चारा घोटाला / 14 महीने में तीसरी बार लालू यादव की जमानत याचिका खारिज, इस बार दुमका कोषागार मामले में मांगी थी बेल

लालू यादव। (फाइल फोटो) लालू यादव। (फाइल फोटो)
X
लालू यादव। (फाइल फोटो)लालू यादव। (फाइल फोटो)

  • लालू ने चारा घाेटाले से जुड़े दुमका कोषागार से अवैध तौर पर धन निकासी मामले में जमानत मांगी थी
  • देवघर काेषागार से अवैध निकासी मामले में उन्हें जुलाई में ही जमानत मिल चुकी है

दैनिक भास्कर

Dec 06, 2019, 05:18 PM IST

रांची. झारखंड हाईकाेर्ट से लालू यादव को झटका लगा है। लालू यादव की जमानत याचिका पर शुक्रवार काे सुनवाई हुई। जस्टिस अपरेश सिंह की अदालत ने लालू की जमानत याचिका को खारिज कर दिया। चारा घाेटाले से जुड़े दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में लालू यादव ने जमानत मांगी थी। लालू की ओर से बीमारी का हवाला देकर याचिका दाखिल की गई थी। 14 महीने में तीसरी बार लालू की जमानत याचिका खारिज हुई है।

23 दिसम्बर 2017 को देवघर कोषागार से 84.53 लाख रुपए की अवैध निकासी के मामले में उन्हें साढ़े तीन साल की सजा सुनाई गई थी। 24 मार्च 2018 को दुमका कोषागार से 3.13 करोड़ रुपए की अवैध निकासी के मामले में 2 अलग-अलग धाराओं में लालू को 7-7 साल की सजा सुनाई गई, जबकि 60 लाख जुर्माना भी लगाया। 3 अक्टूबर 2013 में चाईबासा कोषागार से अवैध तरीके से 37.7 करोड़ और 33.67 करोड़ रुपए की अवैध निकासी के मामले में पांच-पांच साल की सजा सुनाई गई है। लालू की यह तीनों सजा एक साथ चल रही है।

17 मार्च 2018 को उनकी तबीयत बिगड़ने पर पहले रिम्स और फिर दिल्ली एम्स में भर्ती किया गया। कोर्ट ने उन्हें 11 मई को इलाज के लिए छह हफ्ते की जमानत मंजूर की थी। इसे बढ़ाकर 14 और फिर 27 अगस्त तक किया। कोर्ट ने इसके बाद 30 अगस्त को लालू को कोर्ट में सरेंडर करने का निर्देश दिया था। इसके बाद से लालू रिम्स में भर्ती हैं। जनवरी 2019 में हाईकोर्ट ने जमानत देने इन्कार कर दिया था। 10 अप्रैल 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने जमानत याचिका खारिज की थी। अब तीसरी बार जमानत याचिका खारिज हुई।

इससे पहले देवघर काेषागार से अवैध निकासी मामले में उन्हें जुलाई में ही जमानत मिल चुकी है। याचिका में अनुराेध किया है कि सजा की अवधि का आधा से अधिक समय जेल में बीत चुका है। लालू को चारा घोटाला के देवघर कोषागार से अवैध निकासी मामले में सीबीआई की विशेष अदालत ने 23 दिसम्बर 2017 को दाेषी पाकर 3.5 साल की सजा सुनाई थी।

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना