गणतंत्र दिवस / राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने रांची में और दुमका में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने किया ध्वजारोहण

दुमका पुलिस लाइन ग्राउंड में परेड की सलामी लेते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन। दुमका पुलिस लाइन ग्राउंड में परेड की सलामी लेते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन।
मोरहाबादी मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने ध्वजारोहण किया। मोरहाबादी मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने ध्वजारोहण किया।
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दुमका के पुलिस लाइन मैदान में परेड की सलामी ली और निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दुमका के पुलिस लाइन मैदान में परेड की सलामी ली और निरीक्षण किया।
ध्वजारोहण के बाद लोगों को संबोधित करते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन। ध्वजारोहण के बाद लोगों को संबोधित करते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन।
X
दुमका पुलिस लाइन ग्राउंड में परेड की सलामी लेते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन।दुमका पुलिस लाइन ग्राउंड में परेड की सलामी लेते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन।
मोरहाबादी मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने ध्वजारोहण किया।मोरहाबादी मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने ध्वजारोहण किया।
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दुमका के पुलिस लाइन मैदान में परेड की सलामी ली और निरीक्षण किया।मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दुमका के पुलिस लाइन मैदान में परेड की सलामी ली और निरीक्षण किया।
ध्वजारोहण के बाद लोगों को संबोधित करते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन।ध्वजारोहण के बाद लोगों को संबोधित करते मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन।

  • मोरहाबादी में सुरक्षा के मद्देनजर 1000 अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती
  • 26 जनवरी को सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक बड़े वाहनों की नो-इंट्री

दैनिक भास्कर

Jan 26, 2020, 01:08 PM IST

रांची. 71वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर रविवार को रांची स्थित मोरहाबादी मैदान में राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने ध्वजारोहण किया। जबकि उपराजधानी दुमका के पुलिस लाइन मैदान में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने तिरंगा फहराया। रांची और दुमका में गणतंत्र दिवस समारोह को देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

सुदूरवर्ती क्षेत्र की स्वास्थ्य सेवाओं को प्राथमिकता दी जाएगी
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस अवसर पर कहा कि संथाल परगना की ऐतिहासिक भूमि से समस्त राज्य वासियों, देशवासियों को  गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई देता हूं। उन्होंने कहा- स्वास्थ्य के क्षेत्र में बहुत काम किया जाना है। सुदूरवर्ती क्षेत्र की स्वास्थ्य सेवाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। दवा और चिकित्सक वहां उपलब्ध हों यह सुनिश्चित किया जाएगा। राज्य के विकास के केंद्र में झारखंड की मूल चेतना के साथ समावेशी विकास की अवधारणा ही रहेगी। इस सोच के तहत जल, जंगल और जमीन की चेतना के साथ किसानों और खेतिहर मजदूरों के कल्याण के लिए सरकार दृढ़ता से खड़ी रहेगी।

झारखंड को देश का सबसे संपन्न बनाएं
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि युवाओं के सामने सबसे बड़ी चुनौती रोजगार की है। पंचायत, प्रखंड, जिला और राज्य स्तर पर जो रिक्तियां हैं, उन्हें भरे जाने का कार्य होगा। युवाओं को हुनरमंद बनाकर उन्हें स्वरोजगार व अन्य रोजगार से जोड़ना भी हमारा लक्ष्य होगा। हाल में हुए विधानसभा चुनाव में झारखंड की नई राह का आगाज हुआ है। हमारा दायित्व है कि हम मिलकर झारखंड को देश का सबसे संपन्न, समृद्ध और खुशहाल राज्य बनाएं। एक ऐसा राज्य जिसमें आदिवासियों, दलितों, गरीबों, वंचितों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों का संपूर्ण विकास हो।

विकास के कार्यक्रम चलाए जाएंगे
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि झारखंड में विकास की अपार संभावनाएं हैं। यहां के लोगों की आकांक्षाएं भी प्रबल है जन आकांक्षाओं पर आधारित विकास के लिए हमारी सरकार प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ट्राइबल सब प्लान आदिवासी आबादी की जरूरतों और उनकी आकांक्षाओं के अनुरूप रहेगा। आदिवासियों, दलितों, गरीबों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों की खुशहाली को ध्यान में रखते हुए विकास के कार्यक्रम चलाए जाएंगे।

सरकार ईकोटूरिज्म को विशेष रूप से बढ़ावा देगी
मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि जंगलों में रहने वाले आदिवासियों और मूल वासियों को संपूर्ण अधिकार दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यटक स्थलों के विकास से स्थानीय युवाओं को रोजगार मिलेगा। युवाओं का आर्थिक स्वावलंबन और क्षेत्र का आर्थिक विकास भी होगा। सरकार ईकोटूरिज्म को विशेष रूप से बढ़ावा देगी। रोजगार परक उद्योगों को बढ़ावा देना सरकार की प्राथमिकता है। लघु, कुटीर उद्योगों के उत्पादों के लिए बाजार आधारित व्यवस्था विकसित की जाएगी। छोटे उद्योगों के लाइसेंस और अनापत्ति प्रमाण पत्र की बाधाएं दूर की जाएंगी।

जमशेदपुर से कांटाटोली आने वाली बसों पर रोक नहीं
इधर, मोरहाबादी में होने वाले गणतंत्र दिवस समारोह को लेकर सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक बड़े वाहनों की नो-इंट्री रहेगी। जमशेदपुर से कांटाटोली बस स्टैंड आने वाली बसों को छोड़कर अन्य बड़े वाहन दुर्गा सोरेन चौक नामकुम में ही रुक जाएंगे।

8 जगहाें पर ड्राप गेट बनाए गए थे

रांची स्थित मोरहाबादी मैदान में 16 झांकियां निकाली गई। झारखंड जगुआर, खेल विभाग, कला संस्कृति विभाग, पेयजल एवं स्वच्व्छता विभाग, वन विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, ऊर्जा विभाग, स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग, मुख्यमंत्री लघु कुटीर एवं उद्यम विकास बोर्ड, महिला बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा विभाग, खादी बोर्ड और निर्वाचन विभाग की ओर से झांकियां रहीं। वहीं, मोरहाबादी में आयाेजन स्थल तक जाने के लिए 8 जगहाें पर ड्राप गेट बनाए गए थे। पासयुक्त वाहनाें काे ही ड्रॉप गेट से आगे जाने की अनुमति दी गई। वहीं, आयाेजन स्थल पर एक हजार अतिरिक्त पुलिस फाेर्स के जवानाें की तैनाती की गई है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना