रांची / हाथी के हमले से दो अलग-अलग घटना में महिला और युवक की मौत



मृतका के परिजनों को दी गई 20 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि। मृतका के परिजनों को दी गई 20 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि।
X
मृतका के परिजनों को दी गई 20 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि।मृतका के परिजनों को दी गई 20 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि।

  • वन विभाग ने मृतक के परिजनों को दी 20-20 हजार की तत्काल मुआवजा राशि

Dainik Bhaskar

Aug 16, 2019, 07:30 PM IST

खूंटी. रनिया थाना क्षेत्र के निचितपुर गांव में गुरुवार की रात जंगली हाथियों के झुंड ने जमकर आतंक मचाया। दो अलग-अलग घरों के कुल सात लोगों पर जानलेवा हमला किया। पहली घटना निचितपुर गांव की है जहां हाथियों के झुंड ने घर में सोयी वृद्ध महिला को दबोच कर मार डाला। वहीं दूसरी घटना जयपुर के टालडा गांव की है जहां हाथियों ने एक युवक को पटक कर मार डाला। दोनों ही घटना की सूचना के बाद उनके घर पहुंची वन विभाग की टीम ने मृतक के आश्रितों को 20-20 हजार रुपए की तत्काल मुआवजा राशि दी है।

 

एक अन्य युवक ने भागकर बचाई जान
निश्चितपुर गांव के लोगों ने बताया कि रात लगभग एक बजे के करीब झुंड से बिछड़े हाथी 75 वर्षीय मेरी देवी के घर पहुंचा। इसके बाद हाथी ने घर के दीवार और दरवाजे को तोड़ दिया। फिर सामने सो रही मेरी देवी को कुचल कर मार डाला। मेरी देवी के तीन बेटे हैं, तीनों काम के सिलसिले में झारखंड से बाहर रहते हैं। मेरी के साथ उनकी बड़ी बहू अनिता देवी व पोता रहता है। वन विभाग व रनिया थाना मौके पर पहुंच कर शव का पंचनामा किया तथा पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल खूंटी भेज दिया। साथ ही मुआवजा राशि के तौर पर मृतका की बहू अनीता देवी को 20 हजार रुपए तत्काल मुआवाज राशि के तौर पर दिया गया। उधर, मेरी देवी को कुचलने के बाद हाथी गांव के ही बढ़ईया तोपनो के घर के पास पहुंचा और उसके घर का भी दरवाजा तोड़ दिया। इसके बाद हाथी ने घर में सो रहे अनमोल तोपनो पर हमला करने की कोशिश की। लेकिन दरवाजा टूटने की आवाज सुनकर अनमोल ने भाग कर जान बचाई। 

 

टालडा गांव में युवक को पटक कर मार डाला
गुरुवार की रात ही दूसरी घटना में जयपुर के टालडा गांव में चार हाथियों के झुंड ने उत्पात मचाया। इस दौरान हाथियों ने अगुस्तीन तोपनो 38 वर्ष को पटक कर मार डाला। मृतक युवक अगुस्तीन गुरुवार को बंडा पहाड़ की ओर गया था वहां से लौटने के क्रम में रात हो गई। साढ़े आठ बजे के करीब जयपुर गांव में चार हाथियों के झुंड ने हमला कर दिया। हाथियों को भगाने के क्रम में गांववालों ने उसे बंडा पहाड़ की ओर खदेड़ा। इस दौरान सामने से आ रहे अगुस्तीन को हाथियों के बारे में कोई जानकारी नहीं होने के कारण वह उनकी चपेट में आ गया। सुबह जंगल की ओर गए ग्रामीणो को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने इस संबंध में रनिया थाना को इसकी सूचना दी। वन विभाग ने अगुस्तीन की पत्नी बीसीआ डाहंगा को 20 हजार रुपए तत्काल मुआवजा राशि के तौर पर दिया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना