सीबीएसई / 10वीं और 12वीं में 15 जुलाई के बाद सब्जेक्ट चेंज नहीं कर सकेंगे स्टूडेंट्स, मानक तय



Ranchi news Standard for Subject Change in CBSE 10th and 12th
X
Ranchi news Standard for Subject Change in CBSE 10th and 12th

  • सब्जेक्ट चेंज कराने के लिए देनी होगी सही वजह, स्टूडेंट्स के दिए गए कारणों की जांच भी होगी 

Dainik Bhaskar

Jul 10, 2019, 12:38 PM IST

रांची. वर्ष 2020 में होने वाले बोर्ड एग्जाम के लिए 10वीं-12वीं के स्टूडेंट्स के विषय में परिवर्तन की जारी अंतिम तिथि में अब कुछ दिन ही शेष हैं। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से इसके लिए आखिरी तारीख 15 जुलाई तय है। विभिन्न सीबीएसई स्कूलों के स्टूडेंट्स जो अपने सब्जेक्ट्स में बदलाव चाहते हैं, वे 15 जुलाई के बाद आवेदन नहीं कर सकेंगे। साथ ही, वैसे स्टूडेंट्स, जो अपने सब्जेक्ट्स में बदलाव करना चाहते हैं उन्हें अपने सब्जेक्ट्स चेंज कराने का जायज कारण भी देना होगा। विषय परिर्वतन से पहले स्कूल इस बात का सत्यापन करेगा कि विषय में बदलाव का कारण सही है या नहीं। स्टूडेंट्स का 9वीं या 11वीं क्लास में कैसा प्रदर्शन रहा,इस पर भी गौर किया जाएगा। साथ ही स्कूल को स्टूडेंट्स की ओर से दिए गए एप्लिकेशन के दौरान इस बात का भी ध्यान रखना होगा कि स्टूडेंट्स द्वारा बदलाव किए जानेवाले विषय को पढ़ाने के लिए स्कूल में टीचर अवेलेबल हैं या नहीं। 

 

विषय परिवर्तन के लिए पिछली क्लास का रिपोर्ट कार्ड होगा महत्वपूर्ण 

  • विषय परिवर्तन के लिए मानक तय हैं। यदि स्टूडेंट का स्कूल वही है, तो सब्जेक्ट चेंज के लिए स्टूडेंट को पिछली क्लास की रिपोर्ट कार्ड देना होगा। यदि स्टूडेंट मेडिकल ग्राउंड पर विषय में बदलाव चाहता तो गर्वमेंट हॉस्पीटल का सर्टिफिकेट लगेगा। 
  •  वैसे स्टूडेंट्स जिनका किसी दूसरे स्कूल में ट्रांसफर का केस है तो ऐसे में स्टूडेंट्स का पिछले साल के सर्टिफिकेट के साथ ही ट्रांसफर सर्टिफिकेट भी स्कूल से ही बना कर देना होगा। 
  •  वैसे स्टूडेंट जो अपने ही स्कूल में रहते हुए सब्जेक्ट चेंज करना चाहते हैं तो उन्हें पिछली क्लास यानी 9वीं या 11वीं का रिपोर्ट कार्ड देना होगा। 
  •  मेडिकल पर आधारित सब्जेक्ट चेंज करने वाले स्टूडेंट्स को इसके लिए गर्वमेंट मेडिकल सर्टिफिकेट देना जरूरी होगा। 
  •  सब्जेक्ट चेंज से संबंधित सारे जरूरी डाक्यूमेंट्स भी सब्जेक्ट चेंज के लिए अप्लाई करते समय ही देने होंगे। ये सारी प्रक्रिया 15 जुलाई के पहले ही करना जरूरी है। 

15 सितंबर तक अपनी मंजूरी देगा सीबीएसई 
स्टूडेंट्स और पैरेंट्स की ओर से सब्जेक्ट चेंज का एप्लीकेशन मिलने के बाद स्कूल को अपने स्कूल के विषय बदलाव के अनुरोध को संबंधित दस्तावेज के साथ 21 जुलाई तक बोर्ड को भेज देना होगा। अनुरोध में किसी भी प्रकार की कमी पाए जाने पर सीबीएसई का क्षेत्रीय कार्यालय 20 अगस्त तक स्कूल को इस बारे में सूचना दे देगा। साथ ही संबंधित कमी को पूरा करने के लिए स्कूल के पास 27 अगस्त तक का समय भी होगा। जबकि 15 सितंबर तक सीबीएसई इस पर अपनी मंजूरी दे देगा। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना