Hindi News »Jharkhand »Ranchi »News» Shot And Burned In The Car Fire

पुरानी दुश्मनी का हुआ खूनी अंत, पहले मारी गोली फिर लाश को उसकी ही गाड़ी में रखकर जला डाला

तीन बच्चों के पिता की छवि क्षेत्र में दबंग किस्म की थी।

Bhaskar News | Last Modified - Apr 16, 2018, 03:44 AM IST

    • राजू महतो की जली बोलेरो गाड़ी, जो नारायणी घाटी में मिली।

      तमाड़(रांची).इलाके में चाैकीदार की शनिवार रात 11 बजे गाेेली मार कर हत्या कर दी अाैर उनकी ही बाेलेराे गाड़ी (जेएच 01 बीक्यू 6340) में लादकर ले गए।उसके साथी संजय काे भी धारदार हथियार से मार कर घायल कर दिया। राजू का एक अन्य साथी भंजन हजाम किसी तरह जान बचा कर भागा। स्थानीय लोगों का कहना है कि राजू महतो की गोली मार कर हत्या करने के बाद अपराधियों ने उसका शव उसी की बोलेरो में अनगड़ा थाना क्षेत्र की नारायण घाटी में जला दिया। हालांकि, जलाया गया शव राजू महतो का ही है इस पर पुलिस कुछ कहने से बच रही है। पत्नी और बच्चों का हुआ बुरा हाल...

      - मृतक का नाम राजू महताे (32) था जिसके तीन बच्चे थे।

      - पुराने विवाद के कारण हुई इस घटना की सूचना मिलते ही राजू की पत्नी उषा देवी सदमे में गुमसुम हो गई।

      - राजू की 13 साल की पुत्री नेहा, पुत्र कुलदीप अाैर देवकुमार का राे-राेकर बुरा हाल था।

      - पिता माेहन महताे का पहले ही निधन हाे चुका है। राजू की मां बेटे की हत्या होने की सूचना मिलते घटनास्थल की अाेर बदहवास दौड़ने लगी।

      चौकीदार हत्याकांड में पांच के खिलाफ केस, एक हिरासत में

      - जिला और राज्य की फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल पर जाकर कई सबूत एकत्र किए। शव को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया गया है। कुछ लोग मामले को उग्रवादी घटना से जोड़कर देख रहे हैं।

      - चौकीदार राजू महतो की गोली मारकर हत्या करने और उसकी बोलेरो के साथ शव को जलाने की घटना को लेकर रविवार की देर शाम तमाड़ थाने में नामजद प्राथमिकी दर्ज कर ली गई।

      - इनमे गांव के ही पुल्केश्वर सत्कर्मकार, पद्मदेव सत्कर्मकार राजू सत्कर्मकार राजकुमार व एक अन्य शामिल है। प्राथमिकी राजू महतो की पत्नी उषा देवी ने कराई।

      - पुलिस ने इनमें से एक अभियुक्त पद्मदेव को गिरफ्तार कर लिया है। परिजनों ने राजू महतो के चालक पर भी संदेह जताया है।

      तीन बच्चों के पिता राजू की छवि क्षेत्र में दबंग किस्म की

      - राजू महतो तमाड़ थाना के बीट सेरेंगडीह मिटठूडीह का चौकीदार था। शादीशुदा तीन बच्चों का पिता राजू की छवि क्षेत्र में दबंग किस्म की रही है।

      - शनिवार रात 11 बजे राजू अपनी बोलेरो (जेएच01 बीक्यू 6340) पर अपने दो अन्य साथियों संजय राज कर्मकार और भंजन हजाम के साथ गांव में शराब पीने पहुंचा था।

      - राजू बुंडू से अपनी बोलेरो बना कर लौटा था। इसी बीच पहले से वहां कुलकेश्वर कर्मकार अपने पांच-सात अन्य साथियों के साथ शराब पी रहा था। इसी क्रम में दोनों पक्षों के बीच कहासुनी हुई और विवाद बढ़ गया।

      - विवाद के क्रम में ही राजू पर किसी ने गोली चला दी। राजू को बचाने आए संजय कर्मकार के उपर भी धारदार हथियार से हमला किया गया। इधर, भंजन हजाम माैके से फरार हो गया और राजू के घरवालों की इसकी जानकारी दी। - राजू के घरवाले थाने की सूचना देकर उसकी खोजबीन करने लगे। बताया जाता है कि गोली लगने से राजू की मौत हो गई थी। हत्यारे उसे उसी की बोलेरो गाड़ी में लादकर हराडीह-राहे होते हुए राहे-हाहे पथ पर काेंतोटोली से आगे नारायण घाटी में ले आए।

      - यहां पर राजू का शव वाहन सहित जला दिया गया। रात होने के कारण इस रोड पर कोई आवाजाही नहीं होती है। सुबह में लोगों की इस घटना की जानकारी हुई।

      - गाड़ी पूरी तरह जल गई थी। शव की सिर्फ हड्डी बची थी। इस कारण शव की पहचान करने में परेशानी हो रही है।

    • पुरानी दुश्मनी का हुआ खूनी अंत, पहले मारी गोली फिर लाश को उसकी ही गाड़ी में रखकर जला डाला
      +2और स्लाइड देखें
      चौकीदार की पत्नी और परिजन।
    • पुरानी दुश्मनी का हुआ खूनी अंत, पहले मारी गोली फिर लाश को उसकी ही गाड़ी में रखकर जला डाला
      +2और स्लाइड देखें
      मृतक राजू महतो।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From News

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×