमीन अधिग्रहण करने सहित अन्य प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया, ताकि जल्द काम शुरू हो सके। 

 

न्यू मार्केट चौक पर 1.31 एकड़ रैयती जमीन के अधिग्रहण का प्रस्ताव 
मेकॉन ने वर्ष 2016 में ही हरमू फ्लाईओवर की डीपीआर तैयार की थी। उस समय रातू रोड फ्लाईओवर बनाने की योजना नहीं बनी थी। वर्ष 2017 में एनएचएआई ने रातू रोड में फ्लाईओवर बनाने की डीपीआर तैयार की। इसके बाद न्यू मार्केट चौक पर दोनों फ्लाईओवर का मिलान हो गया। इसे देखते हुए मेकॉन और पथ निर्माण विभाग के इंजीनियरों ने न्यू मार्केट चौक पर रोटरी बनाकर दोनों फ्लाईओवर के ट्रैफिक मूवमेंट का सुझाव दिया, लेकिन जमीन अधिग्रहण नहीं होने के कारण मामला अटक गया। इसके बाद न्यू मार्केट पर दोनों फ्लाईओवर को एक-दूसरे के ऊपर-नीचे से गुजारने की योजना बनी। लेकिन राजभवन ने जमीन देने से इनकार कर दिया। तब जाकर रोडिक इंफ्रास्ट्रक्चर को बुलाया गया। एक वर्ष तक न्यू मार्केट चौक पर ट्रैफिक मूवमेंट कराने की योजना बनती-बिगड़ती रही। आखिरकार रोडिक ने भी रोटरी बनाने का ही प्रस्ताव दिया। 

 

दोनों फ्लाईओवर 3 लेन का होगा, लंबाई 6 किमी होगी 
रातू रोड और हरमू फ्लाईओवर तीन लेन का होगा। इसकी लंबाई करीब 6 किमी होगी। रातू रोड फ्लाईओवर का निर्माण जाकिर हुसैन पार्क से पिस्कामोड़ के दोनों तरफ तक होगा। हरमू फ्लाईओवर जज कॉलोनी से हरमू नदी पुल तक बनेगा। सिंगल पिलर पर ही थ्री लेन फ्लाईओवर की डीपीआर बनी है। फ्लाईओवर के नीचे दोनों तरफ कुल 5.5 मीटर चौड़ा सर्विस रोड बनेगा। 

 

आगे क्या : अगले साल ही शुरू हो पाएगा काम 
दोनों फ्लाईओवर का काम जल्द शुरू करने का निर्देश तो दिया गया है, लेकिन काम अगले साल ही शुरू हो पाएगा। वजह यह है कि जमीन अधिग्रहण से टेंडर तक 4 माह का समय लगेगा। इस माह के अंत तक विधानसभा चुनाव की घोषणा होगी। दिसंबर में सरकार बनेगी। 

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना