गुमला / तेली समाज के अध्यक्ष बोले... एसटी दर्जा दें, नहीं तो वोट नहीं, सीएम का जवाब-धमकी न दें



तेली जतरा में बुजुर्ग महिला का हाथ पकड़कर नृत्य करते सीएम। तेली जतरा में बुजुर्ग महिला का हाथ पकड़कर नृत्य करते सीएम।
X
तेली जतरा में बुजुर्ग महिला का हाथ पकड़कर नृत्य करते सीएम।तेली जतरा में बुजुर्ग महिला का हाथ पकड़कर नृत्य करते सीएम।

  • 19वां वार्षिक तेली महाजतरा सह सामूहिक विवाह कार्यक्रम में पहुंचे मुख्यमंत्री  
  • सीएम का जवाब-धमकी न दें, हमारी सरकार झुकेगी नहीं

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 10:20 AM IST

गुमला. 19वें वार्षिक तेली महाजतरा सह सामूहिक विवाह में समाज के केंद्रीय अध्यक्ष उदासन नाग ने बुधवार को कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले एसटी दर्जा दें, नहीं तो हम वोट नहीं देंगे। इस पर बतौर मुख्य अतिथि वहां मौजूद सीएम रघुवर दास ने कहा कि धमकी न दें। लोकतंत्र में धमकी या दबाव से काम नहीं होता। इससे हमारी सरकार झुकने वाली नहीं है।

 

जो हक है, वह मिलेगा: सीएम
मुख्यमंत्री ने कहा- आपकी मांग वर्षों पुरानी है। इसे मैं 2004 से जान रहा हूं। लेकिन हर मांग को पूरा करने की एक प्रक्रिया होती है। आपकी मांग को कैबिनेट से पास कराकर भारत सरकार भेजेंगे। जो हक है, वह मिलेगा। किसी का अधिकार नहीं छीना जाएगा। लेकिन वोट नहीं देने की बात कहना लोकतंत्र का अपमान है। इसकी रक्षा के लिए लाखों लोगों ने कुर्बानी दी है। इस दौरान सीएम ने सामूहिक विवाह में नवविवाहित वर-वधु के सुखमय दांपत्य जीवन की कामना की।

 

अधर्म करने वाले जाएंगे होटवार जेल
सीएम ने कहा कि मैं हर धर्म का आदर करता हूं। पर कोई धर्म की आड़ में अधर्म करेगा, तो सरकार इसे बर्दाश्त नहीं करेगी। संस्कृति-परंपरा हमारी पहचान है। कुछ लोग इसे नष्ट करने में लगे हैं। दुष्प्रचार भी कर रहे है। ऐसे लोग सीधे होटवार जाएंगे।

 

समाज ने सीएम को सौंपा 3 सूत्री मांग पत्र

  • झारखंड के दक्षिणी छोटानागपुर प्रमंडल के रांची, लोहरदगा, गुमला, सिमडेगा, खूंटी जिला में निवास करने वाले जाति को एसटी सूची में शामिल करें।
  • तब तक समाज के सामाजिक, शैक्षणिक व आर्थिक विकास के लिए राज्य सरकार विशेष पैकेज दे।
  • रांची, लोहरदगा, गुमला, सिमडेगा, खूंटी में तृतीय-चतुर्थ वर्ग की सरकारी सेवा में पिछड़ी जाति के आरक्षण का अविलंब प्रावधान करें।
COMMENT