--Advertisement--

सियासत / रांची-टाटा हाईवे का नाम अब भाजपा हड्डी तोड़ एनएच 33



कांग्रेस पार्टी ने रांची-जमशेदपुर एनएच का नाम बदलकर भाजपा हड्डी तोड़ एनएच 33कर दिया। कांग्रेस पार्टी ने रांची-जमशेदपुर एनएच का नाम बदलकर भाजपा हड्डी तोड़ एनएच 33कर दिया।
  • ग्रामीणों के साथ सभा कर पूजा पाठ भी किया गया, इसके बाद नए नाम का बोर्ड लगाया गया।
Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 08:03 PM IST

रांची.   कांग्रेस पार्टी ने रविवार को रांची-जमशेदपुर एनएच का नाम बदलकर भाजपा हड्डी तोड़ एनएच 33कर दिया। रांची के नामकुम समेत जमशेदपुर तक छह स्थानों पर अलग-अलग कांग्रेस के सीनियर लीडरों ने रांची-टाटा एनएच का नया नाम दिया। इसके लिए ग्रामीणों के साथ सभा कर पूजा पाठ भी किया गया। इसके बाद नए नाम का बोर्ड लगाया गया। रांची के नामकुम में प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने नए नाम का बोर्ड लगाया और सभा भी की। जमशेदपुर के पारडीह में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार स्वयं इस कार्यक्रम में मौजूद थे। इसके साथ बुंडू में कालीचरण मुंडा, शशि भूषण राय, सुरेश बैठा, बहरागोड़ा में रामाश्रय प्रसाद, घाटशिला में राहुल आदित्य और चौका में देवेंद्र नाथ चांपिया अौर छोटे राय किस्कू ने इसी तरह के नामकरण कार्यक्रम में शामिल हुए।

 

रामपुर में नामकरण कार्यक्रम हुआ
रांची जिले में खिजरी विधानसभा क्षेत्र के रामपुर में नामकरण कार्यक्रम हुआ। इसमें मुख्य अतिथि के रूप पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सह मुख्यालय प्रभारी राजीव रंजन प्रसाद उपस्थित हुए। नामकरण कार्यक्रम की अध्यक्षता नामकुम प्रखंड अध्यक्ष अनिल वैद्य ने किया तथा संचालन राजेश कच्छप ने किया । कार्यक्रम में मुख्य रूप से पार्टी नेता अमूल्य नीरज खलखो, जिलाध्यक्ष सुरेश बैठा, सतीश पॉल  मुंजनी , अनिल वैद्य, पंचू तिर्की, किरण सांगा, विधानसभा प्रभारी शाहबाज़ अहमद , पूर्व जिलापरिषद अध्यक्षा सुंदरी तिर्की , लाल काली शाहदेव, सिलाश टूटी, रामदेव सिंह भी मौजूद थे।

 

उन्नत सड़कें समृद्ध झारखंड एनएच 33 के मामले में सिर्फ जुमला बन कर रह गया
पूरे पारंपरिक विधि विधान के साथ पाहन पूजा के उपरांत रामपुर पेट्रोल पंप के समक्ष भाजपा हड्डितोड़ हाईवे 33 का बोर्ड स्थापित किया गया। बोर्ड का अनावरण कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने किया। इसके पश्चात आम सभा भी हुई, जिसमें ग्रामीणों को संबोधित करते हुए प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस पार्टी एक सजग राजनीति विपक्ष की भूमिका का निर्वहन कर रही है। उन्होंने भाजपानीत संवेदनहीन रघुवर सरकार की आंखे खोलने के लिए नामकरण दिवस का कार्यक्रम किया जा रहा है। राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि रघुवर सरकार सिर्फ घोषणावीर सरकार बनकर रह गयी है। एनएच-33 सड़क के दुर्घटना के आंकड़े इस बात की गवाही दे रहे हैं। सैकड़ों जानें हजारों दुर्घटनाओं की जिम्मेवार राज्य की रघुवर सरकार है। संवेदनहींनता की पराकाष्ठा कही जा सकती है कि उच्च न्यायालय के स्वतः संज्ञान लेने के बावजूद आजतक सड़क निर्माणकार्य पूरा नहीं हुआ है। सरकार विकास के दावे करते थकती नहीं, उन्नत सड़कें समृद्ध झारखंड एनएच 33 के मामले में सिर्फ जुमला बन कर रह गया है।
 

--Advertisement--