फैसला / पारा शिक्षक हत्याकांड में पीएलएफआई उग्रवादी को उम्रकैद, 98 हजार रुपए जुर्माना



सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।
X
सिम्बॉलिक इमेज।सिम्बॉलिक इमेज।

  • इस मामले में एनोस एक्का और महेश सिंह को अदालत सुना चुकी है उम्रकैद की सजा

Dainik Bhaskar

Sep 16, 2019, 07:04 PM IST

सिमडेगा. जिला एवं अपर सत्र न्यायाधीश एनके श्रीवास्तव की अदालत ने बहुचर्चित पारा शिक्षक मनोज कुमार हत्याकांड के एक अभियुक्त को आजीवन कारावास और 98 हजार रूपए जुर्माने की सजा सुनाई। बताया गया कि गत 26 सितंबर 2014 को पीएलएफआई उग्रवादियों ने प्राथमिक विद्यालय जटाटांड के पारा शिक्षक मनोज कुमार की हत्या कर दी थी। 

 

कुछ दिनों पूर्व पुलिस ने इसे किया था गिरफ्तार
इस मामले में कोलेबिरा के तत्कालीन विधायक व पूर्व मंत्री एनोस एक्का सहित पीएलएफआई उग्रवादी कलेश्वर महतो और महेश सिंह के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। दर्ज प्राथमिकी के आधार पर इस मामले की सुनवाई करते हुए एडीजे श्रीवास्तव की अदालत ने कलेश्वर महतो को दोषी पाते हुए कारावास और जुर्माने की सजा सुनाई। इसी मामले में एनोस एक्का और महेश सिंह के खिलाफ अदालत उम्रकैद की सजा सुना चुकी है। फिलहाल एनोस होटवार जेल में हैं वहीं महेश उच्च न्यायालय से जमानत पर हैं। लोक अभियोजक महेंद्र सिंह ने कहा कि एडीजे श्रीवास्तव की अदालत ने एनोस और महेश को सजा सुनाई थी। इसी मामले में यह फरार था। कुछ दिनाें पूर्व पुलिस ने इसे गिरफ्तार कर इसे जेल भेजा था।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना