• Hindi News
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • News
  • Ranchi News somnath from ranchi studied management and selected organic farm nursery as startup doing work for environmental awareness

रांची के सोमनाथ ने मैनेजमेंट की पढ़ाई कर ऑर्गेनिक फार्म-नर्सरी को स्टार्टअप के रूप में चुना, पर्यावरण जागरूकता के लिए भी कर रहे काम

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:46 AM IST

Ranchi News - आज हर युवा अच्छी नौकरी के लिए कंपीटिशन की दौड़ में बेतहाशा भाग रहा है। वहीं कुछ ऐसे भी युवा हैं, जो अपनी अलग सोच से...

Ranchi News - somnath from ranchi studied management and selected organic farm nursery as startup doing work for environmental awareness
आज हर युवा अच्छी नौकरी के लिए कंपीटिशन की दौड़ में बेतहाशा भाग रहा है। वहीं कुछ ऐसे भी युवा हैं, जो अपनी अलग सोच से अपनी अलग राह बना रहे हैं। इनका नाम है-सोमनाथ पांडेय, जो रांची में ही पढ़े-लिखे हैं। इन्होंने अपने पर्यावरण व मिट्टी के प्यार को स्टार्टअप का रूप दिया ऑर्गेनिक फार्म व ऑर्गेनिक नर्सरी के साथ। जहां बिना केमिकल के इस्तेमाल किए गोबर व पारंपरिक तरीके से नर्सरी को डेवलप करने के साथ ही खेती भी की जा रही है। यह फार्म प्लांडू में लगभग दो एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है, जहां कई प्रकार के फल-फूल, सब्जी, दलहन, गेहूं आदि को उगाया जा रहा है।

सोमनाथ पांडेय की स्कूलिंग सरस्वती शिशु विद्या मंदिर, चुटिया से हुई है। इसके बाद वे मुंबई चले गए। उन्होंने मुंबई यूनिवर्सिटी से बैचलर्स इन मैनेजमेंट स्टडी में पढ़ाई पूरी की। कई बड़ी कंपनियों में काम भी किया। यूएस की एक कंपनी से भी उन्हें ऑफर मिला, लेकिन इन्होंने उसे तव्वजो नहीं दी। बताया कि वे अक्सर पर्यावरण में हो रहे बदलाव के कारण हो रही परेशानी से जूझ रहे लोगों को देखते थे। जल संकट की समस्या कई राज्यों में देखी। ऐसे में उन्होंने सोचा कि ऐसा काम करेंगे जिससे पैसे भी आएं और पर्यावरण को भी संरक्षित किया जा सके। झारखंड की प्राकृतिक संपदा-आबो-हवा और मिट्टी इन्हें लगातार अपनी ओर आकर्षित कर रही थी। आखिरकार इन्होंने अपने मन की सुनी और रांची आ गए। आर्गेनिक बागवानी के क्षेत्र में रिसर्च करना शुरू किया, फिर इन्होंने रासायनिक चकाचौंध से दूर आर्गेनिक बागवानी में काम की शुरुआत की।

लोगों को आर्गेनिक खेती के लिए कर रहे अवेयर

सोमनाथ ने बताया कि केमिकल की मदद से आजकल कम समय में ज्यादा फसल उपजाई जा रही है। लेकिन, यह मिट्टी की उर्वरता को क्षति पहुंचाता ही है, साथ ही पर्यावरण व लोगों की सेहत के लिए काफी नुकसानदेह है। सस्ते के चक्कर में लोग अपना ही बड़ा नुकसान कर रहे हैं। इससे बचने के लिए पारंपरिक तरीके से बने खाद जैसे गोबर, सब्जियों के छिलके आदि का प्रयोग किया जा सकता है। इसके लिए सोमनाथ आसपास के लोगों को जागरूक कर रहे हैं। वे लोगों को आर्गेनिक खेती करने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं

X
Ranchi News - somnath from ranchi studied management and selected organic farm nursery as startup doing work for environmental awareness
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543