रांची / पुलिस कर रही थी कैंप, फिर भी घर में घुसकर महिला को पीटा-लूटा और मुंह में जलता तौलिया ठूंसा

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 10:41 AM IST


सुनीता देवी के साथ तीनों युवकों ने पहले गाली-गलौज की और जान से मारने की धमकी दी। सुनीता देवी के साथ तीनों युवकों ने पहले गाली-गलौज की और जान से मारने की धमकी दी।
घर पर आए लोगों ने ईंट और पत्थर से मारकर घर का एसबेस्टस तोड़ दिया। घर पर आए लोगों ने ईंट और पत्थर से मारकर घर का एसबेस्टस तोड़ दिया।
गायत्री नगर निवासी कारपेंटर का काम करने वाले गौतम कुमार सिंह को असामाजिक तत्वों ने जमकर डंडे से पीटा। गायत्री नगर निवासी कारपेंटर का काम करने वाले गौतम कुमार सिंह को असामाजिक तत्वों ने जमकर डंडे से पीटा।
सुनीता खाना बना रही थी, उसी समय 3 युवक घर में घुसे। सुनीता से मारपीट करने लगे। इसके बाद वहां रखे लाल मिर्च पाउडर को उसके शरीर पर उड़ेल दिया। सुनीता खाना बना रही थी, उसी समय 3 युवक घर में घुसे। सुनीता से मारपीट करने लगे। इसके बाद वहां रखे लाल मिर्च पाउडर को उसके शरीर पर उड़ेल दिया।
विवाद बढ़ा तो ऑटो जला दी गई थी। विवाद बढ़ा तो ऑटो जला दी गई थी।
X
सुनीता देवी के साथ तीनों युवकों ने पहले गाली-गलौज की और जान से मारने की धमकी दी।सुनीता देवी के साथ तीनों युवकों ने पहले गाली-गलौज की और जान से मारने की धमकी दी।
घर पर आए लोगों ने ईंट और पत्थर से मारकर घर का एसबेस्टस तोड़ दिया।घर पर आए लोगों ने ईंट और पत्थर से मारकर घर का एसबेस्टस तोड़ दिया।
गायत्री नगर निवासी कारपेंटर का काम करने वाले गौतम कुमार सिंह को असामाजिक तत्वों ने जमकर डंडे से पीटा।गायत्री नगर निवासी कारपेंटर का काम करने वाले गौतम कुमार सिंह को असामाजिक तत्वों ने जमकर डंडे से पीटा।
सुनीता खाना बना रही थी, उसी समय 3 युवक घर में घुसे। सुनीता से मारपीट करने लगे। इसके बाद वहां रखे लाल मिर्च पाउडर को उसके शरीर पर उड़ेल दिया।सुनीता खाना बना रही थी, उसी समय 3 युवक घर में घुसे। सुनीता से मारपीट करने लगे। इसके बाद वहां रखे लाल मिर्च पाउडर को उसके शरीर पर उड़ेल दिया।
विवाद बढ़ा तो ऑटो जला दी गई थी।विवाद बढ़ा तो ऑटो जला दी गई थी।

  • 100 से ज्यादा परिवार है दहशत में
  • स्थानीय लोगों ने कहा- स्थाई टीओपी की व्यवस्था करे पुलिस

रांची/रातू. सिमलिया के गायत्री नगर में गुरुवार की सुबह करीब 10 बजे एक घर में तीन असामाजिक तत्व घुस गए। घर में सिर्फ अकेली महिला थी, जिसके साथ तीनों युवकों ने पहले अभद्र व्यवहार और मारपीट की। फिर लूटपाट की। बच्चे के इलाज के रखे 50 हजार रुपए लूट लिए। जाने से पहले तीनों युवकों ने एक तौलिया में आग लगाकर महिला के मुंह में डाल दिया। जाते-जाते घर में रखे बिस्तर में भी आग लगा दी और महिला के शरीर पर मिर्च का पाउडर डाल दिया।

