--Advertisement--

रांची / रघुवर का हाथ थामकर उठे टाटा, मुख्यमंत्री कभी उन्हीं की कंपनी में थे मजदूर

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 10:47 AM IST


कैंसर अस्पताल के शिलान्यास के मौके पर मुख्यमंत्री रघुवरदास और टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन रतन टाटा। कैंसर अस्पताल के शिलान्यास के मौके पर मुख्यमंत्री रघुवरदास और टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन रतन टाटा।
रतन टाटा और मुख्यमंत्री दास। रतन टाटा और मुख्यमंत्री दास।
मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचे टाटा। मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचे टाटा।
X
कैंसर अस्पताल के शिलान्यास के मौके पर मुख्यमंत्री रघुवरदास और टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन रतन टाटा।कैंसर अस्पताल के शिलान्यास के मौके पर मुख्यमंत्री रघुवरदास और टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन रतन टाटा।
रतन टाटा और मुख्यमंत्री दास।रतन टाटा और मुख्यमंत्री दास।
मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचे टाटा।मुख्यमंत्री आवास पर पहुंचे टाटा।

  • कैंसर हॉस्पिटल के शिलान्यास कार्यक्रम में शामिल हुए रतन टाटा 
  • टाटा ने कहा कि अब कैंसर के इलाज के लिए यहां के लोगों को बाहर नहीं जाना पड़ेगा

रांची.   मुख्यमंत्री रघुवर दास और टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन रतन टाटा ने शनिवार को कदमा (कांके) में रांची कैंसर हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर का शिलान्यास किया। मंच पर रतन टाटा और रघुवर पास-पास बैठे थे। 80 साल के टाटा को स्पीच देने के लिए उठना था, लेकिन वह उठ नहीं पा रहे थे। तभी रघुवरदास ने हाथ बढ़ाया, जिसे थाम कर रतन टाटा खड़े हुए और पोडियम तक पहुंचे।

 

दरअसल, 1978 से 1995 तक मुख्यमंत्री रांची स्थित टाटा की फैक्ट्री में मजदूरी करते थे। इससे पहले, टाटा सीएम आवास जाकर पहले रघुवर दास से मिले और फिर कार्यक्रम स्थल पहुंचे।

 

हर कैंसर को रांची में ही टा-टा : रतन टाटा ने कहा कि दो साल में यह अस्पताल शुरू हो जाएगा। इसके बाद राज्य के कैंसर मरीजों को इलाज के लिए मुंबई या अन्य शहरों में नहीं जाना पड़ेगा।  मुख्यमंत्री ने कहा कि टाटा ट्रस्ट ने मोमेंटम झारखंड के दौरान कैंसर अस्पताल स्थापित करने की मांग को पूरा कर दिया है। आज इसकी नींव रखी गई है। रिनपास परिसर में आयोजित इस शिलान्यास समारोह के दौरान सरकार और टाटा ट्रस्ट के बीच एमओयू भी साइन किए गए।

Astrology
Click to listen..