पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Rioters Set Fire To The Bus, Only The Elderly Came And Saved The Crowd

उपद्रवी तो बस में आग लगा देते, भीड़ से ही कुछ बुजुर्ग आए और बचा लिया

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
घटना के वीडियो में उपद्रवी बस में तोड़फोड़ करते साफ दिख रहे हैं।
  • राजेंद्र चौक पर बस में तोड़फोड़ का वीडियो आया सामने, बोले प्रत्यक्षदर्शी
  • शुक्रवार की घटना में तोड़ी गई बस सीआईटी कॉलेज की थी

रांची. मॉब लिंचिंग के खिलाफ शुक्रवार को आयोजित सभा के बाद लौट रही भीड़ ने राजेंद्र चौक के समीप जिस बस में तोड़फोड़ की थी, उसका पहला वीडियो सामने आया है। पुलिस को अब तक इस बस का पता नहीं चल पाया है। हालांकि ये बस सीआईटी इंजीनियरिंग कॉलेज की थी। घटना के समय बस में बैठे एक छात्र ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि घटना के दिन कॉलेज के 50 छात्र अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा देकर डोरंडा कॉलेज से टाटीसिल्वे स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज लौट रहे थे। बस में छात्र मोबाइल पर गाना बजाते हंसी-ठिठोली कर रहे थे।


भीड़ से लगातार आवाज आ रही थी-बस में आग लगा दो
राजेंद्र चौक के समीप पहुंचने पर एक भीड़ ने बस को रोककर साइड में लगाने को कहा। भीड़ में शामिल कुछ लोगों ने बस के शीशे तोड़ने शुरू कर दिए। ड्राइवर को भी पीटा। बस में बैठे कुछ छात्रों ने जब ये आवाज लगाई कि वे भी उसी समुदाय विशेष से हैं तो भीड़ में शामिल लोगों ने उन छात्रों को नीचे उतार लिया। भीड़ से लगातार आवाज आ रही थी-मार दो, बस में आग लगा दो। किसी ने बस के भीतर पेट्रोल फेंका। तभी भीड़ में शामिल कुछ बुजुर्ग आगे आए और उपद्रवियों को रोका। कहा-कोई गलत काम नहीं करेगा। कोई आग नहीं लगाएगा। इन्हीं बुजुर्गों ने बस को वहां से निकलवाया।

 

छात्रों ने कॉलेज प्रबंधन को बताया, पुलिस को सूचना नहीं दी
घटना में घायल विद्यार्थियाें का आराेप है कि उन लोगों ने तुरंत घटना की जानकारी फाेन कर काॅलेज प्रबंधन काे दी लेकिन इसके बाद भी किसी ने सुध नहीं ली। घटना के अगले दिन रजिस्ट्रार मनीष नाथ हाॅस्टल पहुंचे और विद्यार्थियाें से घटना की जानकारी ली। हालांकि कॉलेज प्रबंधन ने सूचना पुलिस को नहीं दी। घटना के बाद से पुलिस लगातार बस की तलाश कर रही है। हटिया डीएसपी प्रभात रंजन बरवार ने बताया कि बस के बारे में सीसीटीवी फुटेज से जानकारी जुटाने का प्रयास किया जा रहा है। फुटेज में स्पष्ट कुछ नहीं दिख रहा है। पुलिस ने इस मामले में 8 नामजद समेत 200 अज्ञात पर केस दर्ज किया है।

 

घायल छात्र बोले- सीएम से मिलेंगे
घायल छात्रों का कहना है कि घटना के समय वहां पुलिस की दो गाड़ियां मौजूद थीं, मगर उपद्रवियों को देख पुलिस भी पीछे हट गई। छात्रों का कहना है कि वे इस विषय में जल्द ही मुख्यमंत्री रघुवर दास से मिल शिकायत करेंगे। उधर, सीएम ने एक न्यूज एजेंसी को दिए साक्षात्कार में कहा है कि राज्य सरकार किसी भी तरह की अराजकता बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने सरायकेला में मॉब लिंचिंग की घटना की निंदा करते हुए कहा कि किसी को भी कानून अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार सरायकेला की घटना के दोषियों को सजा दिलवा कर ही रहेगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें