रोचक / ट्रेन छूटने पर यात्रियों ने किया हंगामा, मालगाड़ी के इंजन पर चढ़े, चालक ने ट्रेन ले जाने से किया इंकार



ट्रेन के इंजन पर बैठे पैसेंजर्स। ट्रेन के इंजन पर बैठे पैसेंजर्स।
X
ट्रेन के इंजन पर बैठे पैसेंजर्स।ट्रेन के इंजन पर बैठे पैसेंजर्स।

  • हंगामा के बाद काफी समझाने पर भी नहीं माने पैसेंजर्स, फिर कोडरमा से मंगवानी पड़ी चार अतिरिक्त कोच

Dainik Bhaskar

Nov 10, 2018, 06:25 PM IST

हजारीबाग. कोडरमा बरकाकाना वाया हजारीबाग रेलखण्ड पर रेलवे स्टेशन कटकमसांडी में शुक्रवार को भगदड़ की स्थिति उत्पन्न हो गई। बरकाकाना से कोडरमा जाने वाली ट्रेन लगभग 10 से 15 मिनट लेट रहती है परंतु शुक्रवार को बिल्कुल सही समय पर पहुंची। कटकमसांडी स्टेशन पर अपने निर्धारित समय पर ट्रेन के पहुंचने और स्टेशन पर निर्धारित ठहराव के बाद कोडरमा की ओर जाने के क्रम में कुछ यात्री ट्रेन पर चढ़ने में कामयाब हुए जबकि अधिकांश सवारी ट्रेन पर नहीं चढ़ पाए और सभी कटकमसांडी स्टेशन पर छूट गए।  

ट्रेन छूटी तो करने लगे हंगामा

  1. ट्रेन छूटने से सैकड़ों सवारी अपने गंतव्य स्थान पर नहीं जा सके। फिर वे हंगामा करने लगे। कुछ अंतराल के बाद हजारीबाग से कोयला लदा मालगाड़ी कटकमसांडी स्टेशन पर पहुंचा। छूटे हुए नाराज सवारी मालगाड़ी को आते देख ट्रेन की पटरी पर बैठ गए और अपने साथ लाए सामान व सब्जी की टोकरी ट्रेन की पटरी पर रख दिया। मालवाहक ट्रेन के चालक ने लोगों को पटरी पर बैठे हुए देख मालवाहक ट्रेन को रोक दिया। ट्रेन के रुकते ही सैकड़ों नाराज सवारियों में से कुछ सवारी ट्रेन के इंजन पर बैठ गए जबकि कुछ लोग ट्रेन के खाली रैक में चढ़ गए और अपनी-अपनी सब्जियों की टोकरी चढ़ा दिया। मालवाहक ट्रेन के चालक ने सवारियों के इस तरह से इंजन पर चढ़ जाने के कारण आगे ट्रेन में जाने से मना कर दिया और इसकी सूचना स्टेशन मास्टर तथा वरीय अधिकारियों को दी। 

  2. यात्रियों के लिए कोडरमा से मंगवाया चार अतिरिक्त कोच

    अधिकारियों एवं ट्रेन के जीआरपी ने स्थानीय मुखिया सरिता देवी को जानकारी देकर लोगों को समझाने बुझाने की अपील की और इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को भी दिया। इधर कटकमसांडी मुखिया प्रतिनिधि रिंकू रजक, सरिता देवी स्टेशन पर जाकर लोगों को समझाने बुझाने का प्रयास किया लेकिन नाराज यात्री समझने को तैयार नहीं थे। अधिकारियों ने बल प्रयोग कर ट्रेन के इंजन एवं मालवाहक में बैठे यात्रियों को ट्रेन से उतारने का प्रयास भी किया फिर भी लोग नही उतरे अंतिम में स्टेशन मास्टर ने चार अतिरिक्त यात्री कोच को कोडरमा से मंगवाया तब कहीं जाकर मालवाहक ट्रेन अपने गंतव्य स्थान की ओर रवाना हुआ। ट्रेन के कई घंटों तक खड़ा होने एवं यात्रियों के कारण  स्टेशन पर लगभग एक घंटे तक भगदड़ की स्थिति बनी रही।

  3. पैसेंजर्स का था कहना

    पैसेंजर्स का कहना है कि कोडरमा, बरही, पदमा, हजारीबाग से आने वाले कई व्यापारी कटकमसांडी स्टेशन पर सब्जी खरीदने के बाद ट्रेन के डिब्बे व दरवाजे पर टोकरी रख देते हैं जिसके कारण उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि ट्रेन में साथ चल रहे जीआरपी के जवान न तो इन सब्जी व्यापारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई करते हैं और ना ही इस स्थिति पर लगाम लगाने के लिए कोई पहल करते हैं। उन्होंने मांग की कि रेलवे कटकमसांडी में सब्जी के लिए एक अलग से लगेज कंपार्टमेंट बनाएं जिसमें व्यापारी सामानों की ढुलाई कर सकें। इससे न केवल रेलवे का राजस्व बढ़ेगा बल्कि आम यात्रियों को भी रोज दिन की होने वाली परेशानियों से मुक्ति मिलेगी। 

COMMENT