लकड़ी का काम करने वाले के घर हुई घटना

  1. घटना बढ़ई मिस्त्री का काम करने वाले जीतेंद्र मिस्त्री के घर मंे हुई। उनकी पत्नी सुनीता देवी घर में अकेली थी। वह सुबह खाना बना रही थी, तभी अचानक तीन युवक घर में घुसे। एक ने दरवाजे की छिटकनी लगा दी। दूसरे युवक ने सुनीता के पीठ पर पीछे से हाथ रखा। सुनीता देवी पीछे मुड़ी तो युवकों को देख डर गई। तीनों युवक उनके साथ पहले गाली गलौज करने लगे। उन्हें जान से मारने की धमकी देने लगे। वह डर गई और कहा जो ले जाना है ले जाओ, लेकिन मुझे छोड़ दो। घटना के तुरंत बाद सुनीता देवी ने अपने पति जीतेंद्र मिस्त्री को इसकी जानकारी दी। जीतेंद्र तुरंत घर पहुंचे और आसपास के लोगों को इस बात की जानकारी दी। 

  2. महज 500 मीटर की दूरी पर ही पुलिस कर रही है कैंप

    घटना स्थल से महज 500 मीटर की दूरी पर ही पुलिस कैंप की हुई है। इसके बाद भी असामाजिक तत्वों को इस बात का डर नहीं हुआ। सूचना पाकर डीएसपी सहित अन्य पुलिस अधिकारी जीतेंद्र मिस्त्री के घर पहुंच और पूरे मामले की जानकारी ली। पुलिस उन तीनों युवकों की तलाश कर रही है। लेकिन, अबतक उनके बारे में पुलिस को जानकारी नहीं मिली है। मंगलवार की रात सिमलिया में दो पक्षों में हुई पत्थरबाजी और झड़प के बाद अगले दिन बुधवार को शांति समिति की बैठक हुई थी। जिसमें दोनों पक्षों ने इस बात का आश्वासन दिया था कि अब पूरे इलाके में दोनों पक्ष शांति और सौहार्द के साथ रहेंगे। इसके अगले दिन गुरुवार को इस तरह की घटना हो गई। 

  3. 25 से 30 घरों में हुई थी तोड़फोड़ कई लोगों को बुरी तरह से पीटा

    मंगलवार की रात दो पक्षों में हुई पत्थरबाजी और झड़प के बाद असामाजिक तत्वों ने 25 से 30 घरों को निशाना बनाया था। गायत्री नगर में अधिकतर घरों की छत एसबेस्टस के हैं। असामाजिक तत्वों ने छतों पर पर बड़े-बड़े पत्थर फेंके थे। इस वजह से एसबेस्टस टूट गए, अब इन घरों के लोग काफी डरे-सहमे हुए हैं। गायत्री नगर निवासी कारपेंटर का काम करने वाले गौतम कुमार सिंह को असामाजिक तत्वों ने जमकर डंडे से पीटा। उनके शरीर पर चोट के निशान अभी भी हैं। असामाजिक तत्वों ने राजमिस्त्री का काम करनेवाले गणेश सिंह को भी मारकर घर के पीछे फेंक दिया था, जो अब रिम्स में भर्ती हैं। 

  4. 300 से अधिक की संख्या में घुसे थे असामाजिक तत्व

    मंगलवार रात की घटना के बाद से गायत्री नगर में पुलिस कैंप कर रही है। फिर भी वहां के लोग सहमे हुए हैं। लोगों ने बताया कि मंगलवार की रात 300 से अधिक असामाजिक तत्व गायत्री नगर में घुसे थे। सभी के हाथों में डंडे व हथियार के अलावा पेट्रोल भरे बोतल थे। जिन्हें वे घरों पर आग लगाने के लिए फेंक रहे थे। 

  5. जो चोरी करने आते हैं, उन्हें रोकने पर होती है लड़ाई

    गायत्री नगर से सटे दूसरे मुहल्ले के कुछ लोगों पर आरोप है कि वे दिन में आते हैं और बंद घरों में ताला तोड़ कर चोरी करते हैं। अगर, उन्हें रोका जाता है तो वे लड़ाई-झगड़ा पर करने पर उतर आते हैं। उन लोगों ने सोमवार को भी एक निर्माणाधीन घर में लगे सबमरसिबल पंप चुराई थी। मंगलवार को फिर तीन युवक चोरी करने आए थे। जिन्हें पकड़ कर गायत्री नगर के लोगों ने पुलिस को सौंप दिया था, उसी के बाद गायत्री नगर से सटे दूसरे मुहल्ले के लोग आ गए और पत्थरबाजी, मारपीट, लूटपाट और आगजनी करने लगे। अब स्थानीय लोगों की मांग है कि वहां की स्थिति जैसी है, उसे देखते हुए स्थायी टीओपी होना जरूरी है, ताकि चोरी करने वाले असामाजिक तत्वों पर काबू पाया जा सके। 

COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543