झारखंड / रिम्स में भर्ती राजद सुप्रीमो से मुंगेर विधायक और दो राजद नेताओं ने की मुलाकात, कोरोनावायरस को लेकर लालू को भीड़ से दूर रहने की नसीहत

लालू यादव। (फाइल फोटो) लालू यादव। (फाइल फोटो)
X
लालू यादव। (फाइल फोटो)लालू यादव। (फाइल फोटो)

  • डॉक्टर उमेश प्रसाद ने कहा- लालू को लोगों से मिलना कम करना होगा, वार्ड में टहलने से कोई खतरा नहीं

दैनिक भास्कर

Mar 08, 2020, 10:33 AM IST

रांची. चारा घोटाले में सजायाफ्ता रिम्स में इलाजरत लालू यादव से मुलाकात के लिए शनिवार को प्रशंसकाें का पूरे दिन जमावड़ा लगा रहा। बिहार से आए कई प्रशंसक खासतौर पर उनके लिए अपने साथ फल-सब्जी, ड्राई फ्रूट, चने की कचरी सहित कई खाने की वस्तुएं लेकर आए। इस दाैरान मुंगेर विधायक विजय कुमार, राजद नेता विनाेद श्रीवास्तव अाैर राजद नेता सैय्यद फैसल अली ने लालू से मुलाकात की।

विधायक विजय कुमार ने कहा लालू प्रसाद से हमारा पुराना रिश्ता है। 1998 में लालू जी के आशीर्वाद से वे सांसद बने थे। बिहार में होनेवाले चुनाव के बारे में उन्होंने कहा कि इस बार जनता नीतीश कुमार की सरकार को उखाड़ फेंकेगी। फिर से गठबंधन की सरकार बनेगी। थर्ड फ्रंट के मसले काे लेकर उन्हाेंने कहा कि हम सभी लोग एकजुट हैं। 

होली बाद एम्स के किडनी रोग विशेषज्ञ करेंगे लालू की जांच
रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद का इलाज कर रहे डाॅ उमेश प्रसाद ने उनका स्वास्थ्य स्थिर बताया है। मेडिकल बुलेटिन जारी करते हुए कहा कि होली के बाद एम्स दिल्ली के किडनी रोग विशेषज्ञ लालू प्रसाद की जांच करेंगे। वहीं हाेली के दिन लालू के भाेजन के बारे में उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद के घर हाेलिका दहन के दिन कचरी (हरा चना) के पकाैड़े अाैर हाेली के दिन पकवान खाने की परंपरा है। एेसे में लालू प्रसाद परंपरा काे निभाते हुए पकाैड़े अाैर पकवान खा सकते हैं। यह उनके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक नहीं हाेगा। लेकिन मांस-मछली पर मनाही है।

उधर, लालू प्रसाद यादव काे काेराेनावायरस से बचने के लिए डॉक्टर उमेश प्रसाद ने भीड़भाड़ से दूर रहने की नसीहत दी है। उन्हाेंने बताया कि लालू प्रसाद से मिलने के लिए अक्सर लाेगाें का तांता लगा रहता है। उनकाे अधिक लाेगाें से मिलना कम करना हाेगा। रही बात वार्ड में टहलने की ताे इससे उन्हें काेई खतरा नहीं है।

किडनी मरीज लालू का इलाज रिम्स में होगा, एम्स नहीं जाएंगे
उधर, रिम्स मेडिकल बोर्ड ने तय किया है कि चारा घोटाले में सजायाफ्ता बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद का इलाज रिम्स में किया जाएगा। उन्हें इलाज के लिए एम्स नहीं भेजा जाएगा। इससे पहले मेडिकल बोर्ड की आठ सदस्यीय टीम ने 26 फरवरी को लालू प्रसाद की हेल्थ रिपोर्ट की समीक्षा की और उनकी बीमारियों पर मंत्रणा की थी। रिम्स अधीक्षक डॉ. विवेक कश्यप ने बताया कि बाेर्ड ने यह भी तय किया है कि डाॅ. उमेश प्रसाद ही लालू का इलाज करते रहेंगे। चूंकि, लालू प्रसाद किडनी के मरीज हैं। इसलिए उनके इलाज के लिए प्रसिद्ध नेफ्राेलाॅजिस्ट काे नियुक्त किया जाएगा।

बता दें कि बिहार के चर्चित चारा घोटाले के तीन मामलो में लालू यादव सजा काट रहे हैं। लालू दिसंबर 2017 से रांची की बिरसा मुंडा जेल में बंद हैं। बीमार होने की वजह से उनका इलाज रिम्स के पेइंग वार्ड में उन्हें भर्ती कर किया जा रहा है। पिछले साल 17 मार्च को उनकी तबीयत बिगड़ने पर पहले रिम्स और फिर दिल्ली एम्स में भर्ती किया गया। कोर्ट ने उन्हें 11 मई को इलाज के लिए छह हफ्ते की जमानत मंजूर की थी। इसे बढ़ाकर 14 और फिर 27 अगस्त तक किया। कोर्ट ने इसके बाद 30 अगस्त को लालू को कोर्ट में सरेंडर करने का निर्देश दिया था। इसके बाद से लालू रिम्स में भर्ती हैं।

इन बीमारियों से जूझ रहे हैं लालू
अनियंत्रित डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट की बीमारी, क्रॉनिक किडनी डिजीज (स्टेज थ्री), फैटी लीवर, पेरियेनल इंफेक्शन, हाइपर यूरिसिमिया, किडनी स्टाेन, फैटी हेपेटाइटिस, प्रोस्टेट।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